पुलिस चौकी के बगल बम के धमाके को आखिर सिलेंडर बिस्फोट क्यों बता रही है पुलिस ? सवाल का क्या है जबाब


अयोध्या में हैरिंग्टनगंज पुलिस चौकी से मात्र 500 मीटर पर स्थित एक घर में गुरुवार रात संदिग्ध परिस्थितियों में जोरदार धमाका हुआ है। पुलिस ने नौ बोरियों में बारूद व बम बनाने के सामान को बरामद करके हैरिंग्टनगंज पुलिस चौकी प्रांगण में रखा है। बम विस्फोट की वजह से तकरीबन तीन सौ वर्ग फीट का मकान धराशाई हो गया है। हालांकि हैरिंग्टनगंज पुलिस रात भर सिलेंडर दगने की बात दोहराती रही।
धमाका इतना भयानक था कि उसकी धमक कई  किलोमीटर दूर तक सुनाई पड़ी। धमाके में इमरान उर्फ कल्लू (30) युवक घायल हो गया है। जिसको हैरिंग्टनगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज के लिए ले जाया गया लेकिन डॉक्टरों ने घायल की गंभीर स्थिति को देखते हुए जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया है। अब उसे जिला अस्पताल से ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है। मिल्कीपुर सीओ सत्येंद्र भूषण त्रिपाठी ने बताया कि आतिशबाजी का काम यह परिवार करता था और उसके घर पर बारूद व आतिशबाजी का सामान बनाने का उपकरण भी मिला है।
बताते चलें कि बृहस्पतिवार की देर रात में इनायतनगर थाने के हैरिंग्टनगंज पुलिस चौकी से मात्र 500 मीटर दूर हैरिंग्टनगंज बाजार के उत्तर सिवान में स्थिति रहमतुल्ला के मकान में जबरदस्त धमाका हुआ। यह धमाका देर रात करीब साढ़े नौ बजे के आसपास का बताया जा रहा है। इस धमाके में रहमतुल्ला का बेटा इमरान उर्फ कल्लू घायल हो गया है। जिसका जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। घायल की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया है। परिजनों की मानें तो मिट्टी के गड्ढे में पानी भरते वक्त विस्फोट होने से यह हादसा हुआ है। हालांकि अब तक यह परिवार पुलिस को सिलेंडर फटने से हादसा होना बता रहा था। लेकिन क्षेत्र में इस धमाके को लेकर कई तरह की चर्चाएं हो रही हैं।
मजे की बात यह है कि पुलिस चौकी के बगल स्थित इस घर में इतना बड़ा बारूद का ढेर पहुंच गया और पुलिस को भनक तक नहीं लगी इसके अलावा गौरतलब पहलू यह भी है कि आखिर क्यों हैरिंग्टनगंज चौकी प्रभारी यशवंत द्विवेदी बृहस्पतिवार की रात भर सिलेंडर फटने का जाप करते रहे। मौके पर पुलिस कप्तान सहित जिले के आला अधिकारी व फारेंसिक टीम के अलावा एलआईयू व स्पेशल ब्रांच की टीम पहुंचकर जांच-पड़ताल में जुट गई है। वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि इस मामले की जांच इनायत नगर पुलिस से ना कराकर राष्ट्रीय जांच एजेंसी व स्पेशल पुलिस टीम से कराई जाए। घटनास्थल पर पहुंचे व्यापार मंडल व भाजपा नेता अजय सिंह ने कहा कि यह बड़ा मामला है और इसकी जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी से होनी चाहिए। लोगों का भरोसा स्थानीय पुलिस से उठ चुका है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

गुरूजी को अपनी छात्रा से लगा प्रेम रोग तो अब पहुंच गए सलाखों के पीछे,थाने में हुआ एफआइआर दर्ज

आखिर पत्नी ने पति के खिलाफ अप्राकृतिक दुष्कर्म का आरोप क्यों लगायी,जानें कारण

शादी से पहले दुल्हन प्रेमी संग हुई फरार मंडप में पसरा सन्नाटा, 27 नवंबर को आनी थी बारात