जो काम विपक्षी दलों ने 67 सालों में नहीं किया उसे देश प्रदेश की भाजपा सरकार ने साढ़े चार साल में कर दिखायाश - उपेन्द्र तिवारी


जौनपुर। प्रदेश सरकार को साढ़े चार साल का कार्यकाल पूरा करने पर आज प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) खेल, युवा कल्याण एवं पंचायती राज विभाग एवं प्रभारी मंत्री जौनपुर उपेंद्र तिवारी यहां कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में मीडिया से रूबरू होते हुए प्रदेश सरकार की साढ़े चार साल की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि जो काम विपक्षी दलों ने 67 सालों में  नहीं कर सकी थी उसे साढ़े चार साल में मोदी और योगी जी की सरकार ने कर दिखाया है। 
सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि जौनपुर में विगत साढ़े चार वर्षों की प्रमुख उपलब्धियों में कौशल विकास मिशन योजनान्तर्गत 24757 युवाओं को व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान कर रोजगार उपलब्ध कराया गया। सेवायोजन विभाग द्वारा कुल 5560 लाभार्थियों को प्रशिक्षित कर रोजगार उपलब्ध कराया गया। बेसिक शिक्षा विभाग जनपद जौनपुर में 5719 सहायक अध्यापकों की नियुक्ति सरकार द्वारा की गयी है। युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल विभाग जनपद जौनपुर में 13 क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारी, 01 व्यायाम प्रशिक्षक, 05 प्रान्तीय रक्षक दल जवानों की नियुक्ति सरकार द्वारा की गयी है। 
औद्योगिक क्षेत्र सतहरिया में 05 बड़ी लिमिटेड कम्पनियों को प्लाट का एलाटमेन्ट कर दिया गया है जिनके द्वारा नवीन उद्योगों हेतु रू. 100.00 करोड़ का निवेश किया जायेगा।प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत कुल 793755 कृषकों को रू. 912.36 करोड़ की धनराशि डी०बी०टी० के माध्यम से खाते में भेजी जा चुकी है। फसली ऋण मोचन- कुल 76738 कृषकों के खाते में रू. 418.50 करोड़ रू० की धनराशि भेज दी गयी है। जिन कृषकों द्वारा बैंक से ऋण लिया गया था उनका ऋण माफ किया जा चुका है।प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत 148278 कृषको को रू. 3.23 करोड़ फसल क्षतिपूर्ति बीमा कम्पनी द्वारा दिया गया है। प्रमाणित बीज वितरण कुल 184524 कृषकों को डी०बी०टी० के माध्यम से रू. 32.17 करोड़ का अनुदान डी०बी०टी० के माध्यम से कृषकों के खाते में भेजा गया है। कृषि यंत्र वितरण 3761 कृषकों को रू. 11.27 करोड़ की धनराशि डी०बी०टी० के माध्यम से कृषकों के खाते में भेजा गया है।अटल/कुसुम योजना के अन्तर्गत सोलर फोटोवोल्टेईक सिंचाई पम्प की 349 कृषकों रू. 4.74 करोड़ का अनुदान कृषको को दिया गया है। कृषि उत्पादक संघ (एफ०पी०ओ०) में अब तक 31 एफ०पी०ओ० का गठन किया जा चुका है। जो कृषि एवं अन्य क्षेत्रों में कार्य कर रहे है। मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना के अन्तर्गत 637418 किसानों के खेत की मृदा की जाँच कराकर निःशुल्क मृदा स्वास्थ्य कार्ड उपलब्ध कराया गया।एग्रीजंक्शन योजना में 76 कृषि स्नातक बेरोजगारों को प्रशिक्षित कर बीज, उर्वरक एवं कृषि रक्षा रसायन की दुकान खुलवाकर रोजगार सृजित किया गया। इनका लाइसेन्स एवं प्रशिक्षण तथा गोदाम का भाडा सरकार की तरफ से वहन किया गया। इस प्रकार 76 कृषि स्नातकों को रोजगार दिया गया जिसमें रू. 43.32 लाख की धनराशि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा दिया गया। 
प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजनान्तर्गत ड्रिप सिंचाई पद्धति स्थापना में 78.3 हे0 तथा स्प्रिंकलर पद्धति स्थापना में 2744 हे० में कुल 2783 लाभार्थियों को योजना का लाभ प्राप्त हुआ तथा वर्तमान वित्तीय वर्ष में उक्त कार्यक्रमों में 435.00 हे0 में 470 लाभार्थियों को योजना का लाभ प्राप्त हुआ है। राष्ट्रीय कृषि विकास योजनान्तर्गत कुल 149 गन्ना कृषकों को चयनित कर अनुदान की धनराशि 3,00,892.00 रु. का भुगतान कृषकों के खाते में आर.टी.जी.एस./डी. बी.टी. के माध्यम से भुगतान किया गया है। उर्वरक वितरण सहकारी विभाग द्वारा सहकारी समितियों के माध्यम से 195621 मै० टन उर्वरक (डी०ए०पी० यूरिया, एन०पी०के) का वितरण कराया गया। धान खरीद जनपद में साढ़े चार वर्षो में 345277.92 मै0 टन धान की खरीद कर रू० 617.048 करोड़ का भुगतान कुल 64161 कृषकों के खाते में कराया गया है। गेहूं खरीद में जनपद में साढ़े चार वर्षों में 235065.994 मै0टन गेहूं की खरीद कर रू. 431.825 करोड़ का भुगतान कुल 73166 कृषकों के खाते में कराया गया है। गन्ना मूल्य भुगतान साढ़े चार वर्षों में कुल 6460 गन्ना आपूर्तिकर्ता कृषकों को धनराशि 2086.54 लाख रू. गन्ना मूल्य का भुगतान कराया गया है। विभाग द्वारा विधानसभा क्षेत्र मुंगराबादशाहपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सतहरिया में विभाग की ओर से 4.75 लाख लीटर प्रतिदिन ऑक्सीजन उत्पादन करने वाला ऑक्सीजन प्लांट रू. 36.00 लाख की लागत से लगाया जा रहा है। वृद्धावस्था पेंशन योजना में साढ़े चार वर्षों में कुल 83114 लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया है। अनु० जाति/सामान्य वर्ग छात्रवृत्ति योजना साढ़े चार वर्षों में कुल 295632 छात्र/छात्राओं को लाभान्वित किया गया है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना साढ़े चार वर्षों में कुल 1682 जोड़ो को लाभान्वित किया गया हैं। अनु०जाति एवं सामान्य वर्ग शादी योजना साढ़े चार वर्षों में कुल 5056 लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया है। राष्ट्रीय परिवारिक लाभ योजना में कुल 3895 लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया। दिव्यांगजन पेंशन में कुल 4267 लाभार्थियों को रू. 26.34 लाख की धनराशि राज्य एन०आई०सी० स्तर से पी०एफ०एम०एस० प्रणाली के माध्यम से लाभार्थियों के बैंक खातों में स्थानान्तरित की जा चुकी है। वर्तमान वित्तीय वर्ष में 1805 दिव्यांग पेंशन फार्म को विशेष अभियान चलाकर स्वीकृत किया गया। निराश्रित महिला पेंशन में पति के मृत्युपरान्त निराश्रित महिला पेंशन योजनान्तर्गत कुल 66550 लाभार्थियों को 1996.50 लाख रू0 से लाभान्वित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजनान्तर्गत कुल 17793 लाभार्थियों को रू० 533.79 लाख से लाभान्वित किया जा चुका है।मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना कुल 91 लाभार्थियों को धनराशि रू. 10.92 लाख से लाभान्वित किया जा चुका है।
प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) योजनार्न्तगत कुल 52551 आवासहीन परिवारों को रू० 63061.20 लाख धनराशि अवमुक्त करते हुए प्रधानमंत्री आवास से लाभान्वित कराया गया है। मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण)- योजनान्तर्गत कुल 8937 आवासहीन परिवारों को रू० 10724.40 लाख धनराशि अवमुक्त करते हुए मुख्यमंत्री आवास से लाभान्वित कराया गया है।स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) योजनान्तर्गत जनपद जौनपुर में कुल 475963 व्यक्तिगत शौचालय का लक्ष्य है, जिसके सापेक्ष रू० 12000.00 प्रति शौचालय की दर से 455837 शौचालयों का निर्माण कार्य करा लिया गया है, जिस पर कुल धनराशि रू. 54700.44 लाख व्यय की गयी है। सामुदायिक शौचालय निर्माण जनपद में 1740 सामुदायिक शौचालय का लक्ष्य है जिसके सापेक्ष 1698 सामुदायिक शौचालयों का निर्माण कार्य पूर्ण करा लिया गया है, जिस पर कुल धनराशि रू० 7292.80 लाख व्यय की गयी है। रोड साईड सामुदायिक शौचालय निर्माण जनपद में रोड साइड / हाइवे के किनारे 60 सामुदायिक शौचालय बनाये जाने का लक्ष्य है जिसके सापेक्ष 26 सामुदायिक शौचालयों का निर्माण कार्य पूर्ण करा लिया गया है। लक्ष्य के सापेक्ष सामुदायिक शौचालय के निर्माण पर कुल धनराशि रू. 330.00 लाख व्यय किया जायेगा।पंचायत भवन निर्माण जनपद में 415 पंचायत भवनों का निर्माण कार्य कराया गया है, रू० 21.71 लाख की दर से कुल धनराशि रू. 9009.65 लाख व्यय की गयी है। अन्त्येष्टि स्थल निर्माण में जनपद में 21 अन्त्येष्टि स्थल का निर्माण कार्य कराया गया है, जिस पर प्रति अन्त्येष्टि स्थल रू. 24.11640 की दर से कुल धनराशि रू. 506.4444 लाख व्यय की गयी है। प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी)- साढ़े चार वर्षों में स्वीकृत कुल आवास 28867 के सापेक्ष 21889 लाभार्थियों को प्रथम किस्त के रूप में रू. 10944.50 लाख तथा 14846 लाभार्थियों को द्वितीय किस्त के रूप में रू. 22269.00 लाख एवं 7246 लाभार्थियों को तृतीय किस्त के रूप में रू० 3623.00 लाख अर्थात कुल रू० 36845.50 लाख की धनराशि लाभार्थियों के बैंक खाते में शासन स्तर से अवमुक्त कराकर इस योजना से लाभान्वित कराया गया।
स्वच्छ भारत मिशन (नगरीय) में साढ़े चार वर्षों में 9 नगर पालिका/नगर पंचायतों के कुल 168 वादों में वर्ष 2017-18 से अब तक कुल 8216 व्यक्तिगत शौचालय निर्माण का लक्ष्य के सापेक्ष 8216 व्यक्तिगत शौचालयों का निर्माण कार्य पूर्ण करा लिया गया है। जनपद के कुल 9 नगर पालिका/ नगर पंचायतों में 21 सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण भी कराया गया है। कोविड महामारी से बचाव एवं महामारी की रोकथाम हेतु जनपद में कुल 17,21,146 लोगो को कोविड का टीका लगाया जा चुका है।ऑक्सीजन प्लांट में कोविड-19 महामारी के प्रकोप के बाद तृतीय लहर की तैयारी हेतु जनपद की जनपद एवं ब्लॉक स्तरीय चिकित्सा इकाईयों पर कुल 13 ऑक्सीजन प्लांट संचालित कर दिया गया है। 678 ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर उपलब्ध एवं क्रियाशील है। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अन्तर्गत जनपद में वित्तीय वर्ष 2017-18 से अबतक कुल 2,54,203 गोल्डन कार्ड बनाये गये तथा रु. 5.0 लाख तक का 3811 गम्भीर रोगियों को योजना के अन्तर्गत निःशुल्क उपचार प्रदान किया गया है।  जननी सुरक्षा योजना के अन्तर्गत जनपद में वित्तीय वर्ष 2017-18 से अब तक 2,18,691 प्रसुताओं को निःशुल्क स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध करायी गयी तथा रू० 3061.67 लाख की धनराशि डी०बी०टी० के माध्यम से सीधे प्रसूताओं के बैंक खाते में हस्तान्तरित की गयी है।प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अन्तर्गत जनपद में वित्तीय वर्ष 2017-18 से अब तक 88,179 प्रथम गर्भ धारण करने वाली गर्भवती महिलाओं को डी०बी०टी० के माध्यम से रू० 4408.95 लाख की धनराशि सीधे उनके बैंक खाते में हस्तान्तरित की जा चुकी है। नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद में वर्ष 2017-18 से अब तक शून्य से 1 वर्ष तक के 4,96,002 बच्चों का पूर्ण टीकाकरण का लाभ दिया जा चुका है। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (गोल्डन कार्ड)- जनपद में योजना अन्तर्गत कुल चयनित परिवार 159545 हैं, जिसमें से 102780 परिवारों के 268026 सदस्यों के गोल्डन कार्ड बनाये गये।आयुष्मान भारत- मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान (गोल्डन कार्ड)- जनपद में इस योजना अन्तर्गत जनपद में चयनित परिवार 16043 हैं, जिसमें से 8217 परिवारों के 15970 सदस्यों के गोल्डन कार्ड बनाये गये।आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (उपचारित लाभार्थी)- जनपद में इस योजना के तहत 10509 लाभार्थियों के ईलाज हेतु रु. 11.47 करोड़ व्यय किया जा चुका है। पशुपालन विभाग में जनपद में कुल 88 अस्थायी गौ आश्रय केन्द्र तथा 02 बृहद गौ संरक्षण केन्द्र संचालित है जिसमें कुल 8653 गोवंश संरक्षित किये गये हैं। मा० मुख्यमंत्री निराश्रित/बेसहारा गोवंश सहभागिता योजनांतर्गत जनपद में कुल 1157 गोवंश की सुपुर्दगी की गयी है। 03 बृहद गौ-संरक्षण केन्द्र तहसील शाहगंज, सदर जौनपुर व बदलापुर में निर्माणाधीन है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना वर्ष 2020-21 में दिसम्बर तक प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत कुल 02 सड़के, जिनकी कुल लम्बाई 14.60 कि०मी० है, का कार्य पूर्ण कराया गया है तथा 28 सड़कें जिनकी कुल लम्बाई 252.22 कि०मी० है, का मरम्मत कार्य कराया गया। वर्ष 2021-22 में 37 नई सड़कों को चयनित कर निर्माण कराया जा रहा है।
नई सड़कों का निर्माण- जनपद में वर्ष 2017-18 से अब तक कुल लक्षित 448 नई सड़कों, जिनकी कुल लम्बाई 664.49 कि०मी० है के सापेक्ष 350 सड़कों का निर्माण कार्य पूर्ण कराते हुए 458.41 कि०मी० नई सड़क का निर्माण कराया गया। ओ०डी०आर०/एम०डी०आर०/ राज्य मार्गों का अनुरक्षण जनपद में वर्ष 2017-18 से अब तक कुल लक्षित 113 सड़कों, जिनकी लम्बाई 617.26 कि०मी० है, के सापेक्ष अब तक 91 सड़कों के कुल 595.70 कि०मी० का कार्य पूर्ण करा दिया गया है। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के अन्तर्गत जनपद में कुल 807841 राशनकार्ड प्रचलित है, जिसके सापेक्ष कुल यूनिटों की संख्या- 3802367 है। विगत साढ़े चार वर्षों में शासन द्वारा नियमित योजना के अन्तर्गत कुल 125472 अन्त्योदय कार्ड के सापेक्ष 1204531.20 कुं० गेहूँ तथा 903398.40 कु0 चावल तथा पात्र गृहस्थी के 682369 कार्डो के सापेक्ष 4913056.80 कु0 गेहूँ व 3275371.20 कुo चावल का वितरण किया गया। इसी प्रकार कोविड 19 महामारी के दृष्टिगत प्रथम व द्वितीय लहर के दौरान शासन द्वारा अतिरिक्त योजना के अन्तर्गत 150510.58 कु0 गेहूँ व 100014.08 कुं० चावल का वितरण कराया गया। कोविंड महामारी के दृष्टिगत प्रथम तथा द्वितीय लहर में प्रवासियों के कुल 10586 नये राशनकार्ड जारी किये गये। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजनांतर्गत प्रथम चरण में जनपद जौनपुर में कुल 304506 लाभार्थियों को निःशुल्क गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया गया। आई०ओ०सी०एल० (एल०पी०जी०) के एरिया विक्रय प्रबन्धक (नोडल उज्ज्वला) के द्वारा अवगत कराया गया कि भारत सरकार द्वारा पुनः प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना आरम्भ कर दिया गया है। वर्तमान में गैस कनेक्शन जारी करने हेतु पात्र लाभार्थियों से के०वाई०सी० का फार्म प्राप्त कर ऑनलाइन फीड कराने का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। श्रम विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं में लाभान्वित श्रमिक मातृत्व शिशु बालिका मदद योजना के अन्तर्गत 1027 श्रमिकों को रू.105.64 लाख की धनराशि से लाभान्वित कराया गया है। कन्या विवाह अनुदान योजना के अन्तर्गत 487 श्रमिकों को रू. 266.65 लाख की धनराशि से लाभान्वित कराया गया है। मेधावी छात्र पुरस्कार योजना के अन्तर्गत 373 श्रमिकों के पुत्र / पुत्रियों को रू. 10.16 लाख की धनराशि से लाभान्वित कराया गया है।संत रविदास शिक्षा सहायता योजना के अन्तर्गत 530 श्रमिकों के पुत्र / पुत्रियों को रू. 9.97 लाख की धनराशि से लाभान्वित कराया गया है।मृत्यु एवं विकलांगता सहायता योजना के अन्तर्गत 163 श्रमिकों को रू. 386.40 लाख की धनराशि से लाभान्वित कराया गया है। चिकित्सा सुविधा योजना के अन्तर्गत 17518 श्रमिकों को रू. 523.40 लाख की धनराशि से लाभान्वित कराया गया है।
इस अवसर पर राज्यमंत्री आवास एवं शहरी नियोजन गिरीश चंद्र यादव , राज्यसभा सद सीमा द्विवेदी, विधायक केराकत दिनेश चौधरी, जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा सहित भाजपा के दोनों जिलाध्यक्ष तथा अन्य भाजपा जन उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक