अब टीडी कॉलेज छात्रो को कम्प्यूटर का मूल भूत ज्ञान करा सकेगा - प्रो निर्मला एस.मौर्य


जौनपुर। तिलकधारी स्नातकोत्तर महाविद्यालय, जौनपुर में संगणक कक्ष का हुआ लोकार्पण। लोकार्पण कार्यक्रम में बोलते हुए मुख्य अतिथि कुलपति, वीर बहादुर सिंह पुर्वांचल विश्विद्यालय प्रो0 निर्मला एस मौर्य ने कहा कि तिलकधारी महाविद्यालय में कम्प्यूटरीकृत तकनीकी शिक्षा का नया अध्याय प्रारम्भ हुआ है इससे छात्रों को अत्यंत आवश्यक कम्प्यूटर का मूलभूत ज्ञान प्राप्त होगा। 
कार्यक्रम में बोलते हुए विशिष्ट अतिथि पूर्व कुलपति प्रो दुर्ग सिंह चौहान ने कहा कि संस्कृति, संस्कार के साथ-साथ तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में भी हम लोगों को आगे बढ़ना है। विशिष्ट अतिथि के रूप में बोलते हुए जौनपुर के जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने कहा कि तिलकधारी महाविद्यालय शिक्षा और ज्ञान का अक्षुण केंद्र है जिसके विद्यार्थी पूरे वैश्विक पटल पर अपनी ज्ञान की सर्जना शक्ति को फैला रहे हैं। 
कार्यक्रम में बोलते हुए अमेरिका में रह रही श्रीमती सुमित्रा सिंह पत्नी डॉ रवि प्रकाश सिंह ने कहा कि हमारी प्रबल इच्छा है कि हम अपने देश और समाज और जिस महाविद्यालय से अटूट सम्बन्ध रहा है उसके लिए कुछ कर सकें और इसीलिए हमने डॉ रवि प्रकाश सिंह संगणक कक्ष के निर्माण हेतु इस अनुदान को देने का निश्चय किया है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में प्रो कीर्ति सिंह ने कहा कि आज के विकासवादी युग में तकनीकी शिक्षा का ज्ञान अत्यंत आवश्यक है। आभार ज्ञापन प्रबन्ध समिति के सम्मानित सदस्य डॉ राधेश्याम सिंह ने किया। 
इस कार्यक्रम की विस्तृत रूप रेखा और डॉ रवि प्रकाश सिंह के व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रकाश तिलकधारी महिला महाविद्यालय के उप प्रबंधक एवं अंग्रेजी विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ डी. आर. सिंह ने डाला। महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो आलोक कुमार सिंह ने कहा कि नाइलिट से इस महाविद्यालय में ट्रिपल सी एवं ओ. लेवल के प्रशिक्षण एवं उपाधि के लिए आवेदन किया जा चुका है और जल्द ही छात्रों के लिए इसका प्रशिक्षण शुरू हो जाएगा और साथ में अन्य छात्रों को तकनीकी का अत्यंत आवश्यक ज्ञान प्राप्त होगा। 
कार्यक्रम में प्रबंध समिति के सदस्य डॉ प्रमोद कुमार सिंह, वीरेंद्र कुमार सिंह, संजय सिंह, संस्थापक परिवार से प्रकाश सिंह, पूर्व प्राचार्य यू. पी. सिंह, डॉ विनोद कुमार सिंह, डॉ अरुण कुमार सिंह, डॉ माधुरी सिंह, डॉ सरोज सिंह, शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉ विजय कुमार सिंह, मुख्य अनुशास्ता डॉ राजीव रतन सिंह एवं सभी महाविद्यालय प्राध्यापक एवं प्राध्यापिका उपस्थित रहें। कार्यक्रम का संचालन डॉ हरि ओम त्रिपाठी ने किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ