दुःखदःप्रो.रंजना प्रकाश का निधन पीयू के लिए भी अपूरणीय क्षति: कुलपति


सुविख्यात भौतिकविद प्रो. रंजना प्रकाश के निधन पर शोक

जौनपुर। इलाहाबाद विश्वविद्यालय (प्रयागराज) में भौतिकी विभाग की पूर्व विभागाध्यक्ष एवं वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय प्लेसमेंट सेल की पूर्व निदेशक प्रोफ़ेसर रंजनाप्रकाश का रविवार को इलाहाबाद के एक अस्पताल में निधन हो गया। वह कोरोना की चपेट में आ गयी थी और काफी दिनों से अस्पताल में भर्ती थी।
प्रोफेसर रंजना प्रकाश के निधन की खबर मिलते ही वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में शोक की लहर फैल गई। विश्वविद्यालय में प्लेसमेंट सेल के गठन के बाद उन्होंने सक्रिय रूप से भूमिका निभाई थीं। इसमें विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों को कई कंपनियों में अच्छा प्लेसमेंट मिला था। विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर निर्मला एस.मौर्य ने कहा कि प्रोफेसर रंजना प्रकाश ने प्लेसमेंट सेल में अतुलनीय योगदान दिया है, उनमें जो सहजता और सरलता का भाव था वह हर विद्यार्थी के लिए अभिभावक के रूप में दिखाई देता था। यह इलाहाबाद विश्वविद्यालय के साथ-साथ हमारे विश्वविद्यालय के लिए भी अपूरणीय क्षति है। इंजीनियरिंग संकाय के संकाय अध्यक्ष प्रो.बी.बी. तिवारी ने कहा कि पूर्वांचल विश्वविद्यालय के लिए उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है | उनकी कर्त्तव्यनिष्ठा एवं जिम्मेदारियों के लिए  समर्पण भाव को भुलाया नहीं जा सकता। पूर्व संकायअध्यक्ष प्रोफेसर अशोक कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि उनके कार्यकाल के दौरान विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों में एक भरोसा और ऊर्जा का संचार हुआ था। जनसंचार विभाग के अध्यक्ष डॉ. मनोज मिश्र ने कहा कि प्रोफेसर रंजनाप्रकाश जी सहज मानवीय गुणों से युक्त विदुषी महिला थी। उन्होंने पूर्वांचल विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों को रोजगार दिलाने के लिए अथक परिश्रम किया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कई प्रोफेसर, संकाय अध्यक्ष और विभागाध्यक्ष और शिक्षकों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी।

Comments

Popular posts from this blog

सड़क दुर्घटना में सिपाही की मौत विभाग में शोक की लहर

एसपी जौनपुर ने फिर आधा दर्जन से अधिक थाना प्रभारियों का किया तबादला

जौनपुर जलालपुर थाने के नये थानेदार को सिर मुड़ाते ही पड़े ओले, रेहटी गांव में हत्या कर फेंकी लाश मिलने से इलाके में सनसनी