जनपद की मड़ियाहूँ विधानसभा के प्रतिनिधित्व 06 बार किया महिलाओ ने, तो कमल कभी नहीं खिला


जौनपुर। जनपद की नौ सीटों में मडि़याहूं विधानसभा ऐसी सीट है, जहां का प्रतिनिधित्व आजादी के बाद से अब तक लगभग आधा दर्जन महिला जन प्रतिनिधियों ने किया है इसलिए यह सीट महिलाओं के लिए उपयुक्त मानी जाती रही है। आजादी के बाद से अब तक हुए कुल 18 चुनावों में 6 ऐसे मौके आए, जब महिला ही विधायक बनीं। इतना ही नहीं, साल 2004 से लेकर अब तक इस सीट पर महिला जन प्रतिनिधि का ही कब्जा है। इतना ही चुनावी रिकार्ड देखें तो इस विधान सभा में आज तक कमल कभी नहीं खिल सका है। 2017 के    पिछला चुनाव में अपना दल एस और भाजपा के गठबंधन से चुनाव लड़ने वाली अपना दल एस की प्रत्याशी लीना तिवारी ने प्रतिनिधित्व किया है।
चुनावी इतिहास की बात करें तो साल 1952 में सबसे पहले कांग्रेस ने कब्जा जमाया था। 1957 में हुए दूसरे चुनाव में तारा देवी ने यहां से जीत दर्ज की। वे जिले की पहली महिला विधायक रही। यहां से कांग्रेस ने सबसे अधिक 6 बार वर्ष 1952, 1957, 1967, 1974, 1977 और आखिरी बार 1980 में चुनाव जीता था। वहीं, जनसंघ ने दीपक चुनाव चिह्न पर 1962 और 1969 में अपना परचम फहराया जबकि बसपा मात्र एक बार 1998 का उपचुनाव में जीत दर्ज करा पाई थी। समाजवादी पार्टी ने इस सीट पर पांच बार 1993, 1996, 2002, 2004 व 2012 में कब्जा किया था। हलांकि इस सीट पर भाजपा का कमल कभी भी भले नहीं खिल सका लेकिन भाजपा ने 2017 के चुनाव में गठबंधन करके  अपना दल एस को दे दी और अपना दल एस की डा. लीना तिवारी ने यह सीट भाजपा-अपना दल एस गठबंधन की झोली में डाल दी। इस तरह अपरोक्ष रूप से सत्ता के साथ रही है। 
अब फिर चुनाव का बिगुल बज चूका है सपा भाजपा गठबंधन के सीधे मुकाबले के साथ बसपा और कांग्रेस के लोग चुनाव मैदान में ताल ठोंक रहे है। 07 मार्च 22, को इस विधान सभा के कुल 3 लाख 35 हजार 722 मतदाता आगामी पांच वर्ष के लिए अपने जन प्रतिनिधि का चयन बजरिए मतदान करेंगे।

आजादी के बाद से अब तक हुए चुनाव में विजेता रहने वाले जन प्रतिनिधियों की सूची निम्न है 

1-1952- द्धारिका मौर्य (कांग्रेस)
2-1957-तारा देवी (कांग्रेस)
3-1962-जगन्नाथ राव (जनसंघ)
4-1967-राज किशोर तिवारी (कांग्रेस)
5-1969-जगन्नाथ राव (जनसंघ)
6-1974-राज किशोर तिवारी (कांग्रेस)
7-1977-राज किशोर तिवारी (कांग्रेस)
8-1980-सूर्य नाथ उपाध्याय (कांग्रेस)
9-1985-दूथ नाथ सिंह (दमकिया)
10-1989-सावित्री पटेल (जद)
11-1991-किशोरी लाल यादव (जद)
12-1993-सावित्री पटेल (सपा)
13-1996-पारस नाथ यादव (सपा)
14-1998-(उप चुनाव)-बरखूराम वर्मा (बसपा)
15-2002- पारस नाथ यादव (सपा)
16-2004- (उप चुनाव) श्रद्धा यादव (सपा)
17-2012-श्रद्धा यादव (सपा)
18-2017-डा. लीना तिवारी (अद एस)

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

जौनपुर में शादी का झांसा देकर किशोरी से दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज पुलिस जांच में जुटी

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात