यूपी में जौनपुर सहित इन 17 जिलो में चलेगा फाइलेरिया मुक्त करने का अभियान जानें क्या है विभाग की रणनीति

प्रदेश में 17 जिलों में फाइलेरिया (हाथीपांव) से बचाव के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। 10 फरवरी से लेकर 28 फरवरी तक सर्वजन दवा सेवन (एमडीए) राउंड चलाया जाएगा। टीमें घर-घर जाकर लोगों को दवाएं खिलाएंगी। जिन जिलों में फाइलेरिया रोधी दवाएं खिलाई जाएंगी उनमें अमेठी, आजमगढ़, बलिया, बांदा, बाराबंकी, बरेली, हमीरपुर, जौनपुर, जालौन, लखनऊ, पीलीभीत, शाहजहांपुर, प्रयागराज, प्रतापगढ़, सोनभद्र, उन्नाव व वाराणसी शामिल हैं। यहां स्वास्थ्य विभाग की ओर से टीमें गठित की जा रही हैं।
फाइलेरिया क्यूलेक्स मच्छर के काटने से होता है। लोगों को जागरूक किया जा रहा है। उन्हें दवा खाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है, ताकि वह इस रोग से बच सकें।संयुक्त निदेशक (फाइलेरिया) डा. रमेश सिंह ठाकुर के मुताबिक दवा खिलाने के लिए बनाईं गईं स्वास्थ्य टीमों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। यह टीमें लोगों को अपने सामने ही फाइलेरिया रोधी दवाएं खिलाएंगी। यह मच्छर जनित रोग कभी भी किसी को हो सकता है और इसके लक्षण 10 वर्ष से 15 वर्ष बाद दिखाई देते हैं।
अभी प्रदेश में इससे पीड़ित 1,19,304 मरीज हैं और 50 जिले इससे प्रभावित हैं। रामपुर को पिछले वर्ष फाइलेरिया मुक्त घोषित किया गया था। अब अंबेडकर नगर, जालौन, मऊ, भदोही, चित्रकूट, अयोध्या व महोबा फाइलेरिया से मुक्त होने वाले हैं। नाइट ब्लड सर्वे (एनबीएस) की रिपोर्ट के आधार यहां एमडीए राउंड नहीं चलेगा। आगे एक और मूल्यांकन के बाद इन्हें फाइलेरिया मुक्त घोषित किया जाएगा।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र