स्व मुलायम सिंह यादव सामाजवादी चिन्तक और गरीबो के मसीहा रहे- लालबहादुर यादव


जौनपुर। समाजवादी पार्टी कार्यालय पर सपा संस्थापक पूर्व मुख्यमंत्री स्व. मुलायम सिंह यादव (नेताजी) की जयंती जिलाध्यक्ष लाल बहादुर यादव के अध्यक्षता में मनाई गई इस मौके पर नेताजी के चित्र पर सभी नेता व कार्यकर्ताओं ने माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया वहीं जिला अस्पताल में मरीजों को फल वितरण किया गया तथा वृद्धा आश्रम में भी वृद्धों का सम्मान और फल वितरण का आयोजन किया गया। सपा जिलाध्यक्ष लाल बहादुर यादव ने उनके जीवन पर चर्चा करते हुए कहा कि नेताजी समाजवादी आंदोलन के चिंतक और समाजवादी सोच के लिए ही समाज में जाने जाते है वह सभी वर्गों के सम्मान की लडाई जीवन भर लड़ते रहे उनकी सोच हमेशा गरीब लोगों को न्याय दिलाना तथा हर गरीब परिवार को रोटी ,कपड़ा ,मकान, शिक्षा ,इलाज मुफ्त हो और जब जब सरकार में आये तब गरीबों का उद्धार करने का काम किया। आज उनकी कमी सभी को महसूस हो रही है नेता जी जब रक्षा मंत्री रहे तब उन्होंने एक बड़ा काम किया की सरहद पर शदीद हुए सैनिक के पार्थिक शरीर उनके घर वालों तक सही सलामत लाने और उनके आश्रितो के लिए 20 लाख रुपये देने का निर्णय ऐतिहासिक रहा जो हमेशा  हमेशा के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज रहेगा जिसे कभी मिटाया नहीं जा सकता है।
इस मौके पर ,पूर्व एमएलसी लल्लन यादव, पूर्व मंत्री श्री राम यादव, दीपचंद सोनकर, राजबहादुर यादव ,विरेन्द्र सिंह जिला महासचिव हिसामुद्दीन शाह, उपाध्यक्ष श्याम बहादुर पाल, श्रवण जयसवाल, राजेंद्र टाईगर, राजेश यादव, पूनम मौर्या,रुक्सार अहमद,शिवप्रकाश गिरी, कमालुद्दीन अंसारी, अनवारुल हक गुड्डू, सोनी यादव, अली मंजर डेजी,तेज बहादुर मौर्य, निजामुद्दीन अंसारी, साजिद अलीम डां जंग बहादुर यादव इरशाद मंसूरी जगदीश प्रसाद मौर्य गप्पू, अलमाश सिद्दीकी दिनेश फौजी,सहित तमाम पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए बदमाशो का शव उनके पिता ने लेने से किया इनकार जानें कारण

गुरूजी को अपनी छात्रा से लगा प्रेम रोग तो अब पहुंच गए सलाखों के पीछे,थाने में हुआ एफआइआर दर्ज

पुलिस मुठभेड़ में दो सगे भाई बदमाश मारे गये एक फरार जिसकी तलाश जारी है