संदेश

अप्रैल, 2022 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

सपा के जिलाध्यक्ष और भाजपा के मंडल अध्यक्ष सहित आधा दर्जन के खिलाफ बिजली चोरी का मुकदमा दर्ज

चित्र
जौनपुर। वाराणसी से आयी विजिलेंस की टीम ने स्थानीय बिजली विभाग के अधिकारियों के साथ यहां जनपद के तहसील मछलीशहर  क्षेत्र स्थित कई गांवो में छापेमारी का अभियान चलाकर बिजली की चोरी करने वालों के खिलाफ विधिक कार्यवाई की है। जिसमें सपा जिलाध्यक्ष समेत आधा दर्जन लोगों के खिलाफ विद्युत चोरी का मुकदमा दर्ज किया गया। टीम सबसे पहले क्षेत्र के भाऊपुर ईट भठ्ठा मालिक सपा के जिलाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक लालबहादुर यादव के भठ्ठा पर पहुंच गयी। इसके अलावा भाऊपुर गांव निवासी भाजपा मण्डल अध्यक्ष बृजभूषण दूबे के यहा समरसेबल का बिना वैद्य कनेक्शन के उपभोग करते पाया गया। दोनों नेताओ के खिलाफ टीम ने मुकदमा दर्ज कराया। पवन ईट भठ्ठा के मालिक राजनाथ यादव तथा प्रकाश ईट भठ्ठा के मालिक श्रीप्रकाश मिश्रा के यहा भी छापेमारी की गयी। यहा पर भी बिना वैद्य कनेक्शन बिजली का उपयोग करते पाया गया। बरईपार बाजार में संदीप चाऊमीन वाले , अमूल दूध एजेंसी के मालिक लालचंद, डा. हीरालाल यादव के हास्पिटल, प्रेम प्रकाश मिश्रा के मकान में , श्री प्रकाश मिश्रा के मकान में , पन्नालाल के शो रूम के मकान में एसी सहित कु

शिक्षा के द्वारा ही बच्चे का सम्पूर्ण विकास संभव- डॉ0 गोरखनाथ पटेल

चित्र
विकास खण्ड सिरकोनी के दो विद्यालयों स्कूल चलो अभियान का हुआ आगाज  जौनपुर। सत्र: 2022-23 में शत प्रतिशत नवीन नामांकन के अन्तर्गत शनिवार को प्राइमरी स्कूल मोथहा सिरकोनी में स्कूल चलो अभियान के तहत नामांकन मेले का आयोजन किया गया। बतौर मुख्य अतिथि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डाक्टर गोरखनाथ पटेल ने कहा कि सभी बच्चों का स्कूल में नामांकन करने के साथ ही उनका विद्यालय में ठहराव भी सुनिश्चित होना चाहिए। उन्होंने अभिभावकों को प्रेरित करते हुए कहा कि कोई बच्चा नामांकन से छूटने न पाए।  प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अरविंद शुक्ला ने अपने संबोधन में शिक्षकों के प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि परिषदीय विद्यालयों के शिक्षक घर घर जाकर नामांकन कर रहे हैं तथा बेहतर शिक्षा देकर के बच्चों का जीवन संवारने का काम कर रहे हैं।   इसके साथ ही प्राथमिक विद्यालय कादीपुर जगतगंज में स्कूल चलो अभियान रैली,नामांकन मेला का आयोजन हुआ। जिसमें जिला बेसिक शिक्षाधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल ने कहा कि शिक्षा सभी बच्चों का मौलिक अधिकार है और सबको शिक्षित करना हमारी प्राथमिकता । हमें यह तय करना होगा कि कोई भी बच्चा श

बेटी के प्रेम विवाह से नाराज उसके परिजनो ने लड़के के माता पिता पर हमला कर किया घायल, मुकदमा दर्ज एक गिरफ्तार

चित्र
जौनपुर । बेटी के प्रेम विवाह करने की रंजिश को लेकर आक्रोशित स्वजन ने हमलावर होकर लड़के के माता-पिता का हाथ-पांव तोड़ दिया। घटना बक्शा थाना क्षेत्र के मखदूमपुर गांव की है। नामजद चार आरोपितों में से एक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अन्य की तलाश कर रही है। मिली खबर के अनुसार ग्राम वासी फूलचंद गौतम के पुत्र विवेक कुमार गौतम ने कुछ माह पूर्व गांव की एक लड़की को भगाकर कोर्ट मैरिज कर लिया था। इस संबंध में दर्ज मुकदमे में लड़की के बयान के आधार पर पुलिस फाइनल रिपोर्ट लगा चुकी है। भयवश लड़का-लड़की घर से दूर किसी स्थान पर जिदगी गुजार रहे हैं। इसी रंजिश को लेकर लड़की के परिवार के लोगों ने लाठी-डंडे से लैस होकर फूलचंद के घर पर धावा बोलकर वृद्ध फूलचंद व उनकी पत्नी आशा देवी की बुरी तरह से पिटाई कर दी। फूलचंद के दोनों पैर व बायां हाथ तोड़ दिया है। आशा देवी के सिर व पैर में चोटे आई है। मौके पर पहुंची पुलिस ने एंबुलेंस से घायल दंपती को जिला अस्पताल भेजा। फूलचंद के पुत्र शिवा गौतम की तहरीर पर चारों आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने एक को गिरफ्तार कर लिया है।

यूपी में कांग्रेस में जानें कौन हो सकता है प्रदेश अध्यक्ष, प्रियंका गांधी बाड्रा का क्या है प्लान

चित्र
उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव 2022 में करारी हार के बाद कांग्रेस पार्टी राज्य में अपने संगठन को मजबूत करने के लिए तीन विकल्पों पर विचार कर रही है। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रदेश पदाधिकारियों के साथ इन विकल्पों पर विचार कर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के विचारार्थ भेज दिए हैं। बता दें कि यूपी में विधानसभा चुनाव में हार के बाद मार्च में प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष पद से अजय कुमार लल्लू के इस्तीफा दे दिया था। तब से पार्टी की प्रदेश इकाई की गतिविधियां ठप हैं।  सूत्रों के अनुसार कांग्रेस संगठन को प्रदेश में खड़ा करने के लिए पहला विकल्प तो यह है कि पार्टी के किसी वरिष्ठ नेता की अगुआई में नई उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी का गठन किया जाए जैसा कि अतीत में होता रहा है। दूसरा विकल्प यह है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के साथ चार या पांच कार्यकारी अध्यक्ष बनाये जाएं। वहीं तीसरा विकल्प यह है कि उत्तर प्रदेश को चार स्वतंत्र क्षेत्रों- पश्चिमी उत्तर प्रदेश, बुंदेलखंड, अवध क्षेत्र और पूर्वी उत्तर प्रदेश में बांटते हुए प्रत्येक के लिए अलग-अलग क

डीएम एसपी ने किया जेल का औचक निरीक्षण

चित्र
जौनपुर। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा एवं पुलिस अधीक्षक अजय साहनी ने जिला जेल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान विभिन्न बैरकों की गहन तलाशी ली गयी, तलाशी में कोई भी आपत्तिजनक वस्तु नही मिली।  अस्पताल के निरीक्षण के दौरान बीमार बंदियों से वार्ता कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त की।अधिकारियों द्वारा पाकशाला में जाकर खाने की गुणवत्ता की जांच भी की गयी। इस दौरान अधिकारियों के द्वारा बंदियों से वार्ता कर जेल के द्वारा दी जा रही सुविधाओं की जानकारी प्राप्त की। निरीक्षण के पश्चात क्या आदेश निर्देश अधिकारियों ने दिया इसका हवाला नहीं मिल सका है। जेल निरीक्षण के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक शहर डॉ संजय कुमार,क्षेत्राधिकारी जितेंद्र दूबे, जेलर कुलदीप सिंह, जेल अधीक्षक एस.के पांडेय सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

एक मई से 30 जून तक कलेक्ट्रेट के सभी न्यायालय होगे प्रातःकालीन डीएम ने दिया यह आदेश

चित्र
जौनपुर। जिलाधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट, मनीष कुमार वर्मा ने अवगत कराया है कि शासनादेश में दिये गये प्राविधानो के अन्तर्गत गर्मी व लू की तीव्रता के कारण जनपद जौनपुर में 01 मई 2022 से 30 जून 2022 तक जिला मजिस्ट्रेट के अधीन सभी माल व फौजदारी के न्यायालयो का समय विगत वर्ष की भाँति प्रातः 8.30 बजे से 2.30 बजे तक तथा न्यायालयो से सम्बन्धित कार्यालय राजस्व/फौजदारी अभिलेखागारो का समय प्रातः 8.00 बजे से अपराह्न 3.00 बजे तक एवं उपरोक्त समय मे प्रतिदिन 10.00 बजे से 11.00 बजे पूर्वाहन तक एक घण्टे का जनसुनवाई ब्रेक तथा जनपद के अन्य सभी कार्यालयो का समय यथावत पूर्वाहन 10.00 बजे से अपराह्न 5.00 बजे तक निर्धारित किया गया था, जिसमें वादकारियों के हित में आंशिक संशोधन करते हुए न्यायालयों का समय अब प्रातः 07.30 बजे से अपरान्ह 1.30 बजे तक होगा। न्यायालयों से सम्बन्धित कार्यालय, यथा राजस्व/फौजदारी अभिलेखागारों का समय प्रातः 07.00 बजे से अपरान्ह् 02.00 बजे तक निर्धारित किया जाता है। उपरोक्त समय में प्रतिदिन 09.30 बजे से 10.00 बजे पूर्वान्ह तक आधे घण्टे का लंच ब्रेक होगा एवं जनपद के अन्य सभी कार्यालय

जौनपुर शहर को अब 2031 की महायोजना के तहत बसाने की तैयारी, 01 से 30 मई तक मांगे गये है सुझाव

चित्र
जौनपुर । अभी तक जौनपुर महायोजना 2021 के आधार पर शहर को व्यवस्थित तरीके से बसाने पर काम किया गया था। जिसके आधार पर जैसे-तैसे नियमित-अनियमित ढंग से शहर में भवन व सरकारी ढांचे खड़े किए गए। अब नए तरीके से शहर के अन्य प्रारूप को बढ़ाने के लिए जौनपुर महायोजना 2031 पर काम किया जा रहा है। इसकी मंजूरी बीते 11 जनवरी को बोर्ड की बैठक में जिलाधिकारी ने दे दिया। विनियमित क्षेत्र में शामिल 233 गांवों में भी इसके विकास का खाका खिंचा जाएगा। इसके लिए एक से 30 मई तक आपत्ति मांगी गई है। इस प्रारूप की पूरी प्रदर्शनी कलेक्ट्रेट व मास्टर प्लान कार्यालय में एक मई से लगाई जाएगी। आबादी के साथ तेजी से बढ़ते शहर को सुनियोजित रूप देने के लिए महायोजना 2031 को अमली जामा पहनाया जा रहा है। नई महायोजना में शहर को भीड़ से बचाने और जाम से निजात दिलाने पर विशेष जोर है। इसके लिए शहर की ऐतिहासिकता को ध्यान में रखते हुए नए आवासीय और व्यावसायिक क्षेत्र विकसित करने पर काम हो रहा है। इन इलाकों में सड़क, बिजली, पानी जैसी बुनियादी जरूरतों की उपलब्धता और आवागमन की सहूलियत पर ध्यान रहेगा। सरकारी कार्यालयों

मानसिक मंदित 115 बच्चो को डीएम द्वारा एम आर किट वितरित

चित्र
जौनपुर। कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में शुक्रवार को दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण वितरण का आयोजन किया गया।  उक्त अवसर पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा, जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी सुश्री दिव्या शुक्ला एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के अधीनस्त कार्यरत समस्त विकास खण्ड के आई.टी. टीचर्स की उपस्थिति में कुल 115 मानसिक मंदित बच्चों को एम0आर0किट एवं 05 दृष्टिबाधित बच्चों को स्मार्टकेन का वितरण किया गया।   इस अवसर पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने कहा कि इस उपकरण के माध्यम से बच्चों के दैनिक दिनचर्या, सहज, सरल और सुगम होने के साथ पठन-पाठन में भी सहयोग मिलेगा। उन्होंने कहा हम सभी को इन बच्चों की देख-भाल और सहयोग की आवश्यकता है। हमारे सहयोग से ये बच्चें समाज की मुख्यधारा में अपनी भुमिका निभायेंगे,जिससे एक मजबूत भारत बनेगा। उक्त अवसर पर दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के सभी कर्मचारी एवं सभी आई0टी0 टीचर्स उपस्थित रहे।

नामांकन के साथ छात्रों का ठहराव भी हो सुनिश्चित - बीएसए

चित्र
जौनपुर । स्कूल चलो अभियान तथा सत्र 2022-23 में शत प्रतिशत नामांकन के तहत शुक्रवार को इंगलिश मीडियम प्राइमरी स्कूल चकताली सिरकोनी में स्कूल चलो रैली का आयोजन किया गया। बतौर मुख्य अतिथि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ गोरख नाथ पटेल ने कहा कि सभी बच्चों का स्कूल में नामांकन करने के साथ ही उनका विद्यालय में ठहराव भी सुनिश्चित होना चाहिए। उन्होंने अभिभावकों को प्रेरित करते हुए कहा कि मैं भी एक किसान का बेटा हूं। शिक्षा की ही बदौलत आज इस पद पर पहुंचा हूं। खण्ड शिक्षाधिकारी शशांक सिंह ने कहा कि यह शिक्षकों की मेहनत का परिणाम है कि सिरकोनी ब्लाक अपने लक्ष्य के प्राप्ति की ओर है। लेकिन हमें यहीं रुकना नहीं है बल्कि कोई बच्चा छूटने न पाए इसलिए प्रयास करते रहना है। प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अरविंद शुक्ला ने अपने सारगर्भित संबोधन में शिक्षकों के भगीरथ प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि परिषदीय विद्यालयों में योग्यतम शिक्षक दबे कुचले पिछड़े परिवारों के बच्चों का जीवन संवारने का काम कर रहे हैं। जिला समन्वयक (प्रशिक्षण) सुरेश चंद्र पांडेय ने कहा कि मनुष्य अगर ठान ले तो कोई

अपनी शक्तियों को पहचानने से मिलती है कारपोरेट में सफलता : प्रो.एस के.सिन्हा

चित्र
व्यक्तित्व विकास में सहायक है अभिप्रेरणा के सिद्धांत : डॉ रचना श्रीवास्तव  जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय वित्तीय अध्ययन विभाग में एक दिवसीय विशिष्ट व्याख्यान कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें चौधरी रणवीर सिंह विश्वविद्यालय, जींद, हरियाणा से आए संकाय अध्यक्ष, वाणिज्य व प्रबंध संकाय प्रोफेसर एस के सिन्हा ने वित्तीय अध्ययन विभाग के छात्रों को कारपोरेट में कैसे खुद को सफल बनाना है इसका मूल मंत्र छात्रों से साझा किया। प्रोफेसर सिन्हा ने कहा कि डायरी लेखन सफलता के लिए बहुत जरूरी है इससे हमें अपना दिन व्यवस्थित करने में मदद मिलती है और एक प्रबंधक के लिए ये बहुत जरूरी है। प्रो सिन्हा ने स्वाट एनालिसिस के बारे में बताया कि अपनी शक्तियों और कमजोरियों को पहचानने से कारपोरेट में सफलता मिलने का ज्यादा अवसर मिलता है। प्रो सिन्हा ने पी यू की मुखिया कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य के संवेदनशील नेतृत्व का उदाहरण छात्रों को दिया। सहायक आचार्य , चौधरी रणवीर सिंह विश्वविद्यालय जींद , हरियाणा ने डॉ रचना श्रीवास्तव , भी छात्रों को व्यक्तित्व विकास और अभिप्रेरणा के सिद्धांत स

शिवपाल और अखिलेश के बीच बढ़ रही दूरियां कहीं यूपी में एक नया मोर्चा बनाने की तैयारी तो नहीं ?

चित्र
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। चाचा-भतीजे की इस जंग से प्रदेश की सियासत में हलचल मची है। सपा के शीर्ष नेतृत्व की अनदेखी से नाराज तमाम नेता आजम खां के बहाने बगावती तेवर अपनाए हुए हैं। ऐसे में 2024 लोकसभा चुनाव के दौरान प्रदेश की सियासत में एक नया मोर्चा आकार लेता नजर आ रहा है। इस मोर्चे में कई छोटे दल भी शामिल हो सकते हैं। यदि शिवपाल भाजपा में शामिल नहीं हुए तो इस मोर्चे के अगुआ हो सकते हैं। शिवपाल अब सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव पर भी हमलावर हो गए हैं। हमेशा नेताजी (मुलायम सिंह) की दुहाई देने वाले शिवपाल आजम खां के बहाने उन पर हमला बोल रहे हैं। यह पहली बार हुआ है। पार्टी बनाने की बात रही हो अथवा समाजवादी परिवर्तन रथयात्रा स्थगित करने की, हर बार शिवपाल ने यही कहा कि वे नेताजी के आदेश का पालन कर रहे हैं। पहली बार उन्होंने इटावा में रहकर कहा कि नेताजी अगर आवाज उठाते तो आजम खां जेल से बाहर होते।  प्रदेश की सियासत में दखल रखने वालों का कहना है कि शिवपाल की दुहाई के पीछे एक तरफ मुस्लिम वोटबैंक की हमदर्दी है तो दूसरी तरफ सपा नेतृ

डीएम की रिपोर्ट पर जिला अस्पताल के दो डाक्टरो पर गिरी गाज हुए निलंबित, अस्पताल में हड़कंप

चित्र
जौनपुर। शहीद उमानाथ सिंह जिला अस्पताल में तैनात दो डॉक्टरों की अनुपस्थित के खिलाफ जिलाधिकरी की एक रिपोर्ट को आधार मानते हुए गुरुवार रात निलंबित कर दिया गया। इसकी जानकारी मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से ट्वीट कर दी गई है। निलंबन की खबर जिला अस्पताल में पहुंचते ही खलबली मच गई। निलंबित किए दोनों डॉक्टर लंबे समय से बिना जानकारी के अनुपस्थित चल रहे थे।  शहीद उमानाथ सिंह जिला अस्पताल में तैनात पैथालॉजिस्ट डॉक्टर सत्येंद्र कौशल सिंह और इमरजेन्सी के डॉक्टर डीपी सिंह वर्ष 2021 से ही बिना जानकारी के अनुपस्थित चल रहे थे। इसकी रिपोर्ट सीएमएस की ओर से शासन को भेजी गई थी।लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई थी।  शहीद उमानाथ सिंह जिला अस्पताल में व्याप्त खामियों को लेकर खबरें लगातार अखबारो और शोसल मीडिया पर वायरल हो रही थी। जिसे संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने अस्पताल का औचक निरीक्षण किया था। इस दौरान जिला अस्पताल के कई चिकित्सक अनुपस्थित मिले थे। डीएम ने अनुपस्थित डॉक्टर के बारे में पूछताछ की। डॉक्टर की अनुपस्थिति के संबंध में सीएमएस अनिल शर्मा ने बताया था कि कुछ डॉक

151 निकायों में होगा नये सिरे से परिसीमन, इन जिलो में बढ़ेगे वार्डो की संख्या,शासनादेश जारी

चित्र
  यूपी के 151 निकायों में नए सिरे से परिसीमन होगा। इसके बाद वहां वार्डों की संख्या बढ़ जाएंगी। इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया गया है। नगर विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव नगर विकास रजनीश दुबे के अनुसार जिलाधिकारियों को भेजे निर्देश में पांच मई तक वार्डों का गठन कर जानकारी निदेशालय को देने के लिए कहा है। वार्ड बनाने का प्रस्ताव वर्ष 2011 की आबादी के आधार पर गणना करते हुए किया जाएगा। इसमें 56 जिलों के 151 निकाय शामिल होंगे। नए 86 निकायों में नगर पंचायत 83, पालिका परिषद दो और नगर निगम एक हैं। सीमा विस्तार वाले 66 निकायों में नगर पंचायत 36, पालिका परिषद 21 व नगर निगम 9 हैं। इसके लिए नए सिरे से परिसीमन करते हुए वार्डों का गठन करना होगा। स्थानीय निकाय निदेशालय जिलों से मिलने वाले प्रस्तावों के आधार पर इसकी अनंतिम अधिसूचना जारी कराते हुए इस पर आपत्तियां मांगने के बाद इसका अंतिम प्रकाशन कराएगा। इन जिलों में होगा वार्ड गठन जालौन, ललितपुर, शाहजहांपुर, बदायूं, पीलीभीत, बस्ती, कुशीनगर, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, संतकबीरनगर, देवरिया, कानपुर देहात, कन्नौज, फर्रुखाबाद, मुरादाबाद

असिस्टेंट प्रोफेसर के 179 पर भर्ती के लिए चयन परिणाम घोषित,देखे टाप टेन में कौन है

चित्र
उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग (यूपीएचईएससी) ने विज्ञापन संख्या-50 के तहत प्रदेश के अशासकीय महाविद्यालयों में तीन विषयों में असिस्टेंट प्रोफेसर के 197 पदों पर भर्ती का अंतिम चयन परिणाम बृहस्पतिवार को जारी कर दिया। इनमें असिस्टेंट प्रोफेसर बीएड के 112, संस्कृत के 74 और असिस्टेंट प्रोफेसर कृषि रसायन के 11 पद शामिल हैं।  असिस्टेंट प्रोफेसर बीएड के 113 पदों पर भर्ती होनी थी, जिनमें 52 पद अनारक्षित, 11 पद आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, 35 पद अन्य पिछड़ा वर्ग, 14 पद अनुसूचित जाति एवं एक पद अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित है। इनमें से आयोग ने 112 पदों का अंतिम चयन परिणाम जारी किया, जबकि न्यायालय में योजित याचिका पर पारित आदेश के अनुपालन में अनारक्षित वर्ग के एक पद का रिजल्ट रोक लिया। इन पदों पर भर्ती के लिए 25 मार्च से दो अप्रैल तक हुए इंटरव्यू में 407 अभ्यर्थियों को बुलाया गया था, जिनमें से 397 अभ्यर्थी शामिल हुए। असिस्टेंट प्रोफेसर बीएड के चयनितों की टॉप टेन मेरिट में दुर्गेश सिंह यादव, राकेश कुमार सिंह, सुमन लता कटियार, उदय प्रताप सिंह, नरेंद्र कुमार, विजय कुमार सिं

थाने का निरीक्षण करने के बाद डीएम जौनपुर का हुआ यह शख्त निर्देश

चित्र
जौनपुर। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा के द्वारा थाना कोतवाली मड़ियाहूं का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी के द्वारा गहनता से अपराध रजिस्टर, तामिला रजिस्टर, त्योहार रजिस्टर, एससी एसटी रजिस्टर, गैंगस्टर रजिस्टर की बारीकी से निरीक्षण किया गया।  उन्होंने असलहों की स्थिति की जानकारी प्राप्त की। जीडी अपडेट मिला। लंबित विवेचना की स्थिति की जानकारी प्राप्त की और पाया कि विवेचना की स्थिति बहुत अच्छी है। तामिले के मामले में स्थिति संतोषजनक मिली। थानाध्यक्ष द्वारा बताया गया कि कुल 45 हिस्ट्रीशीटर है। जिलाधिकारी द्वारा अपराधियों पर प्रभावी कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए गए। महिला हेल्प डेस्क कक्ष के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा आज आए हुए शिकायतों की जानकारी ली जिस पर बताया गया कि आज कुल 03 मामले आए हैं।    जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि महिला हेल्प डेस्क कक्ष में सीसीटीवी कैमरा लगाया जाए। आगंतुकों के लिए बैठने एवं पेयजल की उचित व्यवस्था रहे। उन्होंने कहा कि महिला उत्पीड़न एवं पास्को एक्ट के मामलों में प्राथमिकता के आधार पर कार्यवाही सुनिश्चित की जाए और शिकायतकर्ता

जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक, अध्यक्ष ने दिया यह शख्त निर्देश

चित्र
जौनपुर। जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक सांसद जौनपुर श्याम सिंह यादव की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई।बैठक में सर्वप्रथम मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला द्वारा अध्यक्ष एवं उपस्थित सदस्यगण का स्वागत किया। अध्यक्ष की अनुमति से बैठक की कायवाही प्रारम्भ हुई। बैठक में सरकार की विभिन्न याजनाओ के लक्ष्यों के सापेक्ष प्रगति की समीक्षा की गई। बैठक में समिति के अध्यक्ष ने कहा कि समस्त विभाग अपने लक्ष्यों को समय से पूरा करें तथा बैठक में दिये गये निर्देश को शत प्रतिशत शासन की मंशा के अनुरुप पूर्ण करें। बैठक में सांसद द्वारा गत बैठक 28 अगस्त 2021 की परिपालन आख्या एवं महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (एमजीएनआरईजीएस), राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम), दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना (डीडीयू-जीकेवाई), प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेवीवाई), राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (एनएसएपी), प्रधानमंत्री आवास योजना (सभी के लिए मकान-शहरी), प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना (पीएमएवाई-जी), स्वच्छ भारत मिशन शहरी (एसबीएम

गरीब की बेटी की शादी कराके दूल्हे संघ कर दिया विदा

चित्र
जौनपुर। ठाकुर बाड़ी महिला विकास कल्याण समिति ने एक गरीब लड़की की शादी गौरी शंकर मंदिर सिंगरामऊ में सादे समारोह के बीच सम्पन्न करायी। संस्था प्रमुख डा. अंजू सिंह, संस्था कोषाध्यक्ष शीला दुबे, संस्था अध्यक्ष पदमिनी सिंह व संस्था के सभी कार्यकर्ता एवं क्षेत्र के गणमान्य लोगों ने वर वधु को उपहार प्रदान किया। इस अवसर पर संस्था द्वारा विभिन्न कोर्सो में प्रशिक्षण ले रहीं किशोरियां भी उपस्थित रही। विवाह सम्पन्न कराने में पंडित विनोद मिश्रा एवं पंडित दयाशंकर थे जबकि लालमनी मिश्र, सत्यजीत, नेहा, मंजू, अंकिता, प्रीती, गरुण, जीतेन्द्र दुबे, राहुल सिंह, रोहित मौर्य, ग्राम प्रधान आदि उपस्थित रहें।

हेड, डीन कराएं विद्यार्थियों की समस्या का हल: कुलपति

चित्र
जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर निर्मला एस.मौर्य ने विश्वविद्यालय के अधिकारियों के साथ बुधवार को कुलपति सभागार में बैठक की। बैठक में सभी संकाय अध्यक्ष और विभागाध्यक्ष को विभाग की छोटी-मोटी समस्याओं के लिए वार्षिक अनुरक्षण से काम कराने का निर्देश दिया गया। इस राशि का उपयोग कर विभाग अध्यक्ष और संकाय अध्यक्ष सभी कार्य करा सकेंगे, ताकि शिक्षकों और बच्चों को कोई समस्या ना आने पाए। कुलपति समस्याओं के प्रति काफी गंभीर हैं । उन्होंने कहा है कि विद्यार्थियों की समस्या का निराकरण हमारी प्राथमिकता है, इसलिए वार्षिक अनुरक्षण राशि दी जा रही है।  कुलसचिव महेंद्र कुमार ने एक आदेश जारी कर सभी विभागों से कहा है कि विद्यार्थियों से संवाद स्थापित कर उनकी समस्या का समाधान करें। विद्यार्थी शिक्षक की बिना अनुमति के समस्याओं के लिए क्यों आंदोलन कर रहे हैं। इससे पठन-पाठन और प्रशासनिक कार्य बाधित हो रहा है और विश्वविद्यालय की छवि खराब हो रही है। उनकी समस्याओं का समाधान विभागाध्यक्ष स्तर पर ही हो जाना चाहिए। अगर नहीं होता है तो इसके लिए संबंधित लोग ही उत्तरदायी हों

विधायक लकी यादव सहित इन लोंगो से होगी अतिक्रमण हटाने के खर्च, 569186 रूपये की वसूली -सीआरओ रजनीश राय

चित्र
जौनपुर। अब जिला प्रशासन ने जेसीज चौराहे से ओलन्दगंज मार्ग तक नगर पालिका परिषद जौनपुर के द्वारा अतिक्रमण हटवाये जाने के खर्चे 05 लाख 69 हजार 186 रूपए के वसूली की नोटिस कब्जा करने वालों कोजारी की गयी है अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व रजनीश राय ने बताया है कि अतिक्रमण को हटाने व पूर्व की स्थिति बहाल कराने में नगर पालिका परिषद जौनपुर द्वारा 5,69,186.00 खर्च किया गया है। उक्त धनराशि को कब्जे व कब्जे की प्रकृति के अनुसार संबंधित व्यक्तियों से वसूलने हेतु नोटिस निर्गत की गई है। उन्होंने समस्त व्यापारियों से अनुरोध किया है कि अपनी अपनी समस्त धनराशि नगर पालिका परिषद जौनपुर में तत्काल जमा करा दें अन्यथा धनराशि की वसूली संबंधित व्यक्ति से भू-राजस्व की भांति की जाएगी। इस आदेश के क्रम में उमरपुर हरिबंधनपुर मोहल्ले के महेंद्र प्रसाद जायसवाल पुत्र स्वर्गीय बनारसी पर जुर्माना धनराशि 4670, संजय कुमार पुत्र छोटेलाल का जुर्माना 4670, शिवशंकर साहनी पुत्र राजनाथ पर 18450, विधायक लकी यादव एवं ओम और वेद पुत्र स्व. पारसनाथ यादव पर 9893, हुसैनाबाद मोहल्ले के निवासी कालिका पुत्र रामलखन कालिका होटल पर

अब टीडी कॉलेज छात्रो को कम्प्यूटर का मूल भूत ज्ञान करा सकेगा - प्रो निर्मला एस.मौर्य

चित्र
जौनपुर। तिलकधारी स्नातकोत्तर महाविद्यालय, जौनपुर में संगणक कक्ष का हुआ लोकार्पण। लोकार्पण कार्यक्रम में बोलते हुए मुख्य अतिथि कुलपति, वीर बहादुर सिंह पुर्वांचल विश्विद्यालय प्रो0 निर्मला एस मौर्य ने कहा कि तिलकधारी महाविद्यालय में कम्प्यूटरीकृत तकनीकी शिक्षा का नया अध्याय प्रारम्भ हुआ है इससे छात्रों को अत्यंत आवश्यक कम्प्यूटर का मूलभूत ज्ञान प्राप्त होगा।  कार्यक्रम में बोलते हुए विशिष्ट अतिथि पूर्व कुलपति प्रो दुर्ग सिंह चौहान ने कहा कि संस्कृति, संस्कार के साथ-साथ तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में भी हम लोगों को आगे बढ़ना है। विशिष्ट अतिथि के रूप में बोलते हुए जौनपुर के जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने कहा कि तिलकधारी महाविद्यालय शिक्षा और ज्ञान का अक्षुण केंद्र है जिसके विद्यार्थी पूरे वैश्विक पटल पर अपनी ज्ञान की सर्जना शक्ति को फैला रहे हैं।  कार्यक्रम में बोलते हुए अमेरिका में रह रही श्रीमती सुमित्रा सिंह पत्नी डॉ रवि प्रकाश सिंह ने कहा कि हमारी प्रबल इच्छा है कि हम अपने देश और समाज और जिस महाविद्यालय से अटूट सम्बन्ध रहा है उसके लिए कुछ कर सकें और इसीलिए हमने डॉ रवि प्रकाश स