जानिए मौसम का हाल: दिन भर बादलो की लुका-छिपी के कारण तापमान का पारा लुढ़का बढ़ी शीतलहर



जौनपुर। बढ़ते शीतलहर के दौरान आज शुक्रवार 22 दिसम्बर का दिन सबसे ठंडक भरा था। मौसम की वजह से लगातार गिरता हुआ पारा लोगाें को कांपने के लिए विवश कर रहा है। गुरुवार को दिनभर बादलों की लुकाछिपी जारी रही है। जिसके कारण खुलकर धूप नहीं निकली। बादलों के साथ-साथ सर्द हवाओं से ठिठुरन में खासा इजाफा रहा। दिन में अधिकतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस तो न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
ठंड व कोहरे की धुन्ध के कारण बाजारों में ग्राहकों की कमी देखी गई । बाजारों में दुकानदारों के झुरमुट जगह-जगह अलाव जलाकर तापते हुए ग्राहकों का इंतजार करते नजर आए। धुंध के कारण दृश्यता कम रहने से वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लगा रहा। एहतियात बरतते हुए वाहन चालकों को हेडलाइट सहित आगे पीछे की सभी लाइटें जलाकर धीमी गति में सफर तय करना पड़ा। ठंड में घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। मौसम में नमी होने के कारण गलन बढ़ती जा रही है। इसकी वजह से जनजीवन ठहर सा गया है। इंसान ही नहीं पशु-पक्षी भी ठंड की मार से बेहाल हैं। गर्म चाय भी इन दिनों अच्छी लग रही है। गलन से बुजुर्गों व बच्चों को ज्यादा समस्या हो रही है। लोग पूरे दिन अलाव अंगीठी के सहारे अपने आप को ठंड से राहत देते नजर आए।
ठंड से बचने के लिए लोग घरों में दुबके रहना पसंद करते रहे। शाम होते ही बाजार में सन्नाटा पसर गया। ठंड के कारण अधिकांश दुकानें भी जल्द बंद हो जा रही हैं। ठंड से सबसे ज्यादा परेशानी जरूरतमंदों को हो रही है। ठंड से बचने के लिए शाम होते ही लोग अलावा की व्यवस्था में जुट गये हैं। इसके अलावा बस स्टैंड रेलवे स्टेशन के पास भी लोगों के लिए अलाव की व्यवस्था की गई है।
हलांकि जिला प्रशासन के स्तर से शीतलहर के बचाव हेतु जो दावे किए जा रहे है वह जनपद मुख्यालय पर कहीं भी नजर नहीं आये है। अलाव आदि के मामले में कागजी बाजीगरी का खेल दृष्टिगोचर है।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद