डीएम ने विधानसभा चुनाव के तैयारियों की समीक्षा के बाद दिया यह शख्त आदेश


जौनपुर। विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 को सकुशल,निष्पक्ष, एवं शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराये जाने के उद्देश्य तथा निर्वाचन सम्बन्धित विविध कार्यो को समयबद्ध एवं सुचारू रूप से सम्पन्न कराये जाने एवं भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशो का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराये जाने हेतु जनपद के रिटर्निंग ऑफिसर, सहायक रिटर्निंग ऑफिसर, समस्त प्रभारी अधिकारियों संग बैठक जिला निर्वाचन अधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रट सभागार में सम्पन्न हुई।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने प्रभारी अधिकारियो से प्रेक्षक व्यवस्था, आचार संहिता अनुपालन, संवेदनशील एवं अति संवेदनशील बूथ की जानकारी, नामांकन एवं मतगणना में टेन्ट व्यवस्था, नामांकन पूर्वाभ्यास, पार्टी रवानगी की व्यवस्था, वाहन व्यवस्था आदि मानिटरिंग टीम के गठन एवं उनके कार्यो के पर्यवेक्षण की जानकारी, डाक मतपत्र/वेबकास्टिंग तथा सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था, निर्वाचन व्यय लेखा, निर्वाचन लेखन समाग्री/प्रपत्र व्यवस्था, खान पान व्यवस्था, स्वीप, दिव्यांग मतदाताओं से सम्बन्धित व्यवस्था, रूट चार्ट, कम्युनिकेशन प्लान, विद्युत प्रकाश, पेय जल, साफ-सफाई, दूरभाष व्यवस्था, सूचना प्राप्ति-प्रेषण तथा कोविड-19 हेल्प डेस्क व्यवस्था हेतु अब तक कराये गये कार्यो की विस्तारपूर्वक समीक्षा की।
उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी संतोष कुमार को निर्देशित किया कि दो दिन के भीतर कैमरे की व्यवस्था सुनिश्चित कर लिया जाये। सचल दस्ते की टीमों को संदिग्ध वाहनों की बारीकी से चेक करने के निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि शेष कार्य जो किये जाने है उसे अविलम्ब पूर्ण कराने का निर्देश सम्बन्धित प्रभारी अधिकारियों को दिया।उन्होंने कहा कि समस्त कार्यो को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्गत आदेशो के अन्तर्गत नियमानुसार नियत तिथियों तक अवश्य पूर्ण करा लिया जाये जिसका समस्त उत्तरदायित्व सम्बन्धित प्रभारी अधिकारी का होगा।
उन्होंने मतदान केन्द्र पर विद्युत, साफ-सफाई, आने जाने वाले रास्ते की मरम्मत, पेयजल की व्यवस्था, शौचालय, रैंप, सीसीटीवी कैमरे लगाने, वेवकास्टिंग कराये जाने के लिए हर मतदान कक्ष में इलेक्ट्रिक बोर्ड जिसमें प्लग लग सके होना आवश्यक है। सम्बन्धित कार्य पूर्व में सुनिश्चित करने का निर्देश दिया अन्यथा बाद में किसी भी विधानसभा में अगर किसी भी प्रकार की कमियां पायी गयी तथा भारत निर्वाचन आयोग के गाईड लाईन के विपरीत कार्य पाये गये तो सम्बन्धित प्रभारी अधिकारी जिम्मेदार होते हुए दण्ड के पात्र होगे।  
सम्बन्धित प्रभारी अधिकारी को समस्त वाहनो के रूट चार्ट, प्रस्तुत करने तथा इसके पूर्व स्थान व पार्किग की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। पार्टी रवानगी स्थल पर पेयजल, शौचालय की समुचित व्यवस्था रहे।जिला निर्वाचन अधिकारी ने निर्देशित किया है कि विगत विधानसभा चुनाव 2017 व लोकसभा चुनाव 2019 में कम मतदान प्रतिशत वाले मतदान केन्द्रों पर विशेष रुप से मतदाता जागरूकता अभियान चलाया जाए, जिससे मतदान प्रतिशत बढ़ाया जा सके तथा किस कारण कम मतदान हुआ इसका कारण ज्ञात करते हुए समस्या दूर कर लोगों को मतदान करने हेतु जागरूक किया जाए। इसके लिए सभी विधानसभा से 25-25 कम मतदान वाले बूथों को चिन्हित किया गया है। जहां पर चौपाल, चुनावी पाठशाला आयोजित कर बीएलओ, आंगनबाड़ी सहायिका, आशा, सुपरवाइजर, शिक्षक व शिक्षामित्र मतदाताओं को 07 मार्च को मतदान के लिए जागरूक करेंगे। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में आज फिर तड़तड़ायी गोलियां एक की मौत दूसरा घायल पहुंचा अस्पताल,छानबीन मे जुटी पुलिस

बिजली कर्मियों हड़ताल को देख, वितरण व्यवस्था संचालन हेतु नोडल और सेक्टर अधिकारी नियुक्त

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच