तेज रफ्तार का कहर कार ने रौंदा मौके पर तीन की हुई मौत, आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल

 

जनपद आजमगढ़ जिले में रविवार को बाद दोपहर तेज रफ्तार का कहर नजर आया। कप्तानगंज थाना क्षेत्र के तेरही बालवरगंज के पास बेकाबू कार ने राहगीरों को रौंद दिया। इस दर्दनाक हादसे में तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।
स्थानीय लोगों के मुताबिक, कार कई बार पलटी है। उसमें छह लोग बैठे थे जो गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटनास्थल पर अफरातफरी मची रही। कार सवार लोग बसखारी स्थित दरगाह में मत्था टेक लौट रहे थे।
जानकारी के मुताबिक अतरौलिया थाना क्षेत्र के पंचरी भगतपुर गांव निवासी 60 वर्षीय संत राम अपने बेटे प्रदीप (25) और छह साल के बच्चे के साथ बाइक से घर जा रहे थे। वह कप्तानगंज थाना क्षेत्र के तेरही बालवरगंज के पास पहुंचे ही थे कि अतरौलिया की ओर से आ रही तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो गई।
वह राहगीरों को रौंदते हुए डिवाइडर के दूसरी तरफ जाकर एक चाय की दुकान में घुस गई। जिससे चाय की दुकान पूरी तरह से ध्वस्त हो गई। इस दुर्घटना में मौके पर ही तीन लोगों की मौत हो गई। जबकि कई लोग लोग घायल हो गए। घटनास्थल पर चीखपुकार मच गई। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना पुलिस व एंबुलेंस 108 नंबर पर दी। पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को एंबुलेंस के माध्यम से जिला अस्पताल में भिजवाया। 
मृतकों में संतराम (60) पुत्र भागीरथी निवासी पचरी भगतपुर थाना अतरौलिया, राम अवध (55) पुत्र अभिलाष और रामफेर (65) पुत्र शंकर निवासी लहरपार थाना कप्तानगंज के हैं। वहीं  25 वर्षीय प्रदीप और छह वर्ष का मासूम सहित आधा दर्जन लोग घायल हुए हैं।
स्थानीय लोगों का कहना है कि गाड़ी कई बार पलटी है। उसमें करीब आधा दर्जन लोग बैठे थे जो गंभीर रूप से घायल हो गए। स्थानीय लोगों का कहना है कि चार पहिया वाहन में सवार लोग बसखारी स्थित दरगाह में मत्था टेकने गए थे। हालांकि अभी घायलों का नाम व पता अभी स्पष्ट नहीं हो सका है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ