श्रमजीवी ट्रेन में बम काण्ड के आरोपी आतंकी हिलाल और नफीकुल विश्वास पर दोष सिद्ध,सजा पर फैसला 02 जनवरी को


जौनपुर। श्रमजीवी ट्रेन में हुए बम विस्फोट कांड में आज 22 दिसम्बर को दीवानी न्यायालय के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रथम की अदालत ने दो आरोपियों नफीकुल विश्वास और हिलाल को दोषी सिद्ध कर दिया है। अब 02 जनवरी को सजा सुनाई जाएगी।बता दे कि वर्ष 2005 में 28 जुलाई को लगभग पांच बजे सायंकाल श्रमजीवी एक्सप्रेस ट्रेन पटना से नई दिल्ली जाते समय ट्रेन जैसे ही हरपालगंज रेलवे स्टेशन पार करते हुए हरिहरपुर रेलवे क्रॉसिंग के पास पहुंची थी कि उसी समय ट्रेन में भीषण विस्फोट हो गया था जिसमें 14 लोगों की मौत हो गई थी लगभग 62 लोग घायल हो गए थे। इस ट्रेन विस्फोट कांड में आरोपी नफीकुल विश्वास और उसके साथी हिलाल को न्यायालय ने दोषी करार दे दिया है। सजा के बिंदु पर 02 जनवरी को अदालत फैसला सुनाएगी। 
यहां बता दे कि इस विस्फोट कांड में दो आतंकियों रोनी उर्फ आलमगीर और ओबैदुर्रहमान को अदालत ने फांसी की सजा दे चुकी है जिसकी अपील हाईकोर्ट में विचाराधीन है। आज गुरुवार को अदालत से फैसला आने की खबर पर पूरी अदालत में जहां सुरक्षा का शख्त पहरा था वहीं पर अदालत खचाखच भरी हुई थी। 

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद