पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर यात्रा करना अब होगा मंहगा,करनी होगी जेब ढीली


नवनिर्मित पूर्वांचल एक्सप्रेसवे आमजन के लिए खोले जाने के बाद अब लोगों को यात्रा में भले ही सहूलियत महसूस हो रही है। अभी तक यह यात्रा मुफ्त थी लेकिन आगामी 1 मई से पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर भी टोल टैक्स वसूले जाने को लेकर योगी सरकार की कैबिनेट ने आधिकरिक मंज़ूरी दे दी है। आपको बता दें कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर 1 मई से वसूला जाने वाला टोल टैक्स लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे की तर्ज पर ही वसूला जाएगा। कैबिनेट के इस फैसले को लेकर समस्त तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इसके तहत टोल टैक्स वसूलने वाली कंपनी पर भारत सरकार को राजस्व के तौर पर प्रतिवर्ष ₹222 करोड़ रुपए देगी। 
शुरुआती तौर पर निर्मित यह पूर्वांचल एक्सप्रेसवे अभी 6 लेन चौड़ा है तथा एक्सप्रेसवे के चालू होने के बाद अब इसे 8 लेन चौड़ा करने की योजना बनाई जा रही है। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन बीते 16 नवंबर 2021 को प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी के करकमलों से किया गया था और इस एक्सप्रेसवे की मदद से मात्र 4 घंटे से भी कम समय में 300 किमी से अधिक की दूरी तय की जा सकती है। पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा 16 नवम्बर को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करने के बाद से अभी तक इस पर यात्रा पूरी तरह से मुफ्त थी, लेकिन अब उत्तर प्रदेश सरकार की कैबिनेट द्वारा प्राप्त मंज़ूरी के चलते आगामी 1 मई से टोल टैक्स वसूलने की शुरुआत की जाएगी। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को सुरक्षा के नज़रिए से बेहद ही बेहतर बनाया गया है। आपको बता दें कि सरकार ने एक्सप्रेसवे पर यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए गस्त वाहन, सुरक्षाकर्मी, एम्बुलेंस आदि की तैनाती की है। इसके अलावा किसी भी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए सरकार ने भरसक तैयारियां की हैं। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे वर्तमान में सबसे आधुनिक और सुविधाओं से सुसज्जित एक्सप्रेसवे में से एक है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

जौनपुर में शादी का झांसा देकर किशोरी से दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज पुलिस जांच में जुटी

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात