कोरोना को लेकर इन राज्यों के जिलाधिकारियों से प्रधानमंत्री की सीधी बात जाने क्या कहा


भारत में कोरोना संक्रमण से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। पिछले कुछ दिनों से संक्रमण के मामले में कमी आयी है, लेकिन कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। इन दिनों रोजाना 4 हजार से ज्यादा लोग अपनी जिंदगी गवा रहे हैं। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के 46 जिलों के जिलाधिकारियों के साथ बैठक की। आज यानी मंगलवार की दोपहर करीब 12 बजे शुरू हुई इस बैठक में मध्य प्रदेश, कर्नाटक, बिहार, असम, चंडीगढ़, तमिलनाडु, उत्तराखंड, गोवा, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के जिलाधिकारी शामिल थे। बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना से हालातों पर चर्चा की साथ ही जिलाधिकारियों को टेस्टिंग, ट्रैकिंग, कंटेनमेंट और वैक्सिनेशन का मंत्र दिया। इस दौरान पीएम मोदी ने प्रशासनिक अधिकारियों को कोरोना से जंग में फील्ड कमांडर बताया। 
बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में जितने जिले हैं, उतनी ही अलग-अलग चुनौतियां हैं। हर जिले की अपनी अलग चुनौतियां हैं। आप अपने जिले के चुनौतियों को बहुत बेहतर तरीके से समझते हैं। इसलिए जब आपका जिला जीतता है, तो देश जीतता है। पीएम मोदी ने कहा कि जब आपका जिला कोरोना को हराता है, तो देश कोरोना को हराता है। ग्रामीण इलाकों के लिए कही ये बात कोरोना से ग्रामीण क्षेत्रों में हालात बिगड़ रहे हैं। इस पर पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में ग्रामीण और दुर्गम क्षेत्रों में हमें बहुत ध्यान देना है। साथ ही जरूरी सेवाओं को लेकर उन्होंने जिलाधिकारियों से कहा कि कोरोना के अलावा आपको अपने जिले के हर एक नागरिक की 'ईज ऑफ लिविंग' का भी ध्यान रखना है। डॉक्टर्स के साथ भी कर चुके हैं बैठक आपको बता दें कि इससे पहले PM मोदी देश के डॉक्टरों के एक समूह के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोरोना से संबंधित स्थिति पर बात चुके हैं। इस बात की जानकारी पीएम ने खुद ट्वीट के जरिए दी है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा ने पहले फेज के चुनाव हेतु प्रत्याशियों की जारी की सूची इन लगाया दांव

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

जौनपुर में बसपा को जोर का झटका करीने से, डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा किया ज्वाइन