अब यूपी में 30जून तक कोई सामूहिक कार्यक्रम नहीं होगा सीएम का आदेश जारी




     लखनऊ: देशभर में कोरोना वायरस तेजी से पांव पसार रहा है। इस किलर वायरस से निपटने के लिए सरकार ने लाॅकडाउन किया है। अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री योगी ने सभी जिलाधिकारियों को आदेश दिया है कि 30 जून तक प्रदेश में किसी भी सार्वजनिक और सामूहिक कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके बाद परिस्थितयों के मुताबिक फैसला लिया जाएगा।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रमजान में भी मुस्लिम समाज के धर्मगुरुओं ने घर में रहकर ही नमाज पढ़ने की अपील की है। इसलिए यह सुनिश्चित किया जाए कि कहीं कोई भी आयोजन न होने पाए।
मुख्यमंत्री ने शुक्रवार की शाम प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि किसी भी प्रकार की कोई नई व्यवस्था न शुरू होगी। मुख्यमंत्री योगी ने अवैध शराब और गोकशी पर भी कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कच्ची शराब की घटनाओं पर रोक लगाएं और गोकशी करने वालों पर एनएसए लगाया जाए।
मुख्यमंत्री योगी ने जिलाधिकारियों से कहा कि हर जिले में स्वास्थ्य विभाग और पुलिस की टीम बनाकर लॉकडाउन को सफल बनाया जाए। डीएम टीम गठित कर उनकी जवाबदेही और जिम्मेदारी तय करें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन कराएं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि बाहर से जो लोग कोरोना से संक्रमित होकर आए हैं उनके संपर्कों (कॉन्टैक्ट हिस्ट्री) की जानकारी ली जाए और इलाज में जुटे चिकित्साकर्मियों में किसी तरह से संक्रमण न फैले इसे सुनिश्चित कराएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर हमने ये तीनों चीजें कर लिया तो कोरोना पर नियंत्रण भी पा लेंगे। कोटे की दुकानों पर घटतौली न हो इसके लिए भी हर कोटे की दुकान में एक नोडल अधिकारी नियुक्त करें।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद