पूर्वांचल में पहुंच गया ब्लैक फंगस, 30 मरीजों को मिलने से मचा हड़कंप



कोरोना काल में ब्लैक फंगस के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए अब वाराणसी में शासन-प्रशासन अलर्ट हो गया है। इधर, बीएचयू में इन मरीजों के इलाज को लेकर विशेषज्ञों की कोआर्डिनेशन कमेटी बनाई गई है। इसमें ईएनटी, नेत्र रोग, चेस्ट डिपार्टमेंट, डेंटल सर्जरी सहित अन्य विभागों के चिकित्सक शामिल हैं। ब्लैक फंगस के मरीजों के इलाज, जांच, ऑपरेशन में इस कमेटी की अहम भूमिका होगी।
कोरोना की दूसरी लहर में ब्लैक फंगस वाले मरीजों की संख्या अब तेजी से बढ़ती जा रही है। बीएचयू ईएनटी डिपार्टमेंट के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. सुशील कुमार अग्रवाल के मुताबिक अब तक 30 मरीज उनके संपर्क में आ चुके हैं। इनमें से 12 मरीजों की जांच के बाद उनके इलाज की प्रक्रिया भी शुरू है।
डॉ. अग्रवाल ने बताया कि ऑनलाइन परामर्श लेने वाले 6 मरीजों को सोमवार को डिपार्टमेंट में बुलाया गया था, जिनमें से चार की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें मना कर दिया गया। जो 2 मरीज दिखाने के लिए आए थे उन्हें भी कोरोना जांच कराने की सलाह दी गई है।
डॉ. अग्रवाल ने बताया कि जिस तरह से ब्लैक फंगस के मामले बढ़ते जा रहे हैं, उसको लेकर कोरोना संक्रमित और कोरोना को मात देने वाले मरीजों और उनके परिजनों को ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है।
ईएनटी डिपार्टमेंट में डॉक्टर सुशील अग्रवाल की टीम ने अब तक तीन का ऑपरेशन किए हैं, जबकि 9 और मरीजों का ऑपरेशन होना है। जांच के बाद इसका फैसला लिया जाएगा। बीएचयू में आने वाले मरीजों को कोई परेशानी न हो और उन्हें समय से इलाज, जांच, ऑपरेशन कराया जा सके, इसके लिए टीम बना दी गई है।

तैयारियों में जुटा स्वास्थ्य महकमा, अस्पतालों में अलर्ट

ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग भी तैयारियों में जुट गया है। इसके लिए सभी कोविड अस्पतालों के साथ ही निजी अस्पतालों को अलर्ट किया गया है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी को पत्र भेजे जा चुके हैं। इस बारे में सीएमओ डॉक्टर वीबी सिंह ने बताया कि ब्लैक फंगस के मरीजों के आने के बाद उनके इलाज से जुड़ी तैयारियों और जागरूक करने का निर्देश दिया है।

बीएचयू अस्पताल के एमएस प्रो.केके गुप्ता ने बताया कि ब्लैक फंगस के मरीजों का पूरा डेटा तैयार कराया जाएगा, जिससे कि इलाज आदि की सही जानकारी मिल सके। इसके लिए कोविड एसोसिएटेड म्युकरो माइकोसिस (कैम) का गठन किया गया है। इसमें ईएनटी, प्लास्टिक सर्जरी, डेंटल सर्जरी, जनरल मेडिसिन, माइक्रोबायोलॉजी, चेस्ट,पैथालाजी आदि शामिल हैं।

ब्लैक फंगस के तीन मरीजों का होगा ऑपरेशन

बीएचयू के ईएनटी डिपार्टमेंट में डॉक्टर को दिखाने ब्लैक फंगस के दो मरीज पहुंचे, जिन्हें कोरोना जांच कराने की सलाह दी गई है। इसके अलावा पहले से कोरोना जांच करा चुके जिन तीन मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आई है, उनका ऑपरेशन जल्द होगा। उन्हें आज मंगलवार को भर्ती करने के लिए बुलाया गया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर : सुभासपा से जफराबाद विधान सभा सीट पर चुनाव लड़ सकते है डा जेपी सिंह

सपा के घोषित 56 प्रत्याशियों की सूची में जौनपुर के इन चार सीटो के प्रत्याशी घोषित

यूपी के दस सबसे अमीर विधायक : किसी के पास 35 से ज्यादा ट्रक तो कोई चलाता है 15 लाख की बाइक,जानें माननियों की कुंडली