मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना फर्जी फिकेशन करने सहायक विकास अधिकारी सुनील यादव निलम्बित,हुई एफआईआर


मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में गड़बड़ी करने वाले सहायक विकास अधिकारी (समाज कल्याण) सुनील कुमार यादव को निलंबित कर दिया गया है। इस मामले में पहले ही आरोपी अधिकारी सहित आठ अपात्र लाभार्थियों के खिलाफ बलिया में मुकदमा दर्ज कराया जा चुका है।
सामूहिक विवाह कार्यक्रम में आरोपी सहायक विकास अधिकारी (समाज कल्याण) ने ग्राम पंचायत मानिकपुर से आर्चना, रंजना व सुमन को शामिल करवाया। इसी तरह ग्राम पंचायत सुल्तानपुर से प्रियंका, सोनम, पूजा, सन्जू और रमिता का भी विवाह 25 जनवरी को संपन्न हुआ। इन सभी का सत्यापन सुनील कुमार ने किया था। जांच में खुलासा हुआ कि संजू का विवाह तीन साल और पूजा का विवाह एक वर्ष पहले हो चुका है। इसके अतिरिक्त अर्चना, रंजना, सुमन, रमिता और प्रियंका का विवाह भी वर्ष 2023 में हो चुका है।
जांच में यह भी सामने आया कि सोनम का अभी विवाह तय ही नहीं है। इसके बावजूद उसे लाभार्थी के रूप में शामिल किया गया। समाज कल्याण मंत्री असीम अरुण ने प्रशासनिक जांच और एफआईआर के आधार पर होने वाली जांच में त्वरित कार्यवाही करने का निर्देश दिया है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र