गर्ल आइकॉन प्रोग्राम हुआ आयोजित,14 से 18 वर्ष की किशोरियों को दिया संदेश उनके आर्थिक लाभ की योजना पर चर्चा


जौनपुर। बीआरपी इंटर कॉलेज में "गर्ल आइकॉन " प्रोग्राम मिलान फाउंडेशन एवं सरजू प्रसाद शैक्षिक सामाजिक सांस्कृतिक संस्था द्वारा आयोजित किया गया। जिसका शुभारंभ प्रधानाचार्य डॉ सुबाष चंद्र सिंह एवं प्रकाश चंद्र यादव व ऋषि श्रीवास्तव द्वारा मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया।
इस अवसर पर कोऑर्डिनेटर सुरभि श्रीवास्तव ने कहा कि मिलान फाउंडेशन द्वारा गर्ल आईकॉन प्रोग्राम में वंचित समुदाय की 14 से 18 वर्ष की ऐसी किशोरियों का चयन किया जाता है जिसमें नेतृत्व की क्षमता है और वह न केवल अपनी शिक्षा को जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं बल्कि सामाजिक बदलाव में भी रुचि रखती हैं। चयनित गर्ल आइकन को उनके नेतृत्व क्षमता को मुखर बनाने के लिए संस्था द्वारा जीवन कौशल आधारित ट्रेनिंग प्रदान की जाती है तथा किशोरियों से विभिन्न गतिविधियां भी करवाई जाती है जैसे सामाजिक जागरूकता के कार्यक्रम एवं पीयर समूह की बैठक इत्यादि , कार्यक्रम के सफलता पूर्वक संपन्न होने के बाद गर्ल आईकॉन को प्रदर्शन के आधार पर ₹10,000 तक की छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है । इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के जनपदों की 14 से 18 वर्ष की आयु की ऐसी किशोरियों जिनकी पारिवारिक आय अधिकतम 1 लाख वार्षिक या उससे काम हो आवेदन कर सकती हैं। आवेदन ऑनलाइन होगा जिसका लिंक संस्था की वेबसाइट पर उपलब्ध रहेगी ।इस कार्यक्रम के अंतर्गत 1200 गर्ल आइकन को उत्तर प्रदेश के 10 जिलों लखनऊ, बाराबंकी, हरदोई, सीतापुर, बहराइच, वाराणसी, जौनपुर, चंदौली, आजमगढ़, एवं सोनभद्र से चयन टीम द्वारा चयन प्रक्रिया के तहत चयनित किया जाएगा।
उजमा अली ने कहा कि गर्ल आईकॉन प्रोग्राम क्या आप अपनी समुदाय में एक चेंज मेकर बनने का सपना देखते हैं क्या आप अपने जैसी किशोरी लड़कियों के लिए एक प्रेरणा बनने के लिए तैयार हैं गर्ल आइकन प्रोग्राम में शामिल हो जहां आपको हम सिखायेंगे लीडरशिप ट्रेनिंग ,मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य, डिजिटल साक्षरता, करियर काउंसलिंग। गर्ल आइकन प्रोग्राम  हर उस किशोरी जो 14 से 18 के लिए एक मौका है जो अपने और अपने समुदाय में एक बदलाव की उम्मीद रखती हैं यह प्रोग्राम आपको मदद करता है अपने अधिकार और क्षमताओं को पहचानने में अपने आत्मविश्वास से खुद को और अपने समुदाय को जागरूक करके स्वास्थ्य शिक्षा और समानता को हासिल करने का।
पात्रता स्कूल गोइंग या स्कूल ड्रॉप आउट वार्षिक पारिवारिक आय 1 लाख से अधिक नहीं होना चाहिए और आयु 14 से 18 वर्ष के  होना चाहिए। आवेदन एवं चयन प्रक्रिया ऑनलाइन आवेदन ऑनलाइन एसेसमेंट टेलिफोनिक इंटरेक्शन वर्चुअल सिलेक्शन सेंटर डिस्टिक लेवल इवेंट द्वारा किया जाएगा ।हेल्पलाइन नंबर 91 4074 51 75,
कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व अध्यक्ष चाइल्ड वेलफेयर कमेटी संजय उपाध्याय  ने कहा कि कमजोर तबके की बालिकाओं को अधिक से अधिक चयन करने का लक्ष्य है इस प्रोग्राम के प्रति बालिकाओं में उत्साह और आकर्षण देखा जा रहा है।


कार्यक्रम  मे प्रधानाचार्य डॉक्टर सुबाष चंद्र सिंह  प्रकाश चंद यादव ऋषि श्रीवास्तव द्वारा सहयोग प्रदान किया गया। संस्था की तरफ से संजय उपाध्याय द्वारा सभी का आभार व्यक्त किया गया।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद