नोडल अधिकारी कोरोना मरीजों को खोजने चले गांव की ओर,जाने क्या दिया निर्देश



जौनपुर। प्रमुख सचिव, दुग्ध विकास,मत्स्य, समन्वयक एवं पशुधन विभाग उ.प्र. शासन/नोडल अधिकारी (कोविड-19) जौनपुर भुवनेश कुमार ने विकास खण्ड मुफ्तीगंज के ग्राम पंचायत पित्तूपुर एवं सुचितपुर मे निरीक्षण कर आर.आर.टी के द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने  निगरानी समिति से कोरोना किट के वितरण एवं कोरोना टेस्टिंग के बारे में विस्तार से जानकरी प्राप्त की। नोडल अधिकारी ने कहा कि निगरानी समितियां बाहर से आये हुए लोगो का सर्वे कर उनकी कोरोना जाँच कराना सुनिश्चित करें, एन्टीजन से जांच करने के उपरांत पॉज़िटिव रिपोर्ट आने पर एल-1 अस्पताल में शिफ्ट किया जाए। लक्षणयुक्त मरीजों को कोरोना किट का वितरण करने हेतू निर्देशित किया गया।   जिला पंचायत राज अधिकारी संतोष कुमार को निर्देशित किया कि गांवो में सैनिटाइजेशन एवं साफ-सफाई का कार्य नियमित रूप से कराया जाए।

       

जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने ग्रामीणों से कहा कि बुखार, सर्दी, खांसी जैसे लक्षण आने पर तत्काल आगनबाड़ी, आशा एवं निगरानी समिति को सूचित किया जाये। उन्होंने कहा कि कोरोना टेस्ट के लिए अस्पताल जाने की आवश्यकता नहीं है, टेस्ट गाँव मे ही कर दी जाएगी। कोरोना के लक्षण आने पर कोरोना किट को  लेकर उपचार शुरू कर दें और किसी प्रकार की समस्या हो तो कंट्रोल रूम से संपर्क करे।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला, प्रभारी चिकित्साधिकारी श्रवण यादव, ग्राम प्रधान सूचितपुर वीरेन्द्र यादव, प्रधान पित्तूपुर अजीत राय सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर : सुभासपा से जफराबाद विधान सभा सीट पर चुनाव लड़ सकते है डा जेपी सिंह

सपा के घोषित 56 प्रत्याशियों की सूची में जौनपुर के इन चार सीटो के प्रत्याशी घोषित

यूपी के दस सबसे अमीर विधायक : किसी के पास 35 से ज्यादा ट्रक तो कोई चलाता है 15 लाख की बाइक,जानें माननियों की कुंडली