संदेश

मार्च, 2022 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

दूसरी पारी में योगी के तेवर शख्त सोनभद्र के डीएम सहित गाजियाबाद के एसएसपी हुए निलंबित

चित्र
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दोबारा सत्ता संभालने के बाद भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति को पूर्व की तरह प्रभावी तरीके से लागू करने का एलान किया था। बृहस्पतिवार को इसका असर देखने को मिला। मुख्यमंत्री ने भ्रष्टाचार की शिकायतों व चुनाव में लापरवाही के मामले में सोनभद्र के जिलाधिकारी टीके शिबू व अपराध नियंत्रण में नाकामी पर गाजियाबाद के एसएसपी पवन कुमार को निलंबित कर दिया है। मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक चंद्र विजय सिंह को सोनभद्र का नया डीएम बनाया गया है। अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक डा. देवेश चतुर्वेदी ने बताया है कि  जनप्रतिनिधियों द्वाराजिलाधिकारी सोनभद्र शिबू के खिलाफ शासन को खनन, जिला खनिज न्यास समिति व अन्य निर्माण कार्यों में भ्रष्टाचार की शिकायतें की जाती रही हैं। इसके अलावा विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 में इनकेद्वारा जिला निर्वाचन अधिकारी के रूप में गंभीर लापरवाही बरती गई। पोस्टल बैलेट सील न करके सार्वजनिक स्थल पर प्रदर्शित होने के कारण नेशनल मीडिया में वायरल हुई, जिसकी वजह से पूरे जिले का मतदान निरस्त होने की स्थिति उत्पन्न हो गई थ

प्रदेश में खेल प्रतिभाओं को बढ़ावा दिया जाएगा: गिरीश यादव

चित्र
लुप्तप्राय खेलों पर ध्यान देने की जरूरतः कुलपति खेल एवं युवा कल्याण मंत्री गिरीश चंद्र यादव का विवि में स्वागत  जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति सभागार में गुरुवार को प्रदेश के खेल एवं युवा कल्याण मंत्री स्वतंत्र प्रभार गिरीश चंद्र यादव का स्वागत किया गया। विश्वविद्यालय की कुलपति ने उन्हें अंगवस्त्रम और स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर खेल एवं युवा कल्याण मंत्री गिरीशचंद्र यादव ने कहा कि प्रदेश को खेल में बढ़ावा देने और समृद्धशाली बनाने पर जोर देंगे। खेल के अवसर देने के साथ-साथ प्रतिस्पर्धा करा कर प्रतिभा को सामने लाने का प्रयास किया जाएगा। इससे खिलाड़ियों को अखिल भारतीय स्तर पर आगे बढ़ने का मौका मिलेगा। उन्होंने कहा कि जिले को केंद्रीय विद्यालय के रूप में शीघ्र ही सौगात मिलने वाली है। गांव में खेल को बढ़ावा देने के लिए नव युवक मंगल दल को सक्रिय किया जा रहा है। विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर निर्मला एस. मौर्य ने स्वागत करते हुए कहा कि कबड्डी खो-खो जैसे लुप्तप्राय खेलों को बढ़ावा दिया जाए जिससे गांव के खिलाड़ियों की भी प्रतिभाओं का विकास

अनुमोदित शोध निर्देशक अपना विवरण 15 अप्रैल तक आनलाइन दें : कुलसचिव

चित्र
जौनपुर । वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय से संबद्ध समस्त राजकीय एवं अनुदानित महाविद्यालयों में शोध निर्देशकों के रूप में अनुमोदित नियमित शिक्षकों से संबंधित डाटा उपलब्ध कराने हेतु ऑनलाइन आवेदन पत्र विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड किया गया है। इसके आवेदन करने की अंतिम तिथि 10 मार्च 2022 निर्धारित की गई थी। इसे पुन: बढ़ाते हुए 15 अप्रैल 2022 किया गया है। यह जानकारी विश्वविद्यालय के कुलसचिव महेंद्र ‌कुमार ने‌ जारी कार्यालय आदेश में दी है। उन्होंने कहा कि पूर्व अनुमोदित शोध निर्देशकों द्वारा कोई भी ऑफलाइन विवरण स्वीकार नहीं किया जाएगा और 15 अप्रैल के बाद कोई भी आवेदन पर विचार नहीं किया जाएगा।

अधिवक्तागण बनाम सीआरओ की अनिश्चित कालीन जंग शुरू, जानें क्या है कारण

चित्र
जौनपुर। जनपद में एक बार फिर अधिवक्ता संघ बनाम मुख्य राजस्व अधिकारी को जंग शुरू हो गयी है ।अधिवक्ता संघ ने सीआरओ कोर्ट के पीठासीन अधिकारी पर पक्षपात पूर्ण एवं एक पक्षीय फैसला देने का आरोप लगाते हुए मुख्य राजस्व अधिकारी के कोर्ट का बहिष्कार अनिश्चित कालीन के लिए करने का एलान कर दिया है । अधिवक्ता संघ का आरोप है कि मुख्य राजस्व अधिकारी रजनीश राय कोर्ट के मुकदमों एक ही पार्टी जिससे अपना इन्ट्रेस्ट रखते थे से बहस करा कर मुकदमें का फैसला कर रहे थे। दूसरे पक्ष की बहस का अवसर ही नहीं प्रदान कर रहे थे जिसके कारण न्यायिक प्रक्रिया न्यायपूर्ण नहीं हो पा रही थी। वादकारियों के हित और न्यायपूर्ण फैसले के लिए सीआरओ की कोर्ट का बहिष्कार जरूरी हो गया है। जब तक न्याय की गारंटी नहीं मिलेगी तब तक अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहेंगे।  अधिवक्ताओं के इस निर्णय की खबर लगने पर अपर जिलाधिकारी (भू०रा०) रजनीश राय ने भी सीआरओ के न्यायालय में चलने वाले मुकदमों से सम्बन्धित वादकारियों को संदेश जारी करते हुए कोर्ट में न आने की सलाह दे दिया है। सरकारी स्तर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि जनपद के ऐसे

देर रात भीषण दुर्घटना, डम्पर से टकराई कार तीन की मौत एक जूझ रहा जीवन मौत के बीच

चित्र
बाराबंकी जिले के लोनीकटरा थाना क्षेत्र में देर रात एक भीषण सड़क हादसा हो गया। यहां प्रतापगढ़ से लखनऊ जा रहे चार युवकों की कार डम्पर से जा टकराई। दुर्घटना में कार के परखच्चे उड़ गए और कार सवार चार युवकों में से तीन युवकों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। वहीं चौथे युवक को गंभीर हालत में ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी भी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि लोनीकटरा थाना क्षेत्र के हाथी का पुरवा गांव के पास मुड़ रहे डंपर से कार टकरा गई है। डंपर में मिट्टी लगी थी। सूचना से मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से सभी घायलों को कार से बाहर निकाला और कैसी हैदर गढ़ में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने तीन लोगों को मृत घोषित कर दिया। चौथे युवक को इलाज के लिए ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया था लेकिन उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। मिट्टी लदे डंपर से जा टकराई युवकों की कार बाराबंकी जिले के लोनीकटरा थाना क्षेत्र के हाथी का पुरवा गांव के पास बुधवार की देर रात चार युवकों की कार मिट्टी लदे डंपर से जा टकराई। यह डंपर मिट्टी लादकर हाईवे पर मुड़ रहा था। तभी इन युवकों की त

आइए जानते है पूर्वांचल विश्वविद्यालय से सम्बद्ध इन 27 महाविद्यालयो का प्रवेशपत्र क्यों रूका

चित्र
जौनपुर । पूर्वांचल विश्वविद्याय से संबद्ध 27 कालेजों ने बीएड प्रथम और तृतीय सेमेस्टर का परीक्षा फार्म अभी तक नहीं जमा किए हैं। इसके कारण इनका प्रवेशपत्र रोक दिया गया है। यदि ये कालेज दो अप्रैल तक परीक्षा रसीद और फार्म जमा नहीं करते हैं तो उन्हें 25-25 हजार विलंब शुल्क देना होगा। विलंब शुल्क के साथ 3 से 5 अप्रैल तक परीक्षा फार्म जमा किए जाएंगे। सहायक कुल सचिव परीक्षा अमृतलाल ने कहा कि बिना फीस रसीद जमा किए प्रवेशपत्र जनरेट नहीं किए जाएंगे। बाबू बैजनाथ प्रसाद महाविद्यालय केराकत, दियावांनाथ केवला शंकर महाविद्यालय जौनपुर, श्री वासुदेव महाविद्यालय गुतवन प्रथम, मां शारदा कालेज सुईथाकला जौनपुर शामिला हैं। इसी तरह मां वागेश्वरी देवी महाविद्यालय नसीरपुर गाजीपुर, आर गर्ल्स डिग्री कालेज रामपुर बलभद्रपुर गाजीपुर, रमाशंकर बालगोपाल महाविद्यालय नसीरपुर गाजीपुर, आदर्श एमडी महाविद्यालय तलवल गाजीपुर, मालती महिला महाविद्यालय जंगीपुर गाजीपुर, उदय प्रताप महाविद्यालय खेताबपुर गाजीपुर, आत्म प्रकाश आदर्श महाविद्यालय जंगीपुर गाजीपुर, चौधरी चरण सिंह महाविद्यालय जखनिया गाजीपुर भी शामिल हैं। इसी क्रम

मंत्रियों को एलाट हुए आवास जानें किसे कहां मिला आसियाना देखे सूची

चित्र
उत्तर प्रदेश की नवगठित राज्य सरकार में शामिल मंत्रियों को उनके बंगलों का आंवटन  आज राज्य सम्पत्ति विभाग की तरफ से कर दिया गया है। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य  को कालीदास मार्ग स्थिति सात नम्बर बंगला दिया गया है। जबकि दूसरे डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक को विक्रमादित्य मार्ग स्थित तीन नम्बर बंगला एलाट किया गया है।  इसी तरह संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना को कालीदास मार्ग स्थित 10 नम्बर बंगला दिया गया है। अरविन्द कुमारशर्मा को मिला 14 नम्बर बंगला जबकि कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही को कालीदास मार्ग स्थित आठ नम्बर बंगला आवास के तौर पर दिया गया है। कालीदास मार्ग स्थित 14 नम्बर बंगला ऊर्जा मंत्री अरविन्द कुमारशर्मा को दिया गया है। 

नैक मंथन कार्यशाला तैयारी की कुलपति ने की समीक्षा

चित्र
जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय की कुलपति सभागार में बुधवार को नैक मंथन की कार्यशाला की तैयारी की कुलपति ने किया समीक्षा। इस अवसर पर नैक से संबंधित विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की गई। साथ में प्रारंभ के तीन क्राइटेरिया पर गहन विशेष जोर दिया गया। इस अवसर पर कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य ने कहा कि छात्रों,  अध्यापकों,  एंपलॉयर्स एवं एलुमनाई के फीडबैक को गूगल फॉर्म से भराया जाए। साथ ही साथ कंसलटेंसी गाइडलाइन बनाने के लिए तीन सदस्यी समिति गठित करने की गई। इसमें डॉ. प्रदीप कुमार,  डॉ. रजनीश भास्कर एवं डॉ. आशुतोष कुमार सिंह सदस्य रहेंगे। बताते चले कि डॉ० ए.पी.जे. अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय, लखनऊ में नैक मंथन कार्यशाला चार और  पांच अप्रैल 2022 को आयोजित है। इसमें प्रतिभाग की तैयारी हेतु यह बैठक की गई है। बैठक में विश्वविद्यालय के कुलसचिव महेंद्र कुमार,  आइक्यूएसी. समन्वयक प्रो. मानस पाण्डेय, नैक एसएसआर अध्यक्ष प्रो. देवराज सिंह , प्रो. अशोक कुमार श्रीवास्तव, डॉ. धर्मेंद्र सिंह, डॉ. आशुतोष कुमार सिंह,  डॉ आलोक कुमार वर्मा,  डॉ प्रदीप कुमार,  डॉ. रजनीश भास्कर,

जिला पंचायत के इन अनुपस्थित अधिकारी और कर्मचारियों पर गिरी गाज, जानें क्या हुई कार्रवाई

चित्र
जौनपुर। जिलाधिकारी के आदेश पर अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व राजनीश राय ने 30 मार्च 2022 को जिला पंचायत कार्यालय जौनपुर का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत कार्यालय की स्थिति अत्यन्त दयनीय मिली है। अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत जगप्रसाद मौर्य सहित अभियन्ता अखिलेश सिंह तथा अमर बहादुर सिंह, अनुराग श्रीवास्तव व अभिलाष कुमार व मनोज कुमार यादव अवर अभियन्ता तथा शत्रुधन प्रसाद वर्मा, कर अधिकारी, जिला पंचायत कार्यालय में अनुपस्थित थे और उपस्थिति में इनका नाम भी दर्ज नहीं था। उपरोक्त सभी सातो लोगों के पूरे माह का वेतन बाधित करते हुए इनके वेतन के आहरण- वितरण पर रोक लगाये जाने की संस्तुति पत्र जिलाधिकारी जौनपुर को भेजा गया है, जिसमें लेखाकार राधेरमण यादव 28, 29 व 30 तक लगातार अनुपस्थित रहे। प्रशासनिक अधिकारी धनंजय सिंह, वरिष्ठ लिपिक श्रीमती सविता श्रीवास्तव, कार चालक लल्लन प्रसाद यादव, वरिष्ठ लिपिक अशोक कुमार यादव, कनिष्ठ प्रो0 अभय राम, कनिष्ठ लिपिक श्रीमती मीरा देवी, अनुचर सत्य नारायण उपाध्याय, स्वीपर नियाज अहमद, दफदरी श्रीमती बबीता श्रीवास्तव, अनुचर श्रीमती

लोकसभा में गूंजी बदलापुर थाने की पुलिसिया करतूत,सांसद जौनपुर ने कठोर कार्रवाई की किया मांग

चित्र
  जौनपुर। जनपद के थाना बदलापुर पुलिस की दलित महिलाओ के उपर की गयी बर्बर पिटाई मामले की गूंज अब देश की सर्वोच्च पंचायत लोकसभा में पहुंच गयी है। अधिकारी दोषी पुलिस जनों के खिलाफ कार्यवाई कब करेंगे लेकिन थाना बदलापुर पुलिस की कारस्तानी अब देश और प्रदेश के सदन में गूंजने लगी।  यहां बता दे कि थाना बदलापुर क्षेत्र स्थित ग्राम देवरिया में विगत 20 मार्च 22 की एक घटना को लेकर उपजे मामले में थाना बदलापुर की पुलिस ने देवरिया गांव के दलित बस्ती की छह महिलाओ सहित दो पुरुषो कुल 08 को हिरासत में लेकर थाने गयी और रात्रि के समय ही सीसीटीबी कैमरा बन्द कर दलित महिलाओ को बड़ी बेरहमी के साथ पीटा इतना मारा कि महिलाओ की स्किन काली पड़ गयी थी।  घटना की जानकारी होने के पश्चात जनपद जौनपुर के सांसद श्याम सिंह यादव खासे गम्भीर हुए और घटना की अपने स्तर से जांच कराने के बाद इस घटना को लोकसभा में उठाते हुए कहा कि यूपी के राम राज टू की सरकार में छुट्टा जानवरो की तरह पुलिस भी छुट्टा हो गयी है। गांव के सामन्य लोंगो सहित सम्भ्रान्त जनों को थाने पर ले जा कर बेइज्जत करती हुई उनके साथ बदसलूकी कर रही है लेकिन उनके खिलाफ एक्

बढ़ती महंगाई के बीच अब केन्द्रीय कर्मचारीयों को सरकार का तोहफा,जानें कितना बढ़ा डीए

चित्र
देश में लगातार बढ़ रही महंगाई के बीच आज केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों को बड़ी सौगात दी है। मोदी सरकार ने अगले वित्त वर्ष के शुरू होने से ठीक पहले केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (डीए) में इजाफे का निर्णय लिया है। महंगाई भत्ते (डीए) को तीन प्रतिशत बढ़ाया गया है। देश में पेट्रोल–डीजल समेत खाने पीने की चीजों की कीमत में लगातार हो रहे इजाफे के बीच केंद्रीय कर्मचारियों के लिए ये एलान राहतभरा बताया जा रहा है।  केंद्रीय कैबिनेट की हुई बैठक में केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (डीए) में तीन प्रतिशत इजाफा करने का निर्णय लिया गया। बढ़े हुए महंगाई भत्ते (डीए) का लाभ केंद्रीय कर्मचारियों को 01 जनवरी 2022 से मिलेगा। तीन प्रतिशत बढ़ोतरी के बाद अब केंद्रीय कर्मचारियों और पेशनभोगियों को 34 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिलेगा। इससे पहले 31 फीसदी का प्रावधान था। केंद्र सरकार के कर्मचारियों को फिलहाल 31 फीसदी का डीए मिलता है। केंद्र सरकार ने सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के मुताबिक ही डीए में तीन फीसदी का इजाफा किया है। जिससे अब केंद्रीय कर्मचारियों को मिलने वाला महंगाई भत्ता 34 प्रतिशत ह

क्या शिवपाल अखिलेश को झटका देने के मूड में है,पकड़ सकते है भाजपा की डोर? पढ़े खबर

चित्र
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के मुखिया शिवपाल यादव भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ मिलकर भतीजे अखिलेश यादव को झटका दे सकते हैं। शिवपाल सपा अध्यक्ष अखिलेश की उपेक्षा से नाराज चल रहे हैं। शिवपाल ने बुधवार को विधायक के रूप में शपथ ग्रहण की और मीडिया से बातचीत में कहा कि समय आने पर बताऊंगा। इस कारण वह मंगलवार को अखिलेश द्वारा बुलाई गई सहयोगी दलों की बैठक में भी शामिल नहीं हुए। सूत्रों के अनुसार पिछले दिनों दिल्ली गए शिवपाल की भाजपा के शीर्ष नेताओं से मुलाकात भी हो चुकी है। जल्द ही और नेताओं से भी मुलाकात के उनके कार्यक्रम हैं। चर्चा यह भी है कि भाजपा उन्हें राज्यसभा भेज सकती है। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव के कहने पर प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव ने सपा के साथ गठबंधन कर लिया था। उन्होंने अपना नेता अखिलेश को मानते हुए अपनी पार्टी तक कुर्बान कर दी थी। इसके बावजूद अखिलेश ने चाचा शिवपाल को न सिर्फ एक सीट दी बल्कि पार्टी में वह सम्मान भी नहीं दिया जिसकी उन्हें आस थी। शिवपाल ने अपनी पार्टी के कई नेताओं के नामों की सूची अखिलेश को टिकट देने

पशु तस्कर पकड़ने गयी एसटीएफ टीम को ग्रामीणो ने जानें क्यों घेर लिया, थाना पुलिस ने बचाई जान

चित्र
जौनपुर। खुटहन थाना क्षेत्र के इमामपुर गांव में मंगलवार की दोपहर पशु तस्कर को पकड़ने गई एसटीएफ की टीम को बदमाश समझकर ग्रामीणों ने घेर लिया। इस पर एसटीएफ जवान खुद को बचाने के लिए एक मकान में घुस गए। वहां से खुटहन और खेतासराय थाने पर सूचना दी। इसके बाद पुलिस बल के पहुंचने पर ग्रामीणों को सच्चाई का पता चल गया और वे घरों में घुस गए। इसके बाद वांछित और एक अन्य को एसटीएफ हिरासत में लेकर साथ ले गई। गांव निवासी लल्लू यादव पशु तस्करी के मामले में वांछित चल रहा था। मंगलवार को एसटीएफ की टीम सादे लिबास में उसके घर पहुंच गई और उसे दबोच लिया। लेकिन गांव में अफवाह उड़ गई कि कुछ बदमाश लल्लू का अपहरण कर ले जा रहे हैं। इस पर 10-12 ग्रामीणों ने लाठी डंडा लेकर टीम को घेर लिया। ऐसे में एसटीएफ के जवानों को एक घर में घुसना पड़ गया। इसके बाद एसटीएफ की सूचना पर वहां दो थाने की पुलिस पहुंच गई। इस पर ग्रामीण खिसक लिए। एसटीएफ टीम वांछित के अलावा गांव के एक और व्यक्ति को अपने साथ ले गयी। थानाध्यक्ष अश्विनी दूबे ने बताया कि एसटीएफ की टीम गांव में गई थी। नासमझी में ग्रामीण थोड़ा उग्र हो गए थे।

जदयू नेता दीपक को गोली मारकर हत्या, पूरे राजधानी में सनसनी फैली, अपराधी पुलिस पकड़ से दूर

चित्र
बिहार की राजधानी पटना से बड़ी खबर आ रही है। यहां सोमवार शाम के समय सत्ताधारी दल जदयू के नेता दीपक कुमार मेहता की हत्या कर दी गई। दीपक जदयू नेता होने के साथ ही दानापुर नगर परिषद के उपाध्‍यक्ष थे। बताया जा रहा कि कई दिनों से उनको धमकीभरे फोन भी आ रहे थे, लेकिन वे चुनाव लड़ने की तैयारी में लगे रहे। जदयू नेता दीपक कुमार मेहता की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस वारदात से सत्ताधारी दल जदयू में भीषण आक्रोश भरा हुआ है। साथ ही मिली जानकारी के मुताबिक, वे दानापुर से विधानसभा का चुनाव लड़ने की तैयारियों में लगे हुए थे। इस बीच उन्‍हें बहुत धमकियां भी मिल रही थी।   हमले के बारे में बताया जा रहा है कि संदिग्घ बदमाशों ने उन्‍हें पांच गोलियां मारी हैं। सिर में एक और पेट एवं फेफड़े में दो-दो गोलियां लगी हैं। लेकिन अस्‍पताल पहुंचने से पहले ही दीपक की मौत हो चुकी थी। फिलहाल इस मामले से पूरी राजधानी में सनसनी फैली हुई है। वहीं वारदात के बारे में मृतक के परिजनों ने एक स्‍थानीय अपराधी का खुलासा भी किया है। पर अभी इस मामले की लिखित शिकायत दर्ज नहीं हुई है। इस मामले के बारे में मिली जानकारी के मुताब

मंत्री बनने के बाद 31 मार्च को खेल एवं युवा कल्याण मंत्री गिरीश चन्द यादव का होगा प्रथम आगमन स्वागत की तैयारी तेज

चित्र
जौनपुर। प्रदेश सरकार के खेल एवं युवा कल्याण राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार गिरीश चन्द यादव शपथ ग्रहण और विभाग बंटवारे के पश्चात 31 मार्च 22 को सड़क मार्ग द्वारा लखनऊ से जौनपुर पहली बार आगमन हो रहा है। मंत्री जी के स्वागत तैयारियां पार्टी जनों द्वारा की जा रही है। खबर है कि भाजपा के लोंगो सहित उनके शुभ चिन्तको द्वारा प्रथम आगमन पर एतिहासिक स्वागत की योजना बना रहे है। जनपद में आगमन के पश्चात मंत्री जी समाज के सभी लोंगो से मिलने के साथ ही मीडिया से भी रूबरू हो सकते है। 31 मार्च को सायंकाल तक जनपद मुख्यालय पर पहुंचने की संभावना है।

शासन की मंशा पर विभागाध्यक्षो को 3 से 6 माह कार्य योजना को लेकर डीएम जौनपुर ने दिया यह शख्त आदेश

चित्र
 जौनपुर। जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा द्वारा कलेक्ट्रट सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक की गई। जिसमें उन्होंने निर्देश दिया कि सभी विभागाध्यक्ष कार्ययोजना बनाये की अगले 03 एवं 6 महीने में क्या करना है तथा अपने अनुभवों का प्रयोग करते हुए शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं को शत-प्रतिशत लागू कराये। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि अपने-अपने कार्यालयों में समय से बैठकर लोगो की समस्याओं को सुने और शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराये। कल से विभागों का औचक निरीक्षण किया जाएगा। ब्लॉकों, कार्यालय नगर पंचायत एवं सीएचसी, पीएचसी में भी औचक निरीक्षण किया जाएगा। उन्होंने डीपीआरओ को निर्देशित किया कि ग्राम सचिवालय की कार्य प्रणाली को शीघ्र पूर्ण किया जाये, ग्राम प्रधान के साथ समन्वय स्थापित करते हुए ग्रामीण चौपाल का आयोजन किया जाये। उन्होंने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देशित किया कि महिला शक्ति को सशक्त करने के लिए मिशन शक्ति के अन्तर्गत चलायी जा रही योजनाओं को शासन की मंशा के अनुरुप गति दे। कोई भी पात्र महिला योजना से वंचित न हो।   बैठक में सभी कार्यालयो में ई-ऑफिस लागू व्यवस्था लागू क

पुरानी पेंशन सहित तमाम मांगो को लेकर डाक कर्मी हड़ताल पर, करोड़ो का कारोबार प्रभावित

चित्र
जौनपुर। केंद्र सरकार के कर्मचारी विरोधी नीतियों के लेकर डाक विभाग के कर्मचारी केंद्रीय महासंघ के आह्वान पर आज मंगलवार को दूसरे दिन भी डाक कर्मी हड़ताल पर रहे जिसका पूरे जिले में व्यापक असर साफ दिखाई दे रहा था जिले के सभी डाकघरों पर ताले लटके दिखाई देते रहे कर्मचारियों का कहना है कि जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं होंगी तब तक हम इसी तरह आंदोलन करते रहेंगे कर्मचारियों के हड़ताल से ग्रामीण क्षेत्रों में भी डाक सेवाएं पूरी तरह से प्रभावित रही लगभग 25 करोड़ों का लेनदेन प्रभावित हुआ प्रशासन द्वारा हड़ताल के दौरान कर्मचारियों के डराने धमकाने का कार्य किया जा रहा है फिर भी हमारे कर्मचारी हड़ताल पर डटे रहे यहां तक की कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर जेल तक जाने के लिए भी तैयार है कर्मचारियों की प्रमुख मांगे निम्न प्रकार हैं 1 -पुरानी पेंशन बहाल की जाए 2 -18 माह का रोका गया महंगाई भत्ता दिया जाए 3-सरकारी विभागों को बेचना बंद किया जाए 4-कर्मचारी विरोधी कानून को समाप्त किया जाए 5-अनुकंपा मुल्क भर्तियों में 5% की सीमा हटाई जाए 6-डाक सेवा में 5 दिन का कार्य दिवस लागू किया जाए 7-कमलेश चंद्रा समित

वोटरों की खरीद फरोख्त और भितरघात के खेल के साथ एमएलसी चुनाव चढ़ने लगा पिक पर,जानें क्या होगा अंजाम

चित्र
जौनपुर। जनपद में एमएलसी पद के नामांकन के बाद जैसे जैसे मतदान की तिथि नजदीक आ रही है एमएलसी पद के लिए चुनाव लड़ने वाले सपा और भाजपा के प्रत्याशियों का प्रचार अभियान तेज हो गया है। सपा - भाजपा की सीधी लड़ाई में दोनो प्रत्याशी अपनी जीत के प्रति अश्वस्त है। हलांकि जिले में सपा भाजपा के अलांवा एक निर्दल प्रत्याशी भी चुनाव मैदान में ताल ठोंके है लेकिन उनका कोई मतलब नहीं है। इसलिए यह लड़ाई दो दलों के बीच सीधी हो चुकी है। चुनाव को पूरी पारदर्शिता के साथ सम्पन्न कराने के लिए आयोग ने जिला प्रशासन के जरिये पूरी तैयारी तो की है। वोटो की खरीद फरोख्त को आयोग के द्वारा बैठाये गये प्रेक्षक रोक पाने में असमर्थ नजर आ रहे है।  बता दे एम एल सी पद के लिए चुनाव हेतु मतदान 09 अप्रैल 22 को जनपद के 22 मतदान केन्द्रो पर सम्पन्न कराया जायेगा। यहां पर सपा से डाॅ मनोज कुमार यादव तो भाजपा से बाहुबली नेता और माफिया धनंजय सिंह के खास सिपह सालार एमएलसी बृजेश सिंह प्रिंसू चुनाव मैदान में जोर आजमाइश कर रहे है। इन दो ताकतों के बीच निर्दल प्रत्याशी भानु प्रकाश सजनी हमहूं राजकुमार की तर्ज पर भाग्य आजमाने आये हु

सरकार गठन के बाद आधिकारियों के स्थानांतरण की कवायद शुरू,जिलो के डीएम एसपी होगे प्रभावित

चित्र
सरकार गठन के बाद मंत्रियों को विभाग मिलने के साथ ही अब अधिकारियों के स्थानांतरण की कवायद तेज हो गयी है। सबसे पहले शासन में बैठे अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव स्तर के अधिकारियों के तबादले की तैयारी है। उच्च स्तर पर इसके लिए मशक्कत शुरू हो चुकी है। माना जा रहा है कि प्रमुख पदों पर बैठे कई आईएएस अफसरों के दायित्वों में फेरबदल होगा। खासकर, लोक निर्माण विभाग, स्वास्थ्य, सिंचाई, उच्च शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, प्राथमिक शिक्षा, ऊर्जा जैसे विभागों के अफसरों को लेकर चर्चाएं चल रही हैं। शासन में बैठे कई ऐसे अफसर हैं जिन्होंने बेहतर काम किया है। उन्हें जो भी जिम्मेदारी दी गई उसे अच्छी तरह से निभाया। इसीलिए ऐसे अफसरों को बड़े विभागों की जिम्मेदारी मिल सकती है। डीएम, सीडीओ और एडीएम स्तर के अफसरों का तबादला विधान परिषद चुनाव की आचार संहिता समाप्त होने के बाद किया जाएगा। शासन के एक अधिकारी के मुताबिक उन अफसरों को दूसरे विभागों का दायित्व देने पर विचार चल रहा है जो एक ही विभाग में पिछले तीन या फिर चार साल से काम देख रहे हैं। इसके साथ एक से अधिक विभागों का काम देखने वाले अफसरों का बोझ कम

योगी मंत्रिमंडल में नए चेहरों को बड़ी जिम्मेदारी तो इन पांच मंत्रियों के कद को घटाया गया

चित्र
मुख्यमंत्री ने मंत्रिमंडल के नए चेहरों को बड़ी जिम्मेदारी देकर एक ओर जहां नई लीडरशिप तैयार करने की दिशा में एक कदम और आगे बढ़ाया है। वहीं युवाओं और महिलाओं को भी महत्वपूर्ण विभाग सौंपकर वोट बैंक को साधने का प्रयास किया है।  कैबिनेट मंत्री बनीं बेबीरानी मौर्य को महिला कल्याण, बाल विकास एवं पुष्टाहार जैसा महत्वपूर्ण विभाग सौंपा गया है। योगेंद्र उपाध्याय को उच्च शिक्षा जैसा बड़ा महकमा देकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 को लागू करने का साथ शिक्षा में संघ परिवार का एजेंडा लागू करने की कमान सौंपी है। प्रदेश के पर्यटन विकास के साथ सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के प्रतीक स्थलों के विकास के लिए पर्यटन मकहमे की जिम्मेदारी जयवीर सिंह को दी गई है। संदीप सिंह को बजट और मानव संसाधन की दृष्टि से काफी अहम बेसिक जैसा विभाग सौंपा गया है। पहली बार मंत्री बने जेपीएस राठौर को सहकारिता मंत्रालय की कमान सौंपकर केंद्रीय सहकारिता मंत्री अमित शाह के एजेंडे को लागू करने की जिम्मेदारी दी गई है। परिवहन विभाग की कमान तेज तर्रार दयाशंकर सिंह को सौंपकर विभाग की छवि सुधारने के साथ सड़क परिवहन की दृष्टि से यूपी को आत्

नई सरकार: योगी कैबिनेट के मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, जानें किस मंत्री को मिली क्या जिम्मेदारी? देखे सूची

चित्र
यूपी में शपथ ग्रहण के तीसरे दिन मंत्रियों को विभागों का बंटवारा कर दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी माने जाने कैबिनेट मंत्री अरविंद कुमार शर्मा को नगर विकास विभाग की जिम्मेदारी दी गई है। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को ग्राम विकास विभाग, उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक को स्वास्थ्य मंत्रालय और कैबिनेट मंत्री स्वतंत्र देव सिंह को जलशक्ति मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। 25 मार्च को लखनऊ के इकाना क्रिकेट स्टेडियम में मुख्यमंत्री योगी के अलावा 52 नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली थी।

नितिन गटकरी का आदेश एन एच पर अब खत्म होगा टोल प्लाजा,जानें कैसे होगी टोल की वसूली

चित्र
सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि 'नेशनल हाईवे पर अब लोगों को टोल प्लाजा पर रुकना नहीं पड़ेगा।' इसका मतलब यह नहीं कि आपको टोल टैक्स से छुटकारा मिल जाएगा। आपको केवल टोल प्लाजा से छुटकारा मिलेगा। जीपीएस तकनीक से टोल वसूला जाएगा। दरअसल, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि 'इलेक्ट्रिक टोल प्लाजा के बाद सरकार अब एक और कदम आगे बढ़ाते हुए जीपीएस तकनीक से टोल वसूलने की तैयारी में है। टोल कलेक्शन के लिए जीपीएस सिस्टम लागू होने के बाद टोल नाके हटा दिए जाएंगे। आपको बता दें कि अब आप इन सड़कों पर कम समय में सफ़र तय करके अपने गंतव्य स्थान पर जल्दी पहुंच जाएंगे। इलेक्ट्रिक टोल प्लाजा सिस्टम शुरू होने से टोल नाकों पर लगने वाला समय भी पहले से घटकर काफी कम हो गया है। लेकिन जल्द ही आपको इन टोल प्लाजा से भी छुटकारा मिल जाएगा। जीपीएस पर रिकॉर्ड होगा कि आपने कहां से एंट्री ली और कहां निकले- नितिन गडकरी बता दें कि संसद के बजट सत्र में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा- "सड़कों के मामले में सरकार ने कई नई तकनीकों का इस्तेमाल करना शुरू किया

खेल के मैदान का निरीक्षण करने के जानें डीएम जौनपुर ने क्या दिया शख्त आदेश

चित्र
जौनपुर ।जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा द्वारा विकासखंड खुटहन के छतौरा गांव में बने खेल मैदान का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान निर्देश दिया कि कार्य मे तेजी लाये। खण्ड विकास अधिकारी को निर्देश दिया कि रनिंग ट्रैक बनाये। वॉलीवाल एवं बैटमिंटन कोर्ट तैयार मिला। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि एक क्रिकेट मैच का टूनामेंट आयोजित किया जाए। शेरपुर सुतौली गांव में ग्रामीण स्टेडियम का निरीक्षण किया और कहा कि जो जमीन अभी भी अतिक्रमित है, उसे खाली कराया जाए।  उन्होंने कहा कि जो भी काम हो रहे है गुणवत्तापूर्ण रहे। फुटबाल, क्रिकेट, बैटमिंटन, वॉलीवाल के मैदान तैयार किये जा रहे थे। शेरपुर में बन एसएलडब्लूएम कार्य के 03 तालाब का निरीक्षण किया। कार्य देखकर खुशी व्यक्त की और मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला को निर्देश दिया कि सभी गांव में तीन तालाब बनाये जाए। जिलाधिकारी ने उत्कृष्ट कार्य करने पर ग्राम प्रधान शेरपुर शशिकाल को प्रशस्ति पत्र देने का निर्देश मुख्य विकास अधिकारी को दिया। इस अवसर पर जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी आर. डी. यादव, खण्ड विकास अधिकारी वीरभानु, उपायुक्त मनरेगा भूपे

शिक्षक संघ धरना-प्रदर्शन कर दिया चेतावनी अखिलेश को न्याय नहीं मिला तो होगा बड़ा आन्दोलन- संजय सिंह युटा

चित्र
जौनपुर। जिले के दक्षिणांचल स्थित विकास खण्ड बरसठी क्षेत्र के प्रा वि मानिकपुर पर सहायक अध्यापक शिवशंकर यादव द्वारा अपने प्रधानाध्यापक अखिलेश जायसवाल की पिटाई के मामले को लेकर बेसिक शिक्षाधिकारी द्वारा की गयी कार्रवाई को लेकर आज शिक्षक नेता संजय सिंह यूटा के नेतृत्व में बड़ी संख्या में शिक्षकों ने बीएसए कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया और ज्ञापन देते हुए प्रधानाध्यापक के साथ न्याय की मांग किया है और चेतावनी दी कि अगर जल्द न्याय नहीं मिला तो बड़े पैमाने पर प्रदर्शन किया जायेगा।  यहां बता दे कि बीते दिवस प्रा वि मानिकपुर पर प्रधानाध्यापक अखिलेश जायसवाल की वहां के सहायक अध्यापक शिवशंकर यादव ने मामूली बात के विवाद को लेकर ड्यूटी के दौरान विद्यालय परिसर में दौड़कर मारा पीट इस घटना को लेकर प्रधानाध्यापक अखिलेश जायसवाल ने थाने में मुअसं 48/22 से धारा 323,506 भादवि में मुकदमा दर्ज कराया इसके बाद बेसिक शिक्षाधिकारी ने निलंबन की कार्रवाई प्रधानाध्यापक और सहायक अध्यापक दोनो के खिलाफ किया है इसे लेकर शिक्षक संघ कह रहा जो प्रधानाध्यापक पिटा उसका कसूर क्या है कि उसे भी निलंबित किया गया है। 

भाषा के संरक्षण के लिए बढ़ाने होंगे कदम - प्रो. निर्मला एस. मौर्य

चित्र
जौनपुर । वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के सभागार में सोमवार को भारतीय भाषा पाठ्यक्रम संरचना एवं अनुवाद प्रक्रिया पर  एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के संदर्भ में किया गया। इसका आयोजन सेंटर आफ एक्सीलेंस- अनुवाद जनसंचार विभाग की ओर से हुआ। कार्यशाला में मराठी ,बांग्ला, तेलुगु, प्राकृत, संस्कृत,तमिल, भोजपुरी,  प्रयोजनमूलक हिंदी एवं  नेपाली विषय के  पाठ्यक्रम की  संरचना की गई.  उद्घाटन सत्र में कुलपति  प्रो. निर्मला एस. मौर्य ने कहा कि भाषा के संरक्षण के लिए कदम बढ़ाने होंगे. भाषा और अनुवाद के पाठ्यक्रम विद्यार्थियों को सरलता से  रोजगार के अवसर उपलब्ध कराएँगे. विश्वविद्यालय भाषा के सर्टिफिकेट और डिप्लोमा पाठ्यक्रम अगले सत्र से शुरू करेगा. प्रदेश के अन्य विश्वविद्यालयों में भी भाषा के पाठ्यक्रम  यहीं से क्रियान्वित  होंगे. प्रदेश सरकार ने पूर्वांचल विश्वविद्यालय को नोडल केंद्र बनाते हुए जिम्मेदारी दी है.  उन्होंने कहा कि देश- विदेश  में द्विभाषिया की बहुत मांग है. हमें त्रिभाषा सूत्र पर काम करना होगा.विविध भाषा के विद्वान आज एक साथ यहाँ मंथन के

विश्वविद्यालय की छवि को धूमिल करने के षणयंत्र को बर्दाश्त नहीं करेगा संविदा शिक्षक संघ - डॉ नृपेंद्र सिंह

चित्र
जौनपुर।वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के फार्मेसी संस्थान में परिसर में कार्यरत संविदा शिक्षक संघ की एक बैठक आहूत की गई जिसमें विश्वविद्यालय परिसर में चल रहे विभिन्न पाठ्यक्रमों की सेमेस्टर परीक्षाओं को लेकर विभिन्न समाचार पत्रों से प्राप्त भ्रामक सूचनाओं पर गहन चर्चा की गई।संविदा शिक्षक संघ के महामंत्री व बहुचर्चित समाजसेवी राजेश कुमार ने कहा की जो भी समाचार पत्रों के माध्यम से भ्रामक खबरें आ रही हैं वो सब तथ्यहीन व बेबुनियाद हैं जिसका संघ खंडन एवं निंदा करता है। कुलपति प्रो.निर्मला एस मौर्य के निर्देशानुसार छात्रों के  गहन जांच पड़ताल के बाद ही कक्षाओं में प्रवेश दिया जा रहा है। सभी छात्रों के लिए पेयजल हेतु वाटर कूलर होते हुए उनको किसी तरह की असविधा न हो इसलिए पानी के कैन व डिस्पेंसर के साथ ग्लास की भी व्यवस्था है। परीक्षा की सुचिता पर कोई प्रश्न ही नहीं है। संघ के अध्यक्ष डॉ नृपेंद्र सिंह ने कहा की ये भ्रामक खबरें विश्वविद्यालय की स्वच्छ छवि को धूमिल करने का प्रयास है जो कि अत्यंत ही दुर्भाग्यपूर्ण है।इस अवसर पर डॉ मुनीन्द्र सिंह , सौरभ सिंह, डॉ शैलेश प्रजापति ,

थाना सरायख्वाजा क्षेत्र में तड़तड़ाई गोलियां महिला घायल, पुलिस विधिक कार्यवाई में जुटी

चित्र
जौनपुर। जनपद के थाना सरायख्वाजा की अधीनस्थ चौकी शिकारपुर क्षेत्र स्थित ग्राम जलालपुर में आज सोमवार की सुबह जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों के बीच हुई मारपीट के दौरान गोलियां तड़तड़ा उठी जिससे एक पक्ष की महिला गम्भीर रूप से घायल हो गयी है। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस घायल को उपचारार्थ अस्पताल भेजते हुए अन्य विधिक कार्यवाई की है। हलांकि घटना के बाद अभियुक्त गण को फरार हो जाने के कारण पुलिस कोई गिरफ्तारी नहीं कर सकी है।  मिली जानकारी के अनुसार आज सोमवार की सुबह जमीन सम्बन्धित विवाद के चलते चल रही रंजिश को लेकर दो पक्षो में पहले लाठियां तड़तड़ायी इसके बाद एक पक्ष ने तमंचा से फायर शुरू कर दिया। तमंचे से चली गोली अनीता पत्नी राकेश यादव को लगी वह बेहोश होकर गिर पड़ी घटना के बाद हमलावर फरार हो गये। इधर घटना की सूचना पुलिस को दी गयी पुलिस मौके पर पहुंचकर घायल महिला को उपचार हेतु भेजकर थाने पर मुकदमा दर्ज किया है।  इस गोली काण्ड को लेकर इलाके में दहशत कायम है। खबर है कि पुलिस अभियुक्तो की तलाश कर रही है लेकिन अभी तक हमलावर पुलिस के हाथ नहीं लग सके है। 

प्रदेश में असिस्टेंट प्रोफेसर और प्राचार्य के रिक्त पदो पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू जानें क्या होगी अर्हता

चित्र
प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर और प्राचार्य के रिक्त पदों पर नई भर्ती के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इसके लिए उच्च शिक्षा निदेशालय ने सभी क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारियों को पत्र जारी कर अशासकीय महाविद्यालयों में रिक्त पदों का ब्योरा मांगा। पदों का ब्योरा मिलने के बाद निदेशालय की ओर से उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग (यूपीएचईएससी) को अधियाचन भेज जाएगा और आयोग विज्ञापन जारी कर भर्ती के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू करेगा। हालांकि निदेशालय ने पूर्व में भी अशासकीय महाविद्यालयों से असिस्टेंट प्रोफेसर के रिक्त पदों का ब्यौरा मांगा था। निदेशालय को तकरीबन दो हजार रिक्त पदों की सूचना भेजी गई थी। इसके बाद शासन ने जनशक्ति का निर्धारण करते हुए निर्देश जारी किया कि महाविद्यालयों में शिक्षक-छात्र अनुपात में असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों पर भर्ती की जाए। कुछ महाविद्यालयों में छात्रों की संख्या काफी कम है, इसके बावजूद वहां जरूरत से अधिक पदों को रिक्त दर्शाते हुए सूचना निदेशालय को भेज दी गई थी। ऐसे में निदेशालय को नए सिरे से रिक्त पदों का ब्योरा म

कंट्रोल रूम का निरीक्षण करने के बाद यूपी बोर्ड परीक्षा को लेकर डीएम ने दिया यह शख्त आदेश

चित्र
जौनपुर। यूपी बोर्ड परीक्षा को सकुशल सम्पन्न कराने को लेकर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा द्वारा कलेक्ट्रट परिसर में स्थापित कंट्रोल रुम का औचक निरीक्षण किया। कंट्रोल रूम प्रभारी रमेश यादव को निर्देशित किया कि जिन विद्यालयों में सीसीटीवी से संबंधित समस्याएं आ रही है, वहां के प्रधानाचार्य समन्वय कर समस्याओं का तत्काल निस्तारण कराएं। जिलाधिकारी ने सीसीटीवी के माध्यम से विभिन्न विद्यालयों का निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि नियमानुसार परीक्षा सम्पन्न कराई जाये, किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने जनपद के सभी परीक्षा केंद्रों में सीसीटीवी कैमरें सक्रिय है या नही के बारें में जानकारी प्राप्त की। जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि जनपद के सभी परीक्षा केन्द्रों में बोर्ड की परीक्षा नकल विहीन एवं सुचितापूर्ण ढंग से संपन्न कराएं।

सनसनी खेज घटना, पुआल के साथ जली महिला,पुलिस जांच में जुटी

चित्र
जनपद चंदौली में अलीनगर थाना के रामपुर गांव के बाहर रखे दयाराम यादव और पन्ना बिंद के पुआल में शनिवार की देर रात आग लग गई। रात में इस घटना का किसी को पता नहीं चला। सुबह किसानों ने जब पुआल की राख को हटाया तो उसमें हड्डियों का अवशेष मिला। राख में चूड़ी और मंगलसूत्र भी मिला। इससे आशंका है कि पुआल के साथ महिला भी जल मरी है। महिला कौन थी और कैसे जली इसका पता नहीं चला। मौके पर पहुंची पुलिस ने चूड़ी, मंगलसूत्र और हड्डियों को एकत्र कर फोरेंसिक जांच के लिए भेज दिया। रामपुर गांव के ताल में दयाराम यादव और पन्ना बिंद का लगभग पांच बीघे का पुआल एकत्र कर रखा गया था। शनिवार की देर रात पुआल में आग लग गई। रविवार की सुबह मौके पर पहुंचे ग्रामीणों और किसानों ने जले हुए पुआल की राख से हड्डियों व अधजले शव को देखा। सूचना पर मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष विनय प्रकाश सिंह ने जली हुई हड्डियों को एकत्र कराया। हड्डियों के पास से चूड़ी, महिला के गले की चेन भी मिली। पुलिस ने सभी को कब्जे में लेकर फोरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया है। वहीं सुबह नौ बजे तक जल रहे पुआल को दमकल विभाग की टीम ने बुझाया। घटना की सूचना

तेज रफ्तार का कहर कार ने रौंदा मौके पर तीन की हुई मौत, आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल

चित्र
  जनपद आजमगढ़ जिले में रविवार को बाद दोपहर तेज रफ्तार का कहर नजर आया। कप्तानगंज थाना क्षेत्र के तेरही बालवरगंज के पास बेकाबू कार ने राहगीरों को रौंद दिया। इस दर्दनाक हादसे में तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। स्थानीय लोगों के मुताबिक, कार कई बार पलटी है। उसमें छह लोग बैठे थे जो गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटनास्थल पर अफरातफरी मची रही। कार सवार लोग बसखारी स्थित दरगाह में मत्था टेक लौट रहे थे। जानकारी के मुताबिक अतरौलिया थाना क्षेत्र के पंचरी भगतपुर गांव निवासी 60 वर्षीय संत राम अपने बेटे प्रदीप (25) और छह साल के बच्चे के साथ बाइक से घर जा रहे थे। वह कप्तानगंज थाना क्षेत्र के तेरही बालवरगंज के पास पहुंचे ही थे कि अतरौलिया की ओर से आ रही तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो गई। वह राहगीरों को रौंदते हुए डिवाइडर के दूसरी तरफ जाकर एक चाय की दुकान में घुस गई। जिससे चाय की दुकान पूरी तरह से ध्वस्त हो गई। इस दुर्घटना में मौके पर ही तीन लोगों की मौत हो गई। जबकि कई लोग लोग घायल हो गए। घटनास्थल पर चीखपुक