राष्ट्रीय अध्यक्ष के स्वागत में युवा14 और15 दिसम्बर को करायें अपनी ताकत का अहसास - विवेक रंजन यादव उर्फ बबलू


जौनपुर। युवा नेता एवं समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव विवेक रंजन यादव उर्फ बबलू ने जनपद के युवाओ से अपील किया है कि आगामी 14 और 15 दिसम्बर को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव जी के आगमन पर युवाओ को अपने ताकत का आहसास कराने की जरूरत आ गयी है। बड़े ही सौभाग्य की बात है राष्ट्रीय अध्यक्ष जी जनपद जौनपुर की सरजमीं पर दो दिन रूक कर पार्टी जनों का हौसलाअफजाई करने के साथ ही जनता को पार्टी की योजनाओ से अवगत करायेंगे ऐसे महत्वपूर्ण कार्यक्रम में युवाओ की बड़ी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी होती है इसलिए युवा साथीयों को पूरे तन मन से कार्यक्रम की सफलता के लिए जुट जाना चाहिए। 
प्रदेश सचिव श्री बबलू ने कहा कि पश्चिम से लेकर पूरब तक सपा के विजय यात्रा के साथ चल रही जनता की भीड़ और युवाओ का उमंग इस बात का संकेत देने लगा है कि 2022 में साईकिल का परचम लहराने से अब कोई भी ताकत नहीं रोक सकेगी। साथ ही यह भी बताया कि सपा के साथ आ रही भीड़ यह भी संकेत करती है कि वर्तमान भाजपा सरकार से प्रदेश की आवाम पूरी तरह से त्रस्त हो चुकी है और उसे सत्ता से बेदखल करने का संकेत देने लगी है। 
उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में अराजकता मंहगाई भ्रष्टाचार अपने चरमोत्कर्ष पर है तो विकास का पहिया पूरी तरह से रूक गया है। भाजपा के पांच साल के शासन काल में बेरोजगारी बृहद पैमाने पर बढ़ी है। युवा नौजवान बेरोजगारी का दंश झेलने को मजबूर हो गये है कामगार समाज का काम छिन गया है लोगो के समक्ष रोजी और रोटी दोनो का संकट आ गया है ऐसे में इस सरकार की विदाई तय मानी जा रही है। इस प्रदेश के विकास और युवाओ के रोजगार और नौकरियों के लिए प्रदेश की सत्ता पर विकास पुरुष के रूप में स्थापित हो चुके सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जी के नेतृत्व वाली सरकार की अति जरूरत है। इस लिए युवाओ से अपील है कि 2022 के आम चुनाव में सपा की सरकार बनाने के लिए अपनी पूरी ताकत लगाये और अखिलेश यादव जी को प्रदेश के सत्ता की चाभी सौंपे तभी आम जन से खास जन तक आर्थिक रूप से मजबूत बन सकेगा। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दबंगो के कब्जे से मुक्त करायी 30 करोड़ रुपए कीमत की सरकारी जमीन