कोरोना संकट: सीएम योगी का बड़ा दावा,15 लाख लोगों को देगे रोजगार


लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने प्रदेश में 15 लाख श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने का दावा किया है। गत  शनिवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने आवास पर उच्चस्तरीय बैठक की। इस दौरान उन्होंने कहा कि दूसरे प्रदेशों से लौटे 15 लाख श्रमिकों को रोजगार दिया जाएगा। इसके लिए सरकार कार्ययोजना तैयार कर रही है। ये ऐसे श्रमिक हैं जो दूसरे प्रदेशों में काम करते थे, लेकिन लॉकडाउन के चलते वापस लौट आए हैं या फिर लौटने वाले हैं।
श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए गठित की गई समिति
इन श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए योगी सरकार ने एक समिति भी गठित की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में लॉकडाउन व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे।
मनरेगा और गांवों के विकास कार्यों को आगे बढ़ाने का दिया  निर्देश
सीएम योगी ने कहा कि प्रवासी श्रमिकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना चुनौतीपूर्ण कार्य है। इस दौरान पंचायतीराज विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार सिंह को ग्राम प्रधानों के माध्यम से मनरेगा और गांवों के विकास कार्यों को आगे बढ़ाने का निर्देश दिया है ।
सीएम ने कहा कि तालाब और चेक डैम के काम शुरु करा दिए जाएं। उन्होंने इस कार्य में प्रवासी मजदूरों को भी लगवाने का निर्देश दिया है । बैठक में उन्होंने कहा कि करीब 10 हजार श्रमिक पूर्वांचल, गोरखपुर लिंक और बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्य में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लगे हुए हैं।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद