संदेश

जनवरी, 2022 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

चुनाव प्रचार को लेकर आयोग की नयी गाइड लाइन जारी, 11 फरवरी तक रैली, रोड शो पर रोक

चित्र
निर्वाचन आयोग ने पांच राज्यों में होने वाले चुनाव के लिए प्रचार को लेकर नयी गाइडलाइन जारी करते हुए रोड शो और रैलियों पर 11 फरवरी तक के लिए रोक लगा दिया है।हालांकि, आयोग ने कोरोना के केस घटने के साथ ही कुछ छूट देनी भी शुरू कर दी हैं, आयोग ने फैसला किया है कि एक फरवरी से राजनीतिक दल या चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवार तय खुली जगहों पर एक हजार लोगों या जगह की क्षमता से 50 फीसदी लोगों को जुटाकर (जो भी कम हो) सार्वजनिक बैठक कर सकते हैं। पहले यह सीमा 500 लोगों तक तय की गई थी, इसके अलावा आयोग ने उम्मीदवारों के घर-घर जाकर चुनाव प्रचार करने के नियमों में भी छूट दी है। पहले  10 लोगों को एक साथ प्रचार करने की अनुमति थी अब 20 लोग डोर-टू-डोर कैंपेन में शामिल हो सकेंगे। इनमें सुरक्षाकर्मियों को नहीं गिना जाएगा। चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों को बंद जगहों पर ज्यादा से ज्यादा 500 लोगों या हॉल-कमरे की क्षमता से 50 फीसदी लोगों को जुटाकर (जो भी कम हो) बैठक की छूट दी है। पहले यह सीमा 300 लोगों तक ही तय की गई थी। राजनीतिक दलों और प्रत्याशियों को कोरोना अनुरूप व्यवहार करने और मानने की सलाह दी गई है

कोविड टीकाकरण की समीक्षा कर नोडल अधिकारी ने दिया यह आदेश

चित्र
जौनपुर। विशेष सचिव, पशुधन विभाग उत्तर प्रदेश शासन देवेंद्र कुमार पांडेय द्वारा निरीक्षण भवन, लोक निर्माण विभाग में कोविड-19 के संबंध में बैठक की गई। टीकाकरण के संबंध में अधिकारियों के साथ विस्तार से समीक्षा की और निर्देश दिया कि बुजुर्गों को बूस्टर डोज अधिक से अधिक लगवाया जाए तथा कोविड-19 के सेकंड डोज में भी तेजी लाई जाए। इस दौरान उन्होंने अस्पताल में भर्ती मरीजों के संबंध में जानकारी प्राप्त की, जिस पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ लक्ष्मी सिंह द्वारा बताया गया कि कोई भी मरीज अस्पताल में भर्ती नहीं है।  मेडिकल किट की उपलब्धता के संबंध में समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि चुनाव दौरान कोरोना संक्रमण न हो इसके लिए पहले से तैयारी कर ली जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि चुनाव में लगने वाले कार्मिकों को शत-प्रतिशत कोविड का टीका लग जाए।   इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामप्रकाश, जिला विकास अधिकारी बी.बी. सिंह, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी राम दरस यादव सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

पत्नी और प्रेमिका के पति की हत्या की साजिश का किया खुलासा पांच बदमाश गिरफ्तार गये जेल

चित्र
जौनपुर। थाना सिकरारा पुलिस ने एक बड़ी घटना को अंजाम देने की योजना बनाने वाले पांच शातिर बदमाशो को अवैध असलहा एवं कारतूस के साथ गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के पश्चात पुलिस ने जो खुलासा किया है वह आश्चर्यजनक ही नहीं बल्कि दिल दहलाने वाला और मधुर विश्वास के रिस्ते  के लिए कलंक कृत्य था।  पुलिस ने जारी बयान में बताया है कि गिरफ्तार अभियुक्त राम सुरत उर्फ डाक्टर ने पूछताछ में बताया कि वह एक महिला से प्रेम करता था उक्त प्रेम सम्बन्ध में मेरी पत्नी और प्रेमिका के पति बाधा बन रहे थे। प्रेम सम्बन्ध निर्बाध रूप से जारी रहे, इसके लिए स्वंय की पत्नी तथा प्रेमिका के पति को रास्ते से हटाना जरूरी था। इन लोगो को रास्ते से हटाने के उद्देश्य से वह अपने मकान मालिक अभिषेक सिंह उर्फ ओ0पी0 सिंह व उसके साथी गण आशुतोष कुमार ,रवि गौतम को अपने उद्देश्य से अवगत कराते हुए एक पिस्टल व 5 कारतूस खरीदा । अभिषेक सिंह आदि पिस्टल, कट्टा, कारतूस के क्रय विक्रय का काम करते है। वह तथा उनका मकान मालिक अभिषेक सिंह एवं इनके साथीगण आशुतोष कुमार , रवि गौतम , धीरज सिंह सभी लोग मेरे प्रेम सम्बन्धो में  बाधा बन रहे  मे

गो आश्रय स्थल का निरीक्षण कर नोडल अधिकारी ने दिया यह आदेश

चित्र
जौनपुर। विशेष सचिव पशुधन विभाग उत्तर प्रदेश शासन देवेंद्र कुमार पांडे द्वारा विकासखंड बदलापुर के मल्लूपुर एवं विकास खंड बक्शा के सादनपुर गो आश्रय स्थल का निरीक्षण किया गया ।निरीक्षण के दौरान उन्होंने निर्देश दिया कि गो आश्रय स्थलों को चारागाह से जोड़ा जाए और जहां बड़े नर गोवंश है उन्हें अलग किया जाए। उन्होंने कहा कि पशुओं के लिए चारे पानी की उचित व्यवस्था रहे तथा कोई भी पशु इलाज के अभाव में ना मरे। इस अवसर पर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी राजेश सिंह सहित अन्य उपस्थित रहे।

पूर्व कुलपति पीसी पातंजलि को पत्नी शोक, विश्वविद्यालय में हुई‌ शोकसभा

चित्र
जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रोफेसर पीसी पातंजलि के पत्नी का निधन 27 जनवरी को हो गया था। इस सूचना से पूरा विश्वविद्यालय परिवार मर्माहत है। कुलपति जी‌ ने व्यक्तिगत रूप से दूरभाष से शोक संवेदना प्रकट किया था। इस संबंध में विश्वविद्यालय के संकाय भवन में आज सोमवार को विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. निर्मला एस.मौर्य की अध्यक्षता में शोकसभा का आयोजन किया गया। कुलपति प्रोफ़ेसर मौर्य ने कहा कि पूर्व कुलपति प्रो.पीसी पातंजलि जी की पत्नी सीता पातंजलि के निधन से विश्वविद्यालय परिवार को गहरा आघात लगा है, ईश्वर उन्हें श्री चरणों में स्थान दें। इस अवसर पर दो मिनट का मौन रखकर शिक्षकों की ओर से श्रद्धांजलि दी गई। श्रद्धांजलि सभा में प्रो.मानस पांडेय, प्रो.अजय प्रताप सिंह, प्रो. राम नारायण, डाॅ राकेश यादव, डॉ मनोज मिश्र, डॉ राजकुमार, डॉ मनीष गुप्त, डॉ. अमरेंद्र सिंह, डॉ. आशुतोष सिंह, डॉ. सुनील कुमार, डॉ दिग्विजय सिंह राठौर, डॉक्टर मुराद अली, डॉ. जान्हवी श्रीवास्तव, अनु त्यागी, डॉ वनिता सिंह, डॉ प्रियंका कुमारी, डॉ. सुशील कुमार, विजय मौर्य, डॉ. विवेक पांडेय

दो स्वर्ण व्यवसायिक प्रतिष्ठानो कीर्ति कुंज और गहना कोठी पर आयकर कमिश्नर का जबरदस्त छापा, मचा हड़कंप

चित्र
जौनपुर। जनपद मुख्यालय पर थाना कोतवाली क्षेत्र  के दो बड़े स्वर्ण व्यसायियों के व्यवसायिक प्रतिष्ठानो सहित घरो पर आज सुबह से चल रही आयकर विभाग के छापामरी की कार्यवाई से जनपद सहित आसपास के जिलों के स्वर्ण व्यसायियों में हड़कंप मच गया है। आयकर विभाग की टीम लगभग 22 से 25 वाहनो के साथ स्वर्ण व्यवसायीयों के प्रतिष्ठानो पर एक साथ छापा मारी की कार्यवाई सुबह सात बजे से कर रही है।  बता दें आज सुबह लगभग सात बजे के आसपास 22 से 25 वाहनो के काफिले के साथ आयकर विभाग की टीम शहर के स्वर्ण व्यवसायी गहना कोठी और कीर्ति कुंज के स्वर्ण प्रतिष्ठान क्रमशः निकट सद्भावना पुल ,चहारसू चौराहा एवं निकट कोतवाली सहित दोनो प्रतिष्ठानो के मालिको के आवास पर धमक पड़ी और छानबीन की कार्यवाई में जुट गयी है। जनपद के बड़े व्यवसायी होने के कारण आयकर की टीम सुरक्षा बल का पुख़्ता इन्तजाम किये हुए है।  छापामारी के समय परिवार के सदस्यो और काम करने वाले नौकरो को अपनी हिरासत में लिया गया यहां तक कि प्रतिष्ठानो के सटर बन्द कर अन्दर जांच पड़ताल की जाती रही। मुख्य द्वारा पर सशस्त्र बल पुलिस का शक्त पहरा लगा दिया है जिसके क

तेज रफ्तार बस बनी मौत,15 लोंगो को कुचला आधा दर्जन लोंगो की हुई मौत

चित्र
उत्तर प्रदेश के जनपद कानपुर में घंटाघर से टाटमिल चौराहे तक रविवार की आधी रात को इलेक्ट्रिक बस मौत बनकर दौड़ी। आधा दर्जन वाहनों को टक्कर मारी और लगभग 15 लोगों को रौंद दिया। आखिर में बीच चौराहे पर बने ट्रैफिक बूथ से टकराते हुए डंपर में घुस गई।  इस भीषण हादसे में छह लोगों की मौत हो गई। नौ लोग घायल हैं। घायलों में कइयों की हालत गंभीर है। देररात मृतकों में चार की पहचान हो सकी थी। मिली खबर के अनुसार रात करीब साढ़े ग्यारह बजे के आसपास एक इलेक्ट्रिक बस कानपुर में तेज रफ्तार में घंटाघर चौराहे से टाटमिल की तरफ जा रही थी। पुल से उतरते ही बस विपरीत दिशा में चालक ने दौड़ाना शुरू किया और जो बीच में आया उसको रौंदते हुए निकल गया। टाटमिल चौराहे पर बने ट्रैफिक बूथ में टक्कर मारी और फिर चकेरी की तरफ से आ रहे डंपर से जा टकराई। हादसे में छह लोगों की मौत हो गई। जिसमें से चार की शिनाख्त हो सकी। अन्य मृतकों की पहचान के लिए पुलिस जद्दोजहद में जुटी रही। लाटूश रोड निवासी शिवम उर्फ शुभम सोनकर (30) अपने दोस्त ट्विंकल उर्फ सुनील सोनकर (30) व रमेश यादव एक स्कूटी में थे। ये भी बस की चपेट में आ

आखिर भाभी ने अपने देवर का प्राइवेट पार्ट क्यों काटा, क्या है पूरी कहानी

चित्र
देवर-भाभी जैसे पवित्र रिश्ते को शर्मसार करते हुए कानपुर में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। घरेलू विवाद पर महिला ने देवर का प्राइवेट पार्ट धारदार हथियार से काट दिया। इसके बाद चाकू से खुद के हाथों की नसें काट ली। शोरगुल सुनकर कमरे में पहुंचे परिजन ने देखा कि देवर-भाभी लहूलुहान हालत में पड़े मिले। घटना की सूचना पर घटनास्थल पहुंची पुलिस ने देवर-भाभी को सीएचसी ले गई, जहां डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद हैलट अस्पताल के लिए रेफर कर दिया है। फिलहाल युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है। दरअसल कानपुर में बिल्हौर थाना क्षेत्र के बदल नवादा गांव में महिला अपने पति और देवर के साथ रहती है। जानकारी के अनुसार, महिला के अपने देवर से अवैध संबंध हैं, क्‍योंकि उसका पति दिमागी रूप से कमजोर है। बीते शुक्रवार को देवर-भाभी के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई, जिससे नाराज महिला ने देवर का प्राइवेट पार्ट धारदार हथियार से काट दिया। इसमें उसका देवर सोनू गंभीर रूप से घायल हो गया है। इसके बाद महिला ने भी अपने हाथों की नस काट ली। गांव में रहने वाले युवक की शादी चार साल पहले हुई थी। शादी के बाद से यु

सर्राफा कारोबारी के यहां आयकर का छापा, सर्राफा व्यपारियों में हड़कंप

चित्र
आयकर विभाग ने रविवार को चांदी के बर्तन और सिक्के के बड़े कारोबारी के चौक सराफा स्थित कारखाना, शोरूम समेत चार प्रतिष्ठानों पर एक साथ छापा मारा। सुबह हुई कार्रवाई से सराफा बाजार में हड़कंप मच गया। हालांकि रविवार के चलते बाजार बंद था। बड़े पैमाने पर ओवर स्टॉक मिलने पर कार्रवाई की गई है। आयकर विभाग के अफसरों ने स्टॉक का मिलान किया। इसके अलावा बड़े पैमाने पर दस्तावेज, कंप्यूटर, लैपटॉप और हार्ड डिस्क जब्त की गई है। आयकर विभाग की अलग-अलग टीमों ने चौक स्थित केएस बुलियन और केदारनाथ श्री किशन फर्म के मालिक बॉबी अग्रवाल के चौक सराफा स्थित शोरूम-कारखाने में छापा मारा। इसके साथ ही नवाबगंज और सर्वोदय नगर स्थित आवास पर कार्रवाई की गई। एक साथ चार जगहों पर कार्रवाई कर जांच शुरू की गई। सूत्रों ने बताया कि इनका चांदी के बर्तनों का बड़े स्तर पर काम होता है। केएस ब्रांड से इनके बर्तन बनते हैं। इसके अलावा इसी नाम से सिक्के और ठोस चांदी की सिल्ली बनाने का काम होता है। चौक में ही कारखाना है। फर्म आजादी के पहले से पंजीकृत है। इनके चांदी के बर्तन कानपुर के अलावा प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में जाते है

आइए जानते है क्रिकेट खेल के जरिए कैसे किया गया मतदाताओ को जागरूक

चित्र
जौनपुर। स्वीप कार्यक्रम की कड़ी में विकास खण्ड शाहगंज में मतदाताओं को जागरूक करने के लिए परिषदीय विद्यालयों के शिक्षकों के बीच मतदाता जागरूकता मैत्रीपूर्ण क्रिकेट टूर्नामेंट आयोजित किया गया है। ब्लाक के 148 विधालयो के अन्तर्गत 16 न्याय पंचायत में दो-दो न्याय पंचायत को मिलाकर 8 टीम बनाई गई है। आज सर सैय्यद अहमद इन्टर कालेज सबरहद के मैदान पर टूर्नामेंट का शुभारंभ खण्ड शिक्षा अधिकारी शाहगंज राजीव कुमार यादव ने फीता काट कर, गेंद को बल्ले से खेलकर व उपस्थित लोगों को मतदाता की शपथ दिलाकर उदघाटन किया। उदघाटन मैच मेहरावा, खलीलपुर का भादी, जमदहा न्याय पंचायत के बीच खेला गया। जिसमें मेहरावा, खलीलपुर ने मैच जीत लिया। मेहरावां, खलीलपुर ने 8 विकेट पर 92 रन बनाए, जवाब में भादी, जमदहा की टीम 61 रन ही बनाकर आल आउट हो गई। मैन आफ द मैच प्रकाश कुमार रहे जिन्होंने 26 रन बनाकर दो विकेट लिए।  दूसरा मैच पाराकमाल, बड़ागांव का मानीकला, बरंगी न्याय पंचायत के बीच खेला गया। पाराकमाल, बड़ागांव की टीम ने 9 विकेट पर 61 रन बनाए, जवाब में मानीकला, बरंगी की टीम ने 4 विकेट पर 63 रन बनाकर मै

लोगों के दिलों में आज भी राज करते हैं बापू: प्रो. निर्मला एस. मौर्य

चित्र
कुलपति जी ने बापू की पुण्यतिथि पर सुरक्षा सैनिकों को बांटें कंबल जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य ने कहा कि महात्मा गांधी आज भी देश के लोगों के दिलों में राज करते हैं। देश के स्वतंत्रता में उनका योगदान हमेशा याद रखा जाएगा। बापू ने देश की आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उनसे शांति से संघर्ष की सीख मिलती है।  प्रो. मौर्य महात्मा गांधी जी की पुण्यतिथि के अवसर पर रविवार को बोल रहीं थीं। उन्होंने कहा कि बापू का मानना था कि शस्त्र इंसान को तो मार सकता है, लेकिन इंसान के विचारों और अच्छे कार्यों को कभी नहीं मार सकता है। बापू की पुण्यतिथि इस बात का सबसे बड़ा उदाहरण है। आजादी में उनका योगदान हमेशा याद रखा जाएगा। गांधी जी ने सदैव विराट व विविध राष्ट्र को एक समूह में पिरोने का कार्य किया था। अपना पूरा जीवन देश हित और गरीबों की मदद में गुजार दिया।  इस अवसर पर कुलपति प्रोफेसर निर्मला एस. मौर्य ने कड़ाके की ठंड के मद्देनजर विश्वविद्यालय के सुरक्षा सैनिकों को कुलपति आवास में बुलाकर व्यक्तिगत रूप से कंबल वितरित किय

पचहत्तर करोड़ बार सूर्य-नमस्कार का लक्ष्य पूरा, अभियान में लगे योग शिक्षक हुए सम्मानित

चित्र
जौनपुर। योग गुरु बाबा रामदेव की प्रेरणा से आजादी के पचहत्तरवें वर्ष अमृत महोत्सव के तहत अखिल भारतीय स्तर पर किये जानें वाले पचहत्तर करोड़ बार सूर्य-नमस्कार को करनें का लक्ष्य हासिल करनें के उपरांत इस अभियान में लगे योग प्रशिक्षकों का स्वागत और अभिनन्दन किया गया। पतंजलि योग समिति के प्रान्तीय सह प्रभारी और सूर्य-नमस्कार के राज्य समन्वयक अचल हरीमूर्ति के नेतृत्व में पचहटियां स्थित हरीमूर्ति वाटिका में इस अभियान में लगे योग प्रशिक्षकों को संबोधित करते हुए बताया गया की लक्ष्य को हासिल करनें के उपरांत भी सूर्य-नमस्कार को हम सभी को जन जन तक निरन्तर पहुंचाते रहना है और जब भी कोई व्यक्ति इसे अपने जीवनशैली का हिस्सा बना लेगा तो उसके शरीर के हर तंत्र बहुत ही सुगमतापूर्वक कार्य करना शुरू कर देते हैं। श्री हरीमूर्ति के द्वारा बताया गया की आसनों का समूह सूर्य-नमस्कार तब और भी प्रभावी हो जाता है जब इसके साथ नियमित और निरन्तर भस्त्रिका, कपालभाति, अनुलोम-विलोम, भ्रामरी और उद्गीथ प्राणायामों के साथ कम से कम दस मिनट तक मेडिटेशन को किया जाये। इस मौके पर भारत स्वाभिमान के जिला प्र

ट्रेन की चपेट में आने से आंगनवाड़ी सहायिका की दर्दनाक मौत, परिवार में कोहराम

चित्र
जौनपुर । थाना गौराबादशाहपुर क्षेत्र के एकौना गांव में रेलवे अंडर ग्राउंड के पास एक महिला की ट्रेन के धक्के से मौके पर दर्दनाक मौत हो गई। मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के कुछमुछ गांव की निवासी व आंगनवाड़ी सहायिका निशा यादव(45) पत्नी कमलेश अपने मायके गई हुई थी। रविवार को सुबह लगभग 11 बजे वह पैदल ही अपने घर आ रही थी। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, निशा यादव जैसे ही एकौना गांव के पास बने रेलवे अंडर ग्राउंड के पास पहुंचकर रेलवे ट्रैक पार करने लगी। उसी समय जौनपुर के तरफ से ट्रेन तेज रफ्तार में आ गई। माना जा रहा है कि ट्रेन आने की आवाज निशा नहीं सुन सकी। वह रेलवे ट्रैक को पार करने लगी, तभी ट्रेन ने धक्का मार दी। ट्रेन के धक्के से आंगनवाड़ी सहायिका निशा यादव की मौके पर ही मौत हो गई। आसपास के लोग दौड़कर रेलवे ट्रैक पर पहुंचे। ग्रामीणों की सूचना पर महिला के परिजन और गौराबादशाहपुर थाने के उप निरीक्षक लाल बहादुर सिंह घटना स्थल पर पहुंचे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक महिला के एक

सपा गठबंधन से अपना दल (कमेरावादी) को जौनपुर सहित पूर्वांचल की ये सीटें मिली

चित्र
सपा गठबंधन से चुनाव लड़ रहे अपना दल (कमेरावादी) के हिस्से में पूर्वान्चल की सात सीटें आईं हैं। इसमें वाराणसी की रोहनिया व पिंडरा, मीरजापुर की मडि़हान, सोनभद्र की घोरावल और जौनपुर की मडिय़ाहूं सीट शामिल है। प्रतापगढ़ सदर, प्रयागराज पश्चिम सीट भी पार्टी के हिस्से आई है। पार्टी इनमें से कुछ सीटों पर 2017 का चुनाव लड़ी थी लेकिन पार्टी संस्थापक सोनेलाल पटेल के बाद चुनाव विवाद के कारण अपना दल (कृष्णा) के प्रत्याशी निर्दल हो गए थे। इस बार पार्टी अपना दल (कमेरावादी) के रूप में पंजीकृत है। गठबंधन ने पूर्वांचल की कुर्मी, पटेल बाहुल्य इन सीटों पर जातीय समीकरण को ध्यान में रखते हुए लड़ाई को त्रिकोणीय करने का प्रयास किया है। अद (कमेरावादी) की अध्यक्ष कृष्णा पटेल स्वयं 2017 का चुनाव रोहनिया से ही लड़ी थीं। निर्दल प्रत्याशी के रूप में वह 9,549 वोट पाकर चौथे स्थान पर रहीं। यह वही रोहनियां सीट है जिस पर अपना दल(एस) की अध्यक्ष और सोनेलाल पटेल की बेटी अनुप्रिया पटेल 2012 में विजयी हुईं थीं। बाद में उनका भाजपा से गठबंधन हो गया। दूसरी सीट जो पिंडरा अद (कमेरावादी) के खाते में आई है उस

कांग्रेस ने जारी किया 61 प्रत्याशियों की सूची, जौनपुर बदलापुर से स्व कमला सिंह परिवार की जानें किस महिला को मिला टिकट

चित्र
जौनपुर। कांग्रेस इस चुनाव में अपने वादे के तहत लगातार राजनीति में महिलाओ की 40 प्रतिशत भागी दारी सुनिश्चित करने का प्रयास कर रही है। इसी के तहत रविवार को यूपी चुनाव के लिए 61 उम्मीदवारों की चौथी सूची जारी कर दी है। इसमें 24 महिलाएं शामिल हैं। कांग्रेस ने पहली सूची में 125, दूसरी सूची में 41, तीसरी सूची में 89 उम्मीदवारों की घोषणा की है। इस तरह कांग्रेस ने अब तक कुल 316 उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है जिनमें से 127 टिकट महिलाओं को दिया गया है। जनपद जौनपुर में आजीवन कांग्रेस का झन्डा उठाने वाले स्व कमला प्रसाद सिंह के परिवार पर भी कांग्रेस नेतृत्व ने भरोसा जताया है। स्व कमला प्रसाद सिंह के पुत्र स्व विनय कुमार सिंह के पुत्र शनी सिंह की पत्नी आरती सिंह को कांग्रेस ने 364 बदलापुर विधान सभा से प्रत्याशी घोषित किया है। यहां बता दे कि स्व कमला प्रसाद सिंह वर्ष 1977 और 1980 में जौनपुर की सदर विधान सभा से कांग्रेस विधायक रहे और जौनपुर संसदीय क्षेत्र से 1985 में सांसद बने थे ।इतना ही नहीं कांग्रेस से राजनैतिक जीवन की शुरुआत किये और कांग्रेस मे रहते हुए जीवन का अन्त हुआ था। उनके बड़े पु

दो सहेलियों की शादी से परिवारों में मचगया हड़कंप, मामला पहुंचा थाने

चित्र
गजब की शादी दो सहेलियों के बीच प्रेम इस कदर गहराया कि जीवन भर साथ रहने की खातिर उन दोनों ने आपस में विवाह रचाने का फैसला कर डाला। जी हां, यह गजब हुआ है प्रयागराज में जहां बहरिया और मऊआइमा थाना क्षेत्र की रहने वाली दो युवतियों ने खुद शादी कर ली।। इसका पता तब चला जब शनिवार को मऊआइमा की युवती बहरिया पहुंची और वहां रहने वाली युवती को अपनी पत्नी बताते हुए ले जाने लगी। यह सुनकर सभी दंग रह गए। विरोध शुरू हो गया। मामला थाने पहुंच गया। यहां काफी देर तक पंचायत हुई और फिर एक युवती को उसके घरवाले फटकारते हुए घर लेकर चले गए। पुलिस का कहना है कि दोनों लड़कियां विवाह की बात जरूर कह रही थीं, लेकिन कोई कागजात नहीं दिखाया। अब जानिए यह पूरा मसला क्या है। मऊआइमा क्षेत्र की रहने वाली एक युवती की भाभी का घर बहरिया एरिया में है। उसका वहां आना-जाना लगा रहता था। इसी दौरान भाभी की ननद से उसका प्रेम संबंध हो गया। हालांकि, इसकी भनक भी उन दोनों के घरवालों को नहीं हुई क्योंकि दो लड़कियों के मिलने-जुलने पर किसी को संदेह भी नहीं होता है। पिछले साल मई माह में मऊआइमा की रहने वाली युवती की शादी प्रतापगढ़

प्रमोशन में आरक्षण को लेकर आया सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला

चित्र
सुप्रीम कोर्ट ने प्रतिनिधत्वि संबंधी वास्तविक आंकड़े जुटाए बिना अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति वर्ग के कर्मचारियों के लिए पदोन्नति में आरक्षण प्रदान करने के मानदंड में किसी प्रकार की छूट देने से इनकार कर दिया। न्यायमूर्ति एल. नागेश्वर राव, न्यायमूर्ति संजीव खन्ना और न्यायमूर्ति बी. आर. गवई की पीठ ने कहा कि आरक्षण देने से पहले प्रतिनिधत्वि की अपर्याप्तता पर मात्रात्मक आंकड़े एकत्र करने के लिए राज्य बाध्य है।  न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव के नेतृत्व वाली पीठ ने फैसला सुनाते हुए कहा, “एम नागराज (2006) और जरनैल सिंह (2018) में अदालत के फैसले के अनुसार राज्य मात्रात्मक डेटा एकत्र करने के लिए बाध्य है। संपूर्ण सेवा के लिए प्रत्येक श्रेणी के पदों के लिए डेटा का संग्रह होना चाहिए।”  पीठ ने कहा कि केंद्र सरकार को अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के पदों के प्रतिशत का पता लगाने के बाद आरक्षण नीति पर फिर से विचार करने के लिए एक समय अवधि निर्धारित करनी चाहिए। अदालत ने कहा, “अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के लिए अपर्याप्त प्रतिनिधित्व के लिए समीक्षा की जानी चाहिए। समीक्षा की अवधि

एक्जिट पोल पर आयोग ने लगाई रोक, उलंघन करने पर दो वर्ष कारावास की होगी सजा, पढ़े खबर

चित्र
उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर विभिन्न सर्वे एजेंसियों के साथ ही प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के एग्जिट पोल पर निर्वाचन आयोग ने रोक लगा दी है। यह रोक दस फरवरी को सुबह सात बजे से लागू होकर सात मार्च को शाम 6:30 बजे तक जारी रहेगी। निर्वाचन आयोग एग्जिट पोल को लेकर बेहद सख्त है। इस निर्देश का उल्लंघन करने पर कम से कम दो वर्ष का कारावास और जुर्माने का प्रावधान भी किया गया है। चुनाव आयोग के निर्देश पर उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने निर्देश जारी कर दिया है। निर्वाचन आयोग एगिजट पोल को लेकर बेहद सख्त हो गया है। आयोग ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि सरकार बनाने के साथ समीकरण बिगाडऩे वाले सभी आंकड़े अब अपराध में आएंगे। इसी कारण दस फरवरी के साथ मार्च तक एग्जिट पोल दिखाने पर रोक लगा दी गई है। इसके उल्लंघन पर दो वर्ष की जेल के साथ जुर्माना की सजा है। निर्वाचन आयोग ने एक अधिसूचना जारी की। विधानसभा चुनाव के दौरान मीडिया के किसी तरह के एग्जिट पोल करने या उसे प्रकाशित करने पर रोक लगाई गई है। आयोग ने कहा कि रोक पहले चरण के मतदान के दिन सुबह सात बजे से अंतिम चरण के

नेचर के बेहद करीब अव्वल दर्जे की पढ़ाई के लिए अशोका इंस्टीट्यूट में दाखिला

चित्र
नारियल, आंवला, आम, लीची, अमरूद, सेब, आड़ू, चीकू के बाग-बगीचे ही नहीं, दुर्लभ प्रजातियों के औषधीय पौधों का खूबसूरत नजारा आपका दिल छू लेगा वाराणसी। नेचर के बेहद करीब रहकर अव्वल दर्जे की पढ़ाई और प्लेसमेंट की गारंटी चाहिए तो अशोका इस्टीट्यूट आफ टेक्नालाजी एंड मैनेजमेंट आपके सुनहरे भविष्य के लिए बेहतर पड़ाव है। बनारस के पहड़िया स्थित इस इंस्टीट्यूट में इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट और फार्मेसी में दाखिला लेकर छात्र-छात्राएं अपना भविष्य बेहतर बना सकते हैं। यहां स्टूडेंट्स को दी जाने वाली ट्रेनिंग स्टूडेंट्स के जीवन में तरक्की का रास्ता नया खोल सकती है। दरअसल, यहां ऐसे दक्ष शिक्षक हैं, जो हर परिवेश के स्टूडेंट्स की प्रतिभा निखारने में सक्षम हैं। इंग्लिश स्पीकिंग के साथ पर्सनालिटी डेवलपमेंट की ट्रेनिंग, स्टूडेंट्स को नई राह तो दिखाता ही है, यहां कदम-कदम पर फैली हरियाली और दूर तक फैले लंबे-चौड़े व हरे-भरे खेल के मैदान को देखकर कोई भी झूमने लग जाता है। प्रकृति के बीच में रहकर पढ़ना और सीखना किसे नहीं भाता। अगर आपको भी नेचर पसंद है और सुकून के पढ़ाई करना चाहते हैं तो अशोका परिसर

क्या गैर-संज्ञेय अपराधों में मजिस्ट्रेट चार्जशीट का संज्ञान ले सकता है? जानिए हाई कोर्ट का निर्णय

चित्र
इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने माना है कि सीआरपीसी की धारा 2 (डी) के मद्देनजर, जहां गैर-संज्ञेय अपराध शामिल हैं, मजिस्ट्रेट पुलिस द्वारा दायर आरोप पत्र का संज्ञान नहीं ले सकते, इसके बजाय इसे शिकायत के रूप में माना जाना चाहिए। न्यायमूर्ति सैयद आफताफ हुसैन रिजवी ने विमल दुबे और एक अन्य द्वारा धारा 482 सीआरपीसी के तहत दायर याचिका को स्वीकार कर ये निर्णय दिया।आवेदकों के वकील ने मुख्य रूप से तर्क दिया कि आईपीसी की धारा 323 और 504 के तहत एक एनसीआर पंजीकृत किया गया था और उसके बाद जांच की गई और आवेदकों के खिलाफ आरोप पत्र प्रस्तुत किया गया।  यह तर्क दिया गया कि मजिस्ट्रेट ने पुलिस रिपोर्ट को देखे बिना और कानून के प्रावधानों के खिलाफ अपराध का संज्ञान लिया, क्योंकि धारा 2 (डी) सीआरपीसी के अनुसार, यदि जांच के बाद पुलिस रिपोर्ट में असंज्ञेय अपराध का खुलासा होता है, तो यह शिकायत के रूप में माना जाना चाहिए और जांच अधिकारी/पुलिस अधिकारी को शिकायतकर्ता माना जाएगा और शिकायत मामले की प्रक्रिया का पालन किया जाना है। धारा 2(डी) सीआरपीसी के प्रावधानों को ध्यान में रखते हुए आरोप पत्र दाखिल करने और आक्

जौनपुर में 23,159 मतदान कार्मिक करायेंगे चुनाव- मनीष कुमार वर्मा डीएम

चित्र
जौनपुर। विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 को सकुशल सम्पन्न कराने हेतु जिला निर्वाचन अधिकारी मनीष कुमार वर्मा की उपस्थिति में प्रथम रैण्डमाईजेशन का कार्य एनआईसी में सम्पन्न हुआ। निर्वाचन में कुल 23159 कर्मिकों की ड्यूटी लगाई गई है, जिसमें 5833 पीठासीन अधिकारी, 5804 प्रथम मतदान अधिकारी, 5661 द्वितीय मतदान अधिकारी तथा 5089 तृतीय मतदान अधिकारी के रूप में एवं 772 माइक्रो ऑब्जर्वर लगाये गये हैं। विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 हेतु पीठासीन/मतदान अधिकारी नियुक्त कर दिया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने नियुक्त किये गये कार्मिकों को निर्देशित किया है कि वे निर्वाचन प्रक्रिया एवं ईवीएम की सैद्वांतिक एवं व्यवहारिक प्रशिक्षण की जानकारी प्राप्त कर लें तथा निर्वाचन से पूर्व उपलब्ध करायी गयी समस्त अध्ययन सामग्री एवं समस्त प्रपत्रों का गम्भीरता पूर्वक अध्ययन करके जनपद में निष्पक्ष, शान्तिपूर्ण एवं सुरक्षित चुनाव सम्पन्न कराना सुनिश्चित करेंगे।  पीठासीन/मतदान अधिकारी को 07 फरवरी से 11 फरवरी 2022 तक दो पालियों में प्रशिक्षण टी०डी० कालेज जौनपुर में दिया जायेगा। प्रथम पाली का समय 10 बजे से दोपहर

पीयू प्रशासन जानें क्यों हुआ शख्त, लापरवाह कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई : कुलसचिव

चित्र
जौनपुर ।‌वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में शैक्षणिक एवं गैर शैक्षणिक विभागों के विभागाध्यक्ष और प्रभारियों द्वारा लगातार शिकायतें मिल रही है कि उनके विभाग में तैनात कर्मचारी नियमित रूप से नहीं आते है। जो आते हैं उसमें से अधिकतर तो काम में रुचि नहीं दिखाते। इसकी वजह से काम विलंबित हो रहा है। इस पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव ने सख्त नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि ऐसे कर्मचारियों की लापरवाही से राजभवन और शासन को निर्धारित समय में पत्र भेजने में दिक्कतें हो रही हैं। इससे विश्वविद्यालय की छवि तो खराब हो रही है, अपितु राजभवन लखनऊ उत्तर प्रदेश शासन माननीय न्यायालय, आइजीआरएस और जनसूचना से संबंधित सूचनाओं को निर्धारित अवधि में प्रदान करने में विश्वविद्यालय के समक्ष संकट पैदा हो रहा है। यह प्रवृत्ति कार्य की स्वस्थ परंपरा के विपरीत है। इस संबंध में विश्वविद्यालय के कुलसचिव महेंद्र कुमार ने सभी विभागाध्यक्ष, अधीक्षक और प्रभारियों से विभाग में तैनात कर्मचारियों की प्रतिमाह स्पष्ट आख्या उपलब्ध कराने को कहा है। इससे पता चल सके कि कौन से कर्मचारी नहीं आते हैं ? ताकि ऐसे लापरवाह

आदर्श व्यक्तित्व और चिंतन के धनी थे रज्जू भैया : प्रो. निर्मला एस.मौर्य

चित्र
सेवा, समरसता एवं वैचारिक सामंजस्य के पुरोधा थे रज्जू भैया: प्रो राकेश उपाध्याय जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर स्थित प्रो. राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया) भौतिकीय विज्ञान अध्ययन एवं शोध संस्थान के द्वारा प्रो. राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया): व्यक्तित्व एवं चिंतन विषय पर एक तृतीय स्मृति व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया।  प्रो. राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया) की जन्म जयंती पर आयोजित स्मृति व्याख्यान को संबोधित करते हुए पूर्वांचल विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. निर्मला मौर्य ने कहा कि रज्जू भैया एक आदर्श व्यक्तित्व के धनी थे। उनका चिंतन हमेशा समाज के हित के लिए होता था। अपने शैक्षणिक जीवन के साथ-साथ उन्होंने अपने सामाजिक उत्तरदायित्व का भी  बखूबी निर्वहन किया। इस अवसर पर कुलपति प्रो. निर्मला मौर्य, प्रो. देवराज सिंह, डॉ नितेश जायसवाल व अन्य शिक्षकों ने रज्जू भैया के प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। संगोष्ठी के मुख्य अतिथि प्रो. राकेश उपाध्याय ने रज्जू भैया के जीवन के विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला । प्रो. उपाध्याय ने कहा कि रज्जू भैया की भौतिकी विज्ञान के क्षेत

मतदान के दिन भारतीय नागरिक होने का दे प्रमाण, सभी काम छोड़ दो, पहले वोट दो

चित्र
भारत देश महान है, करते सब मतदान है  अन्तर्मन से देना वोट, बदले में नहीं लेना नोट जौनपुर। विधानसभा सभा चुनाव में शत- प्रतिशत मतदान हेतु शनिवार को परिषदीय विद्यालय के शिक्षकों ने मतदाताओं को जागरूक करने के लिए आकर्षक रंगोली बनाई। रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर जागरूकता रैली निकाली। मतदान प्रतिशत को बढ़ाने हेतु लोगो को शपथ भी दिलाई गई।  कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बेसिक शिक्षा अधिकारी गोरखनाथ पटेल ने कहा कि मतदान करना सबका अधिकार व क‌र्त्तव्य है। मतदान करना ही भारतीय नागरिक होने का सही प्रमाण भी है। इसलिये मतदान के दिन सभी कार्य को छोड़कर पहले मतदान कर भारतीय नागरिक होने का सही प्रमाण दें। मतदाताओं को कोरोनो संक्रमण से बचाव हेतु सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए मतदान करना है। खण्ड शिक्षा अधिकारी राजीव कुमार यादव ने नेतृत्व में दिन में दस बजे बीआरसी भवन के पास मैदान में परिषदीय विद्यालय के शिक्षकों का जमावड़ा शुरू हुआ। महिला शिक्षिकाओं ने मैदान मे आकर्षक रंगोली बनाकर शत- प्रतिशत मतदान हेतु सबको जागरूक किया। मैदान में जगह- जगह बैठे शिक्षक- शिक्षिकाओं ने सोशल डिस्टेंसिग का पा

सरकारी कार्य के दौरान शिक्षक की पिटाई, शिक्षको में गुस्सा,आन्दोलन की दी चेतावनी

चित्र
जौनपुर। तहसील बदलापुर के विकास खण्ड बदलापुर स्थित ग्राम रारी कला के प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक की पिटाई को लेकर शिक्षक संघ खासा गुस्से में है और चेतावनी दी है कि सरकारी कार्य करते समय शिक्षक की पिटाई करने वालो की तत्काल गिरफ्तारी नहीं हुई तो शिक्षक आन्दोलन के लिए बाध्य हो सकते है। मिली खबर के अनुसार कोविड-19 वैक्सीनेशन कार्य में लगे प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक आज शनिवार को दबंगो ने उस समय दौड़ा दौड़कर  पिटाई कर दिया, जब वह सरकारी कार्य कर रहा था। किसी तरह शिक्षक भागकर अपनी जान बचायी। पिटाई का यह वीडियों सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद जिले के शिक्षको में आक्रोश व्याप्त हो गया है। बतादे बदलापुर ब्लाक के रारी कला प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक राजबहादुर यादव की ग्राम पंचायत देनुआं में कोविड वैक्सीनेशन का सत्यापन करने की ड्यूटी लगायी गयी है। राजबहादुर आज सेन्टर पर जाकर सत्यापन कर रहे थे। आरोप है कि इसी बीच करीब 12 बजे के आसपास गांव के संजय तिवारी नामक युवक वहां पहुंचकर राजबहादुर से अपने घर चलकर सत्यापन करने का दबाव बनाया शिक्षक द्वारा इंकार किया तो उसने थोड़ी देर में अपने तीन

एमएलसी चुनाव का कार्यक्रम जारी, जानें कब तक पूरी होगी चुनावी प्रक्रिया

चित्र
यूपी के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने विधान परिषद में स्थानीय प्राधिकारी क्षेत्र के 36 सदस्यों के चुनाव के लिए कार्यक्रम जारी कर दिया, चुनाव दो चरणों में होगा, वहीं 7 मार्च को मतदान व मतगणना 12 मार्च को होगी, मुख्य निर्वाचन अधिकारी के बताया कि पहले चरण में नामांकन पत्र चार फरवरी से 11 फरवरी के बीच भरे जाएंगे, वहीं 14 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी, 16 फरवरी को नाम वापसी व तीन मार्च को मतदान सुबह आठ से शाम चार बजे तक होगा, इसके अलावा दूसरे चरण की अधिसूचना 10 फरवरी को जारी होग, 17 फरवरी तक नामांकन पत्र भरे जाएंगे, 18 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी, व 21 फरवरी को नाम वापस लिया जा सकता है, वहीं सात मार्च को मतदान होगा, दोनों चरणों की मतगणना एक साथ 12 मार्च को होगी। “30 सीटों पर पहले चरण में होगा चुनाव” मुरादाबाद-बिजनौर, रामपुर-बरेली, बदायूं, पीलीभीत-शाहजहांपुर, हरदोई, खीरी, सीतापुर, लखनऊ-उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़, सुलतानपुर, बाराबंकी, बहराइच, आजमगढ़-मऊ, गाजीपुर, जौनपुर, वाराणसी, मीरजापुर-सोनभद्र, इलाहाबाद, बांदा-हमीरपुर, झांसी-जालौन-लल