संदेश

अप्रैल, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

कोरोना महामारी से लड़ने की नसीहत दे रहा है रविंद्र सिंह ’ज्योति का गीत - डीएम जौनपुर

चित्र
जौनपुर।  कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के दौरान जनमानस को जागरूक करने के उद्देश्य से भोजपुरी गायक रवीन्द्र सिंह ज्योति के लॉकडाउन जनजागरण गीत का लोकार्पण जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने किया। इस मौके पर उपस्थित मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला , अपर जिलाधिकारी (वित्त राजस्व)  रामप्रकाश और मुख्य राजस्व अधिकारी डॉ सुनील कुमार वर्मा समेत कई अधिकारियों ने जन जागरण गीत की रिकार्डिंग को सुना और सराहना किया। इस अवसर  पर जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में रविंद्र सिंह ज्योति के जन जागरण गीत में जहां सोशल डिस्टेंसिंग बनाते हुए चौराहे बाजी न करने की सलाह दी गई है ,वही दुकान पर सामान खरीदते समय बरती जा रही सावधानी के बारे में चित्रण किया गया है। इस गीत के अंत में लोगों को निराश ना हो कर सकारात्मक ऊर्जा के साथ कोरोना से  लड़ाई लड़ने की नसीहत दी गई है। इस गीत की जितनी भी प्रशंसा की जाए वह कम है लोकार्पण के मौके पर जनजागरण गीत के गायक रवीन्द्र सिंह ‘ज्योति और संगीतकार जिग्नेश मौर्य ‘भ्रमर भी उपस्थित रहे। गीतकार  जेडी बहादुर  और मृत्युंजय सिंह सिप्पी  द्वारा लिखे गए इस गीत

प्रोफेसर राम नारायण विज्ञान संकाय के डीन बने

चित्र
जौनपुर । वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉ. राजाराम यादव ने बायोटेक्नोलॉजी विभाग के प्रोफेसर रामनारायण को विज्ञान संकाय का  संकायाध्यक्ष नियुक्त किया है। यह नियुक्ति चक्रानुक्रम और वरिष्ठता  के आधार पर की गई है। इनका कार्यकाल 3 वर्षों के लिए होगा। प्रो, रामनारायण विश्वविद्यालय में मशरूम उत्पादन केंद्र के भी प्रभारी हैं। संकायाध्यक्ष बनाए जाने पर विश्वविद्यालय के शिक्षक प्रो. ए.के. श्रीवास्तव, प्रो. देवराज, डा. प्रमोद कुमार यादव. डा. राजकुमार, डा. संतोष कुमार, डा मनीष कुमार गुप्ता, डा. विवेक कुमार पांडेय, सुशील कुमार, डा. प्रदीप कुमार सिंह आदि ने बधाई दी है।

समाज सेवी संस्थाओं और दानवीरो से पूरी हो रही है जरूरतमंदों की आवश्यकतायें

चित्र
    जौनपुर।  कोरोना संक्रमण के चलते लाक डाऊन के दौरान आज जरूरत मंदों के आवश्यकताओं की पूर्ति समाज सेवी  संगठनों एवं दानवीरो के सहयोग से पूरी हो रही है।  यहाँ तक कि गरीबों के पेट भरने का भी काम समाजसेवी संस्थाओं द्वारा लंच पैकेट फल आदि वितरित करते हुए किया जा रहा है। हर स्तर पर भोजन एवं खाद्यान के सडकों सुरक्षित रखने के लिए मास्क सेनेटाईजर आदि का भी विवरण किया जा रहा है । इस क्रम में नजर डाली जाए तो पूरे जनपद में कांग्रेस नेतृत्व के निर्देश पर कांग्रेस के कार्य कर्ता रसोई चला कर गरीबों का पेट भरने का काम कर रहे हैं।  नगर क्षेत्र स्थित कांग्रेस कार्यालय स्थित जोगियापुर पर जिलाध्यक्ष फैसल हसन तबरेज के देख रेख में कांग्रेस के कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी गण जब से लाक डाऊन शुरू हुआ है लगातार सांझी रसोई चला कर  5 सौ  लंच पैकेट का वितरण गरीबों में किया जा रहा है।  इसमें  धर्मेन्द्र निषाद, राकेश सिंह  डब्बू , अशोक साहू,विशाल सिंह हुकुम, सत्यवीर सिंह, आजम जैदी, मुकेश पाण्डेय, राणा सिंह,  इकबाल, राज कुमार भूमिका सराहनीय बतायी गयी है। अध्यक्ष ने कहा लाक डाऊन तक इसे चलाया जायेग

राहुल गांधी से बोले रघुराम राजन- भारत के लिए कोरोना एक बड़ा अवसर

चित्र
राहुल गांधी ने आज रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर डॉ. रघुराम राजन के साथ संवाद सीरीज के तहत कोरोना पर चर्चा करते हुए कई सवाल पूछे। नई दिल्ली: कोरोना वायरस को लेकर कांग्रेस ने एक नई मुहीम का आगाज किया है, जिसकी शुरुआत आज पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने की। इस मुहीम के तहत विश्व के प्रमुख विचारकों से बातचीत की जायेगी। इसी कड़ी में राहुल गांधी ने आज रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर डॉ. रघुराम राजन के साथ संवाद सीरीज के तहत कोरोना पर चर्चा की। राहुल और रघुराम राजन के बीच चर्चा: राहुल का सवाल:  वायरस के बीच अर्थव्यवस्था को लेकर काफी चिंता है। इन सब चुनौतियों से किस तरह निपटना है, इसको लेकर क्या राय है? रघुराम राजन का जवाब:  कोरोना को हराने के साथ-साथ हमें आम लोगों के रोजगार के बारे में सोचना होगा, इसके लिए वर्कप्लेस को सुरक्षित करना जरूरी है। राहुल का सवाल-  लॉकडाउन के बीच अर्थव्यवस्था को कैसे खोला जाए? रघुराम राजन का जवाब:  दूसरे लॉकडाउन को लागू करने का मतलब है कि आप खोलने को लेकर कोई सही तैयारी नहीं कर पाए। ऐसे में लोगों के मन में सवाल है कि क्या लॉकडाउन 3 भी आएगा। अगर हम सोचें कि शून्य के

लाक डाऊन:रेलवे में काम करने वाले श्रमिक अब भुखमरी के कगार पर, इन पर नजर डालें सरकार

चित्र
जौनपुर।  कोरोना वायरस के चलते देश में लाक डाउन की अवधि में रेल सेवा बंद पूर्ण रूप से रेलवे स्टेशनों पर सन्नाटा पसरा है। साथ ही स्टेशनों पर कार्यरत लाइसेंसियों एवं उनके वेंडरों, खाना नाश्ता बनाने वाले सहयोगियों एवं लेबरों कुलियों के समक्ष अब भुखमरी का संकट खड़ा हो गया है। ऐसे में लाइसेंस फीस एवं 18 प्रतिशत जीएसटी का भुगतान कर पाना असंभव हो गया है। अखिल भारतीय रेलवे खानपान लाइसेंसी वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय सचिव ने वेंडरों के लाइसेंस फीस एवं जीएसटी आदि को माफ करने की मांग की है। वेंडरों, कामगारों के समक्ष रोटी का संकट लाकडाउन की अवधि में पूर्ण रूप से जौनपुर  जंक्शन व अन्य रेलवे स्टेशनों जैसे सिटी रेलवे स्टेशन,शाहगंज , बदलापुर, जलालगंज, जफराबाद, केराकत, आदि जिले के रेलवे स्टेशन सहित वाराणसी, सूल्तानपुर , मिर्जापुर, गोरखपुर आदि पूरे देश के रेलवे स्टेशनो, के लूप लाइन और मेन लाइन के अन्य सभी जोनलों एवं मंडलों के रेलवे स्टेशनों तथा लखनऊ रेलवे स्टेशन तथा अन्य महानगरीय एवं उप नगरीय रेलवे स्टेशनों पर पूर्ण बंदी हो जाने के कारण बड़ी संख्या में लाइसेंसियों वेंडरों तथा अन्य कामगारों

17 की जांच रिपोर्ट आयी सभी की रिपोर्ट निगेटिव आ गयी है

चित्र
   जौनपुर। सरकारी सूचना के अनुसार आज  17 सैंपल की जांच रिपोर्ट  आई है सभी नेगेटिव है ।एक दिन पूर्व  तीन लोगों का पॉजिटिव आया था, दो करनपुर गांव बदलापुर तहसील के हैं तथा एक ओईना गांव केराकत तहसील का है।आज 49 अन्य संदिग्धों के सैंपल लिए गए तथा अब तक जनपद  जौनपुर में ऐसे  793 लोगों को चिन्हित किया गया जो संदिग्ध थे जिनमे क्रोना जैसे लक्षण थे।कल सुबह 3:00 बजे से सुबह 7:00 बजे तक मंडी समिति में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व मुख्य चिकित्सा अधीक्षक व अन्य डॉक्टरों की टीम ने मंडी में आने वाले सभी लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग की लगभग 6450 लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग हुई ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं पाया गया जिसमें क्रोना जैसे कोई लक्षण हो और उसका टेंपरेचर बढ़ा हुआ हो। परसो तीन केमिस्ट की दुकानों के मालिकों के  व कर्मचारियों के तथा 15 सब्जी वालों के भी रैंडम तरीके से सैंपल लिए गए। आज मर जाऊं शेल्टर होम में मुंबई से आए हुए 38 लोगों के सैंपल भी लिए गए।आज तक 692 सैंपल के रिजल्ट आ चुके हैं।अब 101 लोगों के नमूनों की जांच हो कर के आना शेष है जिसमें आज के 49 शामिल है।  १५ अप्रैल को एक व्यक्ति शाने

ग्राम प्रधान संगठन और डीएम के बीच छिड़ी जंग पर जिले के मजदूरों सहित प्रबुद्ध जनो की है नजर

चित्र
        जौनपुर। कोविड 19वैश्विक महामारी के चलते देश में लाक डाऊन के चलते गरीब मजदूरो के समक्ष उत्पन्न आर्थिक संकट से निपटने के लिए जहां प्रदेश की सरकार मनरेगा योजना को गति देकर मजदूरों को काम देकर उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के प्रयास में लगी है वहीं पर जनपद जौनपुर में जिला प्रशासन के शीर्ष अधिकारी एवं प्रधान संगठन के जिलाध्यक्ष के बीच ग्राम प्रधानो के मामलो को लेकर तनी तना के कारण सरकार के सपनों पर पानी फेर सकता है ऐसी संभावनाएं बलवती होती जा रही है।             (इस पैड को फर्जी बताया जा रहा है) यहाँ बतादे कि वर्तमान जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह  जनपद में जिलाधिकारी का  कार्यभार ग्रहण करने के बाद से अब तक लाक डाऊन के दौरान भी  लगभग 8 ग्राम प्रधानो को गरीब  मजदूरों की शिकायत पर बगैर जांच कराये ही मुकदमा दर्ज कराके जेल भेज दिये है। इस मामले को लेकर  राष्ट्रीय पंचायती राज ग्राम प्रधान संगठन के जिलाध्यक्ष मनोज कुमार यादव ने जनपद में अपने साथ सभी 1749 ग्राम प्रधानो को साथ होने का दावा करते हुए एलान कर दिया कि जब तक दिनेशकुमार सिंह जनपद में जिलाधिकारी पद पर आसीन

दुर्घटना में एक परिवार के चार सहित पांच की मौत

चित्र
     जौनपुर। मुहावरा है कि होनी हो कर ही रहती है उसे कोई टाल नहीं सकता है, वही पर यह भी सत्य है कि हिल्ले रोजी बहाने मौत जी हां कुछ इसी तरह का मुहावरा आज बरसठी थाना क्षेत्र के सरसरा गांव में चरितार्थ हो गया है। जिसके चलते एक परिवार के चार लोगों को काल ने अपने ग्रास में  ले लिया है। घटना से पूरे गांव ही नहीं इलाके में मातमी सन्नाटा छाया हुआ है । मिली  जानकारी के अनुसार थाना बरसठी क्षेत्र स्थित सरसरा गांव में ग्राम वासी नन्हकू सरोज के परिजन अपने पडोसी के मकान की दीवार से सटा कर अपने घर की दीवार बनाने के लिए नींव खोद रहे थे। एक दिन पहले हुई वर्षात के चलते दीवार में पानी जाने के चलते जर्जर हो गयी थी।  नींव की खुदाई के दौरान पड़ोसी की दीवार भर भरा कर गिर गयी  जिसमें नींव खोद रहे अखिलेश सरोज, उसकी बहन कपूरा सरोज, उषा देवी गम्भीर रूप से जख्मी हो गए जबकि एक मजबूर भी था उसकी मौके पर ही मलबे में दबने से मौत हो गयी । अखिलेश को बोलेरो से  लेकर परिजन भदोही के लिये भागे तो दोनों घायल लड़कियों को लेकर परिवार का युवक लक्ष्मीशंकर मोटरसाइकिल से मियांचक उपचार के लिए जा रहा था कि रास्ते में सा

कम्युनी किचन से कच्चा खाना दिया जा रहा है गरीबों को,क्या यही है गरीब सेवा

चित्र
म       जौनपुर। जनपद में जिला प्रशासन खाद्यान एवं लंच पैकेट को वितरित करने का चाहे जितने दावे करे लेकिन जमीनी सच्चाई कुछ और ही है।  कोविड 19वैश्विक महामारी के चलते लाक डाऊन अवधि में सरकारी स्तर पर कम्युनी किचन से गरीबों को दिये जा रहे भोजन लंच पैकेट पर सवाल उठने लगे है । इसको लेकर वायरल एक वीडियो में गरीब परिवारों के लोग बता रहे है कि सरकारी कम्युनी किचन से जो खाना मिल रहा है वह कच्चा रहता है।  उसे खाने से बच्चे अथवा खाने वाला हर एक व्यक्ति बीमार हो जा रहा है । गरीब बता रहे है कि उनके पास न तो राशन कार्ड है  न ही सरकारी स्तर से कोई आनाज अथवा खाद्यान आदि ही मिल रहा है। गरीब अपनी भुखमरी का रोना रोने को मजबूर हो गया है।  जिला प्रशासन के लोगों का दावा है कि कम्युनी किचन निरीक्षण जिला स्तरीय अधिकारी लगातार करते है वहां पर पौष्टिक एवं शुद्ध पका हुआ भोजन गरीबों को दिया जा रहा है। लेकिन सच इसके ठीक विपरीत है। उदाहरण के लिए जैसे हांडी का एक चावल  पूरी हांड़ी के चावल की जानकारी हो जाती है उसी तरह इस व्यवस्था में एक जगह की स्थिति देखकर पूरी व्यवस्था का आकलन सहज ही लगाया जा

ओईना गांव हाटस्पाट्स घोषित कर इलाके को किया गया सील

चित्र
    जौनपुर। केराकत तहसील में  स्थित जलालपुर क्षेत्र के  ओईना गाँव में मंगलवार को एक कोरोना पास्टिव मरीज मिलने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है । मिली जानकारी के अनुसार यह आदमी वाराणसी के चेतगंज में टेलरिंग का काम करता था । लाकडाउन होने के बाद किसी तरह से यह आदमी 18 अप्रैल को वाराणसी से अपने घर ओईना आ गया  और आने के बाद चार दिनों में गेहूँ की कटाई , मड़ाई किया  और बाजार तथा दुकानों पर आना जाना रहा,  दोस्तों के साथ घुमना आदि इनकी दिनचर्या रही । 22अप्रैल को ग्राम प्रधान तथा आशा कार्यकर्ती की सूचना पर इसे जबरदस्ती उठाकर शेल्टर होम   नेहरू नगर में  कोरोन्टाइन के लिए भेजा गया  और 23 अप्रैल को सेम्पल लेकर जाँच के लिए भेजा गया । मंगलवार 28 अप्रैल को रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद क्षेत्र ही नहीं जिले में हड़कंप मच गया । सबके दिल में डर समाया हुआ है । पाजिटिव  रिपोर्ट आते ही एडीएम राम प्रकाश  , एसडीएम केराकत चन्द्र प्रकाश पाठक , क्षेत्राधिकारी केराकत अजय श्रीवास्तव के अलावा चौकीइंचार्ज युगलकिशोर राय के साथ जलालपुर थाने की पुलिस फोर्स , सिनेटाईजर की टीम तथा फायरब्रिगेड की गाड़ी मौके पर मौजूद

खुश खबरी: हाई स्कूल, इन्टर के छात्रों की पढ़ाई अब होगी दूरदर्शन पर

चित्र
     जौनपुर। यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए अच्छी खबर है। एक दो दिन से ही दूरदर्शन पर कक्षाओं का संचालन किया जाएगा। जिला विद्यालय निरीक्षक प्रवीण मणि त्रिपाठी से बात करने पर उन्होंने   बताया कि दूरदर्शन के स्वयंप्रभा चैनल पर सुबह 10 से 12 बजे तक कक्षाओं का प्रसारण होगा। एक पहले प्रदेश के सभी जिला विद्यालय निरीक्षकोंकी पीसी में शासन ने इस निर्णय के आशय की जानकारी दी है लेकिन अभी यह नहीं तय हो सका है कि प्रसारण कब से होगा शासन से आदेश मिलने के पश्चात तैयारी की जयेगी। इसका प्रसारण  सुबह साम 30-30 मिनट की दो क्लास हाईस्कूल और 30-30 मिनट की दो क्लास इंटर की चलेंगी। शाम को यही क्लास रिपीट होंगी। डीआईओएस ने बताया कि लॉकडाउन के कारण स्कूल की पढ़ाई प्रभावित न हो, इसके लिए शासन के निर्देशों पर यह पहल की गई है। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) के स्टूडियो में इनकी रिकॉर्डिंग की जा रही है। 10वीं-12वीं में गिनती के छात्र पढ़ रहे कम्प्यूटर हाईस्कूल और इंटर में गिनती के छात्र कम्प्यूटर की पढ़ाई कर रहे हैं। कम्प्यूटर शिक्षा की स्थिति का अंदाजा इसी से

समाज सेवा दिल से करें दबाव से नहीं - हरिशंकर

चित्र
     जौनपुर। आज जहाँ पूरा देश ही नही अपितु  समूचा  विश्व कोविड 19 वैश्विक महामारी के अति संकठ दौर से गुजर रहा है,इस स्तिथि -परिस्थित में यदि कोई अपनी जान को दांव पर लगा कर सेवा भाव दे रहा है, तो वो है-चिकित्सा विभाग,जिला प्रशासन, पुलिस विभाग,डाक विभाग, स्वच्छता विभाग है। इन विभाग के लोग जानते हैं कि  कोरोना बाहर है, यह जानते हुये भी इस विषमपरिस्थित में सबका  सहायक एवं रक्षक बन कर ढाल की तरह भूख-प्यास को त्याग कर इस रोग रूपी जंग से लड़ रहे है। देश के ऐसे जाँबाज सिपाहियों के लिये डाक विभाग के यूनियन नेता  सचिव हरि शंकर यादव ने तय किया है कि संगठन मंत्री दिनेश द्विवेदी, कन्हैया गुप्ता, राजेश तिवारी,विक्रांत सिंह,बृजेश मिश्रा, श्रवण मिश्रा, अजय ,आबूशाद आदि अन्य सहयोगी साथियों के साथ मिलकर रोड पर कार्यरत  पुलिसकर्मियों, सफाईकर्मियों के लिये गत 28 अप्रैल से अनवरत  लॉग डाऊन की अवधि तक  बिस्कुट,पानी,चाय,एवं कुछ खाद्य सामग्री को पहुंचाने का कार्य किया जायेगा। ऐसा सेवा भाव का संकल्प ले लिये हैं। हरिशंकर यादव  तो जब से लॉक डाऊन से शुरू हुआ है,तभी से डाक विभाग के कर्मचरियों के लिये अपने

बाहर से आने वालों की सूचना थाना एवं कन्ट्रोल रूम को दे-डीएम

चित्र
  जौनपुर।जिला प्रशासन ने निर्देश देते हुए कहा है कि सभी थानाध्यक्ष ध्यान दें कि इस समय काफी लोग चोरी-छिपे अन्य राज्यों से व अन्य शहरों से अपने जनपद जौनपुर की सीमा में चोरी छिपे प्रवेश करके घरों में जा रहे हैं। ऐसे लोगों पर सतर्क निगाह रखी जानी  है।जो लोग भी बाहर से आ रहे हैं पहले 14 दिन उनको शेल्टर होम क्वॉरेंटाइन में रखा जाएगा ।स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा। यह हर हाल में सुनिश्चित करें । उचित होगाकि प्रत्येक दिन गांव के चौकीदार, प्रधान से आप स्वयं बात कर ले और गांव की जानकारी ले ले कि कोई व्यक्ति आया तो नहीं है। सभी प्रधानों से अपील की गयी  है कि जो लोग भी आपके गांव में आ रहे हैं उनकी पूरी जानकारी अपने थानाध्यक्ष को दें और कोरोना कन्ट्रोल रूम में  दे ।और यह सुनिश्चित करें कि वह गांव में न जाकर शेल्टर होम में पहले जाएं और 14 दिन रहे जहां उनका स्वास्थ्य परीक्षण वगैरह होगा उसके बाद आगे का निर्णय होगा। अगर हम ऐसा करेंगे तभी अपनी जनपद को संक्रमण से बचा पाएंगे ।आओ हम सब मिलकर के अपने जनपद को संक्रमण से बचाने के लिए उकतानुसार अपना योगदान करें।

उप्र में हत्याओं का दौर जारी राज्य की भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त - नदीम जावेद।

चित्र
लाकडाऊन के बाद भी प्रदेश में हत्याओं का सिलसिला रूकने का नाम नहीं ले रहा है।वर्तमान सरकार अपराध एवं अपराधियों पर अंकुश लगाने में नाकाम है, उक्त बातें कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता नदीम जावेद ने मीडिया को जारी एक विज्ञप्ति में कहा है । उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में जंगलराज कायम है वर्तमान सरकार अपराधियों पर अंकुश लगा पाने में असफल है।उन्होंने एटा में एक ही परिवार के पांच सदस्यों की हुई हत्या पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि ना गुण्डराज, ना भ्रष्टाचार का राग अलापने वाली भाजपा सरकार अपराधियों के सामने पूरी तरह नतमस्तक है, उन्होंने कहा कि दुःख इस बात का है कि एटा में हुई एक ही परिवार के पांच सदस्यों की हत्या को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुलिसिया तंत्र आत्महत्या बताने में जुटा है जबकि परिवारजन इसे हत्या बता रहे हैं उन्होंने कहा कि इस पूरे प्रकरण की न्यायिक जांच होनी चाहिए जिससे परिवारिजनों को न्याय मिल सके।उन्होंने कहा कि पालघर की घटना पर महाराष्ट्र सरकार को घेरने वाले लोग अपने ही प्रदेश में हो रही हत्याओं पर चुप क्यों हैं?

पीयू में दो वर्षीय डी -फार्मा कोर्स भी खुलाएमटेक के अभ्यर्थी भी करेंगे पीयूकैट में आवेदनपीयूकैट आवेदन की अंतिम तिथि 20 जून

चित्र
जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर, के विश्वविद्यालय परिसर में संचालित पाठ्यक्रम में सत्र 2020- 21के लिए पूर्वांचल विश्वविद्यालय कंबाइंड एडमिशन टेस्ट (पीयूकैट) की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया  21अप्रैल 2020 से शुरू हो गई है। आवेदन की अंतिम तिथि 20 जून निर्धारित की गई है। इसी सत्र से फार्मेसी संस्थान में दो वर्षीय डी फार्मा की भी पढ़ाई होगी । इस पाठ्यक्रम में 60 सीटें निर्धारित है। इसके अभ्यर्थी भी पीयूकैट में आवेदन करेंगे। प्रोफेसर राजेंद्र सिंह रज्जू भैया इंस्टीट्यूट ऑफ फिजिकल साइंस फॉर स्टडी एंड  रिसर्च में एमएससी फिजिक्स, एमएससी केमिस्ट्री, एमएससी/ एमए  मैथमेटिक्स, एमएससी अप्लाइड जियोलॉजी, ट मैटेरियल साइंस टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग संकाय के एमटेक पावर सिस्टम एमटेक ‌कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, एमटेक थर्मल इंजीनियरिंग एमटेक सीएसईऔर फैकेल्टी आफ मैनेजमेंट स्टडीज के अंतर्गत बीकॉम (ऑनर्स) पाठ्यक्रम और बीए -एलएलबी (ऑनर्स) पंचवर्षीय  इंटीग्रेटेड कोर्स में प्रवेश के लिए विद्यार्थी आवेदन कर सकते है । विश्वविद्यालय के विज्ञान संकाय में एमएससी  बायो टेक्नोलॉजी, एमएससी माइक्

सेवा भारती की सेवा रसोई में अब जन सहयोग शुरू

चित्र
       जौनपुर। कोविड 19वैश्विक महामारी के संकट की घड़ी में   लाक डाऊन की अवधि में कोई भूखा न रहे के मकसद को लेकर   आर एस एस के अनुषांगिक संगठन सेवा भारती के तत्वावधान में संचालित सेवा रसोई में अब जन सहयोग शुरू हो गया है इस क्रम में अहमदपुर  निवासी  अहमदपुर निवासी छात्र जीवन में हम सब के नीतिन सिंह, निर्भय सिंह, निक्कू सिंह पुत्र गण  स्व.नागेन्द्र सिंह  ने अपने पिता की पुण्य तिथि पर  पूर्व प्रमुख आशुतोष सिंह जमैथा की प्रेरणा से सेवा रसोई के संचालन में अपनी ओर से आर्थिक सहयोग किया है।  इस आशय की जानकारी देते हुए सेवा भारती के महामंत्री रवि शंकर सिंह ने सहयोग करने वालो के प्रति हार्दिक आभार जताया है।  सहयोग कर्ताओ ने कहा वह सेवा रसोई में उपस्थित हो कर गरीब परिवारों की सेवा करना चाहते है  लेकिन लाक डाऊन के चलते वाराणसी में फंसे हुए है ।इस पुनीत कार्य में उपस्थित हो कर अपना श्रमदान न कर पाने का खेद है।  गरीबो को भोजन कराने के  22 वें दिन आज सेवा भारती के विभाग अध्यक्ष संजय पाण्डेय  सहित देवेन्द्र तिवारी प्रतिनिधि पूर्व सांसद धनन्जय सिंह, प्रेम सिंह, सिपिन सिंह, विपिन

जनपद में एक साथ मिले कोरोना पाजिटिव मरीज, मचा हड़कंप

चित्र
   जौनपुर।  जनपद में  महाराष्ट्र के पनवेल धरावी से भाग कर यहाँ बदलापुर आने वाले 9 लोगों में  तीन व्यक्ति को आज कोरोना पाजिटिव पाये जाने से जिले में हड़कंप मच गया है। अब जनपद में कोरोना पाजिटिव की संख्या 8 पहुंच गयी है हलांकि 4ठीक हो कर अस्पताल से छोड़ दिए गए हैं।  मुख्य चिकित्साधिकारी डा. राम जी पाण्डेय से इस सन्दर्भ में बात करने पर उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र से कुल 22 लोग ट्रक अथवा पैदल चल कर आये थे जिन्हें बदलापुर के सल्तनत बहादुर डिग्री कालेज में क्वारंटाइन किया गया था। इनमें  9 लोग पनवेल स्थित धरावी से आये हुए थे  जिनका सैम्पल लेकर जांच हेतु भेजा गया था आज तीन की रिपोर्ट पाजिटिव आ गयी है।  मौके पर चिकित्सकों की टीम उपचार में लग गयी है। सभी को आइसुलेसन में रख दिया गया है। डा.पाण्डेय ने यह भी बताया कि आज ही तीनों कोरोना पाजिटिवो को वाराणसी स्थित अस्पताल में रेफर कर दिया जायेगा।  यहाँ बतादे कि अब तक जनपद में पांच कोरोना पाजिटिव मरीजों की संख्या थी जिसमें चार ठीक हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छोड़ा जा चुका है  एक का उपचार जारी था।  अब इन तीन मरीजों को मिलने के बाद कोरो

21दिनों से लगातार गरीबों को भोजन करा रहे है सेवा भारती के लोग

चित्र
जौनपुर  । कोविड 19 वैश्विक महामारी के चलते देश में लागू लाक डाऊन के दौरान जनपद में कोई गरीब असहाय भूखा न रहे इसी उद्देश्य को लेकर आर एस एस के अनुषांगिक संगठन सेवा भारती  के तत्वावधान में सेवा रसोई चलाते हुए विगत  21 दिनों से गरीब मजदूर असहाय जनो को भोजन कराने का काम किया जा रहा है।  बतादे इस संगठन द्वारा प्रति दिन 7 सौ पैकेट बनवा कर  मलीन बस्तियों में भोजन वितरित करने का काम किया जा रहा है। सबसे अहम बात है कि संगठन के लोग गरीबो भोजन देते समय फोटो ग्राफी से परहेज कर लिए है।  इनके इस अभियान में एम एल सी बृजेश सिंह प्रिन्सू ने भी अपना योगदान दिया है। पूर्व प्रमुख आशुतोष सिंह, पूर्व रीडर टीडी पीजी कालेज  के साथ नवीन सिंह, बबलू दूबे, सिपिन सिंह रघुवंशी , विपिन सिंह सभासद का सेवा रसोई के संचालन में बिशेष योगदान रहता है।  तो रसोई के संचालन में डा. संजय पाण्डेय विभाग अध्यक्ष  एवं रवि शंकर सिंह  महामंत्री, रमेश सिंह मुन्नू सिंह  एवं मीडिया प्रभारी प्रेम सिंह  पूरे समय मौजूद रहते है। आज इस रसोई का निरीक्षण करने एवं गरीबों को भोजन वितरित करने के लिए भाजपा प्रदेश कार्यसमिति

लाक डाऊन अवधि में प्राईवेट चिकित्सक फोन पर देंगे चिकित्सकीय परामर्श

चित्र
    जौनपुर। लाक डाऊन अवधि में  जिलाधिकारी के निर्देशानुसार मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. राम जी पांडेय ने जनपद के निजी चिकित्सालय में उपलब्ध कराई जा रही आपातकालीन सेवाओं एवं निजी चिकित्सकों की मोबाइल नंबर उपलब्ध कराए जा रहे हैं जिनसे इमरजेन्सी सेवायें ली जा सकती है। जिसमें आशादीप हॉस्पिटल अहियापुर हृदय रोग विशेषज्ञ डा. बीएस उपाध्याय का मोबाइल नंबर 9415234391, सुनीता हॉस्पिटल मुरादगंज के डा. आरपी यादव 7979847777, पारसनाथ मेमोरियल हॉस्पिटल विशेषरपुर डा. कैप्टन एके सिंह 9415207378, त्रिभुवन सिंह मेमोरियल हॉस्पिटल दीवानी कचहरी फिजीशियन विशेषज्ञ डा. स्पृहा सिंह 9754309248, सुदामा हॉस्पिटल मुरादगंज डॉ0 मिथलेश मौर्य 7503302527, ईशा हॉस्पिटल मडि़याहूं पड़ाव डा. रजनीश श्रीवास्तव विशेषज्ञ सर्जन का मोबाइल नंबर 9415207011, आला हॉस्पिटल मछलीशहर पड़ाव पर  डा. ए0ए0 जाफरी 9415891235, सिद्धार्थ मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल उमरपुर में डा. लाल बहादुर सिद्धार्थ 7670606060, नारायन नर्सिंग होम बलुआ घाट डा. ए के सिंह सर्जन 8004227001, कुंवर दास सेवाश्रम पचहटिया स्त्री रोग विशेषज्ञ डा. शकुंतला यादव 991890

जौनपुर: ग्राम प्रधान संगठन का एलान वर्तमान डीएम के रहते नहीं करेंगे मनरेगा का काम

चित्र
    जौनपुर ।  प्रदेश की सरकार ने एक ओर तो एलान किया है कि  प्रदेश में मनरेगा के तहत गरीब मजदूरों को रोजगार मुहैया करायेंगे,  लेकिन जनपद जौनपुर में ग्राम प्रधानो एवं जिलाधिकारी के बीच जो तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गयी है उससे नहीं  लगता है कि यहाँ जनपद में मुख्यमंत्री की योजना फलीभूत हो सकेंगी  क्योंकि राष्ट्रीय पंचायती राज ग्राम प्रधान संगठन के बैनर तले ग्राम प्रधानो ने  वर्तमान जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह को जिले में रहते हुए मनरेगा का काम नहीं कराने का निर्णय ले लिया है।  यहाँ बतादे कि जनपद में जिलाधिकारी का कार्यभार ग्रहण करने के बाद से वर्तमान जिलाधिकारी के द्वारा ग्राम प्रधानो के  विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने का अभियान छेड़ दिया गया था कोरोना के चलते लाक डाऊन अवधि में मजदूरों की शिकायत पर बगैर जांच कराये ही पांच ग्राम प्रधानो के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा के जेल भेज दिया गया है । इसके पहले भी  तीन ग्राम प्रधानो को शिकायत मिलने पर जांच कराये बगैर ही मुकदमा दर्ज कराके जेल भेज दिया है।   जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह के इस कार्यशैली को राष्ट्रीय पंचायती राज ग्राम प्रधान संगठन ने गम्

कोरोना संकट: सीएम योगी का बड़ा दावा,15 लाख लोगों को देगे रोजगार

चित्र
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने प्रदेश में 15 लाख श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने का दावा किया है। गत  शनिवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने आवास पर उच्चस्तरीय बैठक की। इस दौरान उन्होंने कहा कि दूसरे प्रदेशों से लौटे 15 लाख श्रमिकों को रोजगार दिया जाएगा। इसके लिए सरकार कार्ययोजना तैयार कर रही है। ये ऐसे श्रमिक हैं जो दूसरे प्रदेशों में काम करते थे, लेकिन लॉकडाउन के चलते वापस लौट आए हैं या फिर लौटने वाले हैं। श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए गठित की गई समिति इन श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए योगी सरकार ने एक समिति भी गठित की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में लॉकडाउन व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। मनरेगा और गांवों के विकास कार्यों को आगे बढ़ाने का दिया  निर्देश सीएम योगी ने कहा कि प्रवासी श्रमिकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना चुनौतीपूर्ण कार्य है। इस दौरान पंचायतीराज विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार सिंह को ग्राम प्रधानों के माध्यम से मनरेगा और गांवों के विकास कार्यों को आगे बढ़ाने का निर्देश दिया

सरकार ने नहीं लिया दुकानों को खोलने का निर्णय, 3 मई के बाद भी लाक डाऊन जारी रहने की संभावना

चित्र
    जौनपुर। लॉकडाउन में छूट देकर कुछ शर्तों के साथ दुकानें खोलने के केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश पर प्रदेश सरकार ने फिलहाल कोई फैसला नहीं लिया है। गत 25अप्रैल को यह आदेश जारी होने के बाद हर किसी की नजर प्रदेश सरकार की ओर  टिकी हुई थी। लेकिन कोई आदेश नहीं जारी किया जा सका है।  माना जा रहा था प्रदेश सरकार शनिवार को शाम तक कोई फैसला ले सकती है। लेकिन सरकार ने कोई निर्णय नहीं लिया।   सूत्रों की मानें तो शासन में अभी इस पर मंथन चल रहा है।  हलांकि 25 अप्रैल शनिवार को विचार-विमर्श के दौरान तय किया गया कि अभी मौजूदा व्यवस्था को ही बनाए रखना  उचित है । किसी भी तरह की छूट देने पर  संक्रमण को तेजी से फैलने का खतरा बढ़ सकता है। मौजूदा हालात को देखते हुए तीन मई के बाद भी लॉकडाउन जारी रखने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता  है। हॉट स्पॉट वाले इलाकों में सख्ती  बनी रहेगी ।   प्रदेश में 25 अप्रैल को मिले 130 नये केस  प्रदेश में 130 और लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इस तरह प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 1778 तक पहुंच चुकी है । 248 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं । 26 मरीजों क

कोटा से आने वाले छात्रों की निगरानी करने की तैयारी

चित्र
     जौनपुर। अब जिला प्रशासन ने कोटा से आने वाले सभी छात्रों की निगरानी उनके घरों पर करने की योजना बनायी है।  इसी के तहत जिलाधिकारी ने आदेश जारी किया है कि कोटा राजस्थान से आए हुए बच्चे जो स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत घर भेज दिए गए हैं। उनकी सूची मुख्य विकास अधिकारी जौनपुर के पास है जिसे जिला विद्यालय निरीक्षक जौनपुर को तत्काल उपलब्ध करा ले।  जिलाधिकारी के अनुसार  जिला विद्यालय निरीक्षक बच्चों के नोडल अधिकारी होंगे जो प्रत्येक बच्चे से प्रतिदिन दूरभाष पर उनके स्वास्थ्य की जानकारी कर उनका हालचाल पता करे साथ ही यह भी जानकारी करेंगे कि बच्चों द्वारा क्वारेन्टाइन के नियमों का पालन किया जा रहा है या नहीं। उन्होंने कहा कि यह बच्चे हर हाल में 14 दिन होम क्वॉरेंटाइन में रहेंगे । बच्चेे घर के बाहर ना निकले न ही किसी को स्पर्श, दूरी बनाकर रखेंने  की हिदायत दूरभाष पर देने का निर्देश दिया। उन्हाने कहा कि बच्चों के बारे में जानकारी अलग से दूरभाष पर उस गांव के प्रधान से भी ली जाए कि यह बच्चे क्वारेन्टाइन में रह रहे हैं या नहीं, उनसे यह भी पूछा जाए कि उन्हें खांसी,जुकाम, बुखार आदि की कोई स

निधि का पैसा वापस लेने वाले जनप्रतिनिधियों की सर्वत्र हो रही है आलोचना

चित्र
जौनपुर।  आज देश ही नहीं बल्कि पूरा विश्व कोविड 19 वैश्विक महामारी से जूझ रहा है इसके चलते समूचा भारत लाक डाऊन में है। हर स्तर पर कोरोना  से बचाने के उपाय किए जा रहे है। इसी क्रम में जनपद जौनपुर के माननीय सांसद एवं विधायक गणों ने जिले की स्वास्थ्य व्यवस्था को  कोरोना से लड़ने योग्य बनाने के लिए जिले के विकास हेतु मिली सरकारी धनराशि सांसद एवं विधायक निधि से अपने क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग को धनराशि देने की घोषणा कर खूब वाहवाही लूटा लेकिन जब धनराशि रिलीज करने की बात आयी तो जनपद के पांच जनप्रतिनिधियों  (जिसमें चार भाजपा के एवं एक बसपा के है ) ने चुपके से जिले के मुख्य विकास अधिकारी को पत्र भेज कर अपनी-अपनी निधि की धनराशि रिलीज करने से रोक दिया । इसमें भाजपा के मछली शहर सांसद वीपी सरोज,  केराकत विधायक दिनेश चौधरी, जफराबाद विधायक हरेन्द्र प्रताप सिंह, बदलापुर विधायक रमेश मिश्रा, तथा मुगराबादशापुर से बसपा  विधायक सुषमा पटेल का नाम है।   इस खबर को सबसे पहले प्रमुखता से *सच खबरें * ने 20 अप्रैल को प्रकाशित किया इसके बाद अन्य तमाम पोर्टल एवं समाचार पत्रों ने  खबर को प्रकाशित किया। त

सरकार का निर्णय, कुछ शर्तों के साथ खुलेगी रजिस्टर्ड दुकाने

चित्र
   जौनपुर। देश में लॉकडाउन फेज 2 का आज 11वां दिन है। भारत में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या रोजाना बढ़ रही है हालाँकि इसके बावजूद सरकार ने आम जन को सहूलियत देने के लिए आज से सशर्त गैर जरुरी दुकानों को भी खोलने के आदेश दिए हैं। हालाँकि अभी शॉपिग कॉम्प्लेक्स और मॉल इत्यादि को खोले जाने की इजाजत नहीं दी गई है। उम्मीद की जा रही है कि गृह मंत्रालय के इस आदेश के बाद देश में व्यावसायिक गतिविधियां कुछ रफ्तार पकड़ लेगी।  दुकानों को खोलने की मिली रियायत गृह मंत्रालय ने देश के सभी राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों में रजिस्‍टर्ड दुकानों को कुछ शर्तों के साथ आज से खोलने की इजाजत दे दी है। साथ ही यह भी कहा कि नॉन हॉटस्पॉट इलाके में ही ये दुकानें खोली जा सकेंगी। हालांकि इन दुकानों में सिर्फ 50 फीसदी स्टाफ ही काम कर सकेगा और इनमें सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखना पड़ेगा। वहीं शॉपिंग मॉल्‍स और शॉपिंग कॉम्‍प्‍लेक्‍स अभी नहीं खुलेंगे।

अब यूपी में 30जून तक कोई सामूहिक कार्यक्रम नहीं होगा सीएम का आदेश जारी

चित्र
     लखनऊ: देशभर में कोरोना वायरस तेजी से पांव पसार रहा है। इस किलर वायरस से निपटने के लिए सरकार ने लाॅकडाउन किया है। अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री योगी ने सभी जिलाधिकारियों को आदेश दिया है कि 30 जून तक प्रदेश में किसी भी सार्वजनिक और सामूहिक कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके बाद परिस्थितयों के मुताबिक फैसला लिया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रमजान में भी मुस्लिम समाज के धर्मगुरुओं ने घर में रहकर ही नमाज पढ़ने की अपील की है। इसलिए यह सुनिश्चित किया जाए कि कहीं कोई भी आयोजन न होने पाए। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार की शाम प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि किसी भी प्रकार की कोई नई व्यवस्था न शुरू होगी। मुख्यमंत्री योगी ने अवैध शराब और गोकशी पर भी कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कच्ची शराब की घटनाओं पर रोक लगाएं और गोकशी करने वालों पर एनएसए लगाया जाए। मुख्यमंत्री योगी ने जिलाधिकारियों से कहा कि हर जिले में स्वास्थ्य विभाग

मां मूर्ति ग्रुप आफ प्लान्टेशन संस्था ने बच्चों को बांटा मास्क साबुन

चित्र
 जौनपुर।  मां मूर्ति ग्रुप ऑफ प्लांटेशन के तत्वाधान में प्राथमिक विद्यालय ककोरगहना  में विद्यालय के लगभग  70 छोटे-छोटे बच्चों को मास्क ,हाथ धोने के लिए साबुन तथा होम वर्क के लिये कापी का वितरण किया गया। इस अवसर पर  प्राथमिक विद्यालय की प्रधानध्यापिका डॉ रागिनी गुप्ता द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा गया  । इस वितरण कार्यक्रम में संस्था के संरक्षक ध्रुव कुशवाहा ने बताया कि छोटे-छोटे बच्चे हमारे देश के भविष्य हैं इनकी चिंता करना समाज के सभी  प्रबुद्ध जनों की जिम्मेदारी है। संस्था की सदस्य प्राथमिक विद्यालय ककोरगहना की प्रधानाध्यापिका डॉ रागिनी गुप्ता ने बच्चों को बताया कि खाना खाने से पहले 20 सेकंड तक हाथ अवश्य धोएं तथा जब भी बाहर निकले तो मास्क अवश्य लगाएं ।इस वितरण कार्यक्रम में संस्था के कोषाध्यक्ष कमलेश जी तथा सहयोगी सदस्यों में धर्मेंद्र मौर्य ,सुप्रणीत गुप्ता ,बबिता सिंह तथा गांव के संभ्रांत लोग उपस्थित रहे ।अंत में सभी बच्चों को स्वच्छ एवं संतुलित भोजन करने के लिए बच्चों के बीच संस्थाध्यक्ष शैलेन्द्र  ने बताया कि इस तरह का कार्यक्रम बच्चों के बीच ल

कांग्रेसी नेता ने गरीबों को वितरित किया खाद्यान

चित्र
    जौनपुर। कांग्रेस के विधायक एवं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. पं. सूर्य नाथ उपाध्याय के सुपुत्र   समाज सेवी एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पं.राजबली उपाध्याय जब भी देश संकट में होता है उस समय गरीबों की मदत करनें जरूर आगे आते हैं।  कोविड 19वैश्विक महामारी के चलते देश में लाक डाऊन होने से एक बार फिर यह स्वतंत्रता संग्राम सेनानी परिवार गरीबों की मदत के लिए आगे हाथ बढ़ाया है इस क्रम में जरूरत मंदों को खाद्यान वितरित करने का काम किया जा रहा है । इस अवसर पर संजय उपाध्याय ,अनिल उपाध्याय, शिवम,वेदान्त, दीपू मिश्रा,राजेश यादव, गुड्डू खरवार, मुन्नी आदि उपस्थित रहे।

दीवानी न्यायालय के न्यायाधीशो ने वितरित की खाद्य सामग्री

चित्र
   जौनपुर । सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने बताया कि उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ के निर्देशानुसार 23 अप्रैल 2020 को जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, जौनपुर के निर्देशानुसार जनपद के सुदूर क्षेत्र ग्राम अड़ियार थाना सुरेरी तहसील मड़ियाहूॅं जनपद जौनपुर के ऐसे परिवार जो प्रतिदिन मजदूरी करके अपने परिवार का पालन-पोषण करते हैं और वर्तमान में लॉकडाउन के कारण घरों में बैठे हैं, जिससे उनके सामने रोटी का संकट खड़ा हो गया है, को चिन्हित कर दीवानी न्यायालय के समस्त न्यायिक अधिकारीगण के सहयोग से माननीय जनपद न्यायाधीश एम0पी0 सिंह, मनोज कुमार, प्रथम अपर जिला जज, अंजनी कुमार सिंह, अपर जिला जज, विकास, प्रभारी सी0जे0एम0 एवं मो0 फिरोज, सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, जौनपुर द्वारा ग्राम अड़ियार के लगभग 80 गरीब व जरूरतमन्द परिवारों को आवश्यक खाद्य सामग्री का वितरण किया गया। इस अवसर पर माननीय जनपद न्यायाधीश द्वारा जनपद के सभी आमजन से अपील की गयी कि वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव हेतु सामाजिक दूरी, मास्क का प्रयोग व कोविड-19 की अन्य सभी सावधानियों का अक्षरशः अनुपालन सु