विकास की मासिक समीक्षा बैठक में डीएम मनीष कुमार वर्मा ने जानें क्या क्या दिये निर्देश


जौनपुर। कलेक्ट्रेट सभागार में विकास कार्यों की मासिक समीक्षा बैठक करते हुए जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने निर्देशित किया कि सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ शत-प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को दिलाया जाए।  
मासिक समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने सिंचाई अधिकारी से कुडैला डैम, कमसिन डैम की साफ-सफाई की जानकारी प्राप्त की और निर्देशित किया कि टीम द्वारा डैमों की सफाई का भौतिक सत्यापन कराया जाए। 
अधीक्षण अभियंता विद्युत को निर्देशित किया कि निवेश मित्र पोर्टल के माध्यम से विद्युत के संबंध में वित्तीय वर्ष में कितनी शिकायतें प्राप्त हुई है और कितने का निस्तारण हुआ है उसकी जानकारी उपलब्ध रखें और विद्युत संबंधी शिकायतों का निस्तारण करें। विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। लोकल फाल्ट को कम किया जाए। ट्रांसफार्मर के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया कि कहीं से शिकायत प्राप्त होती है तो अतिशीघ्र कार्यवाही की जाए। उन्होंने अधीक्षण अभियंता को निर्देशित किया कि प्रत्येक सप्ताह बिजली की स्थिति की समीक्षा वह स्वयं करें और अभियान चलाकर विद्युत चोरी को समाप्त की जाए। 
लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड से ददरा बाईपास मड़ियाहूं के बारे में जानकारी प्राप्त की और गुणवत्तापूर्ण कार्य कराये जाने के निर्देश दिये। उपनिदेशक कृषि से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के बारे में जानकारी प्राप्त की और ई-केवाईसी के संबंध में निर्देशित किया कि 31 जुलाई 2022 के पूर्व ई-केवाईसी को शत-प्रतिशत पूर्ण कराएं। उन्होंने खाद्य बीज की उपलब्धता की जानकारी प्राप्त की और निर्देशित किया कि पीएम फसल बीमा योजना लक्ष्य को शत-प्रतिशत पूर्ण कराने का निर्देश दिया।
मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डा0 राजेश कुमार से निराश्रित गोवंश, हरे चारे, भूसा दान के बारे में जानकारी प्राप्त की और निर्देशित किया कि भूसा दान करने की अपील करें। निराश्रित गोवंशो की जियो टैगिंग करा ले। बृहद गौ-संरक्षण केंद्र का निर्माण पूर्ण करें। सप्ताहिक भ्रमण करें और गो-आश्रय स्थल की देखरेख करें। उन्होंने हरे चारे, पानी, छायादार स्थान आदि की व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। 
जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को निर्देशित किया कि शहरी क्षेत्र में छुट्टा पशु, जानवर को पकड़कर गौशाला केंद्र में स्थापित करें, यह कार्य अभियान चलाकर किया जाए और जिसके द्वारा पशुओं को छोड़ा जाता है उस पर पेनाल्टी/जुर्माना लगाया जाए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ लक्ष्मी सिंह को निर्देशित किया कि अस्पतालों में डॉक्टरों की उपलब्धता, दवा, नर्स, एएनएम, जीएनएम की उपलब्धता सुनिश्चित कराये और आकस्मिक निरीक्षण भी करे।
उन्होंने आयुष्मान कार्ड ऑफलाइन, ऑनलाइन की स्थिति की जानकारी प्राप्त की और और निर्देशित किया अभियान चलाकर इसको शत-प्रतिशत किया जाए। जिलाधिकारी ने हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर की जानकारी प्राप्त की और निर्देशित किया कि सीएचसी, पीएचसी की स्थिति अच्छी की जाए और प्राथमिक उपचार की व्यवस्था उपलब्ध रहे। 
 जिलाधिकारी ने टीकाकरण के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया की जेई प्रथम, जेई द्वितीय, कोविड वैक्सीनेशन अन्य टीकाकरण को शत-प्रतिशत लगवाये जाये।जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया कि सामुदायिक शौचालय को शत-प्रतिशत क्रियान्वयन कराएं। मॉडल शौचालय के रूप में स्थापित करें। स्कूल, पंचायत भवन, आंगनबाड़ी केंद्र आदि के कायाकल्प की जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया कि पंचायत भवन में नियमित रूप से पंचायत सहायक, पंचायत सचिव, लेखपाल, प्रधान रोस्टर वाइज पंचायत भवन में बैठे और पंचायतों द्वारा चलाई जा रही समस्त प्रकार की योजनाओं की जानकारी विवरण दीवाल पर लिखवा दें और इसकी मानिटरिंग डीपीआरओ स्वयं करें।  
उन्होंने सिचाई विभाग से रिबोर के संबंध में जानकारी प्राप्त की और निर्देशित किया कि किस गांव में कितना रिबोर हुआ है उसका रिकॉर्ड रखे और भौतिक सत्यापन कराएं। प्रधानमंत्री आवास शहरी, ग्रामीण की स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त की और पीओ डूडा को निर्देशित किया कि प्रधानमंत्री सड़क योजना के अंतर्गत निर्मित की जा रही सड़कों की गुणवत्ता की जांच सुनिश्चित की जाए। 
जिलाधिकारी ने डिजिटल ट्रांजैक्शन के संबंध में पीओ डूडा को अभियान चलाकर इसकी वृद्धि किये जाने का निर्देश दिया और क्यूआर कोड को जितने लोगों द्वारा जारी किया जा रहा है उनसे डिजिटल द्वारा पैसे प्राप्त किए जाने के निर्देश दिये। एनआरएलएम के संबंध में जानकारी प्राप्त की और डीसी एनआरएलएम कि खराब प्रगति होने के कारण कड़ी नाराजगी व्यक्त की।  
जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि जितने भी पौधे लगाए जा रहे हैं उसकी देखभाल सुनिश्चित की जाए। जिलाधिकारी ने मत्स्य अधिकारी से मत्स्य पालन हेतु तालाबों का आवंटन के संबंध में जानकारी प्राप्त किया और निर्देशित किया कि तालाबों के आवंटन में पारदर्शिता के रूप में किया जाए। 
जिलाधिकारी ने समाज कल्याण अधिकारी को सामूहिक विवाह, पेंशन का सत्यापन शत-प्रतिशत कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कौशल विकास योजना से सम्बन्धित श्रमिकों के पंजीकरण की स्थिति की जानकारी प्राप्त की और सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि श्रमिकों का पंजीकरण कराना सुनिश्चित कराएं, जिससे श्रमिकों को लाभ मिले, इसमें जनप्रतिनिधियों का भी सहयोग अवश्य लें।
जिलाधिकारी ने कहा कि अभियान चलाकर शहर एवं नगर पालिका/नगर पंचायतों में साफ-सफाई के कार्य, प्लास्टिक जब्तीकरण कराए जाएं। उन्होंने कहा कि सड़क पर कही भी प्लास्टिक न दिखे। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी खंड विकास अधिकारियों के पास उनके विकासखंड में चल रहे निर्माण कार्यों की सूची अवश्य होनी चाहिए। 
उप निदेशक कृषि को निर्देश दिया कि बीज वितरण के सम्बन्ध में प्रचार-प्रसार कराये और ब्लॉकों में अच्छे किसान का नाम दीवारों पर लिखवाया जाए एवं अन्य विभागों के अच्छे कार्यों की बुकलेट तैयार करें, जिन्हें देखकर अन्य लोग भी प्रेरित हो।जिलाधिकारी द्वारा नमामि गंगे के तहत चल रहे एच.टी.पी. प्रोजेक्ट एवं घाट के सुंदरीकरण के प्रगति की जानकारी प्राप्त की और निर्देश दिया कि समय से कार्य पूर्ण कराये। जिलाधिकारी के द्वारा गेहूं क्रय केंद्रों की समीक्षा की गई।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी साई तेजा सीलम, अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व रजनीश राय, जिला विकास अधिकारी बी.बी. सिंह, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी आरडी यादव, जिला सूचना अधिकारी मनोकामना राय सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जफराबाद विधायक को हार्ट अटैक फस्टेड के बाद, मेदान्ता के लिए रेफर

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर

योगी सरकार ने यूपी में आज फिर 12 आईएएस का तबादला, देखे सूची