धारा 307 के अभियुक्त की अचानक हुई मौत इलाके में बनी चर्चा का बिषय, जानें पूरा मामला


जौनपुर। चुनावी रंजिश को लेकर धमौर जमीन खास गांव में बीते मंगलवार को खेत में गेहूं की फसल काट रहे युवक को गोली मारने के आरोपित अभियुक्त की शनिवार की सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी। उसका शव आजमगढ़ में पाया गया। अकस्मात हुई आरोपित की मौत को लेकर क्षेत्र में तरह तरह की बात सामने आ रही है। कुछ लोग बताते है कि उसकी मौत हृदयाघात से हुई है तो कुछ चर्चा कर रहे है कि जेल जाने के भय से उसने आत्महत्या कर लिया। थानाध्यक्ष अश्वनी के अनुसार उसका शव आजमगढ़ में ही पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। रिपोर्ट आते ही पूरी स्थिति स्पष्ट हो सकेंगी।
बता दें कि थाना खुटहन क्षेत्र स्थित बंदनपुर गांव निवासी गिरधारी प्रजापति धमौर गांव स्थित अपने खेत में पुत्र के साथ गेहूं की कटाई कर रहा था। आरोप है कि तभी बगल गांव जमीन धमौर निवासी रामराज यादव खेत में पहुंच गया और चुनाव में मतदान को लेकर गाली गलौज देने लगे। आरोप था कि इसका बिरोध करने पर रामराज ने तमंचा निकालकर फायर कर दिया। गोली गिरधारी के 32 वर्षीय पुत्र मुन्ना प्रजापति की बांह में लगी। फायर की आवाज सुन लोग मौके की तरफ दौड़े। अंधेरे का फायदा उठाकर हमलावर फरार हो गया। मामले में पुलिस ने उसी दिन हत्या के प्रयास सहित विभिन्न धाराओं मे केस दर्ज कर आरोपित की तलाश में जगह जगह दबिश देना शुरू कर दिया था। पुलिस के भय से आरोपित आजमगढ़ जिले के अपने एक रिश्तेदार के घर भाग गया। बताते है कि शनिवार की भोर उसके सीने में दर्द की शिकायत पर अस्पताल ले जाया गया। जहां कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई। परिवार को घटना की जानकारी हुई तो लोग आजमगढ़ गये है। दूसरी ओर गोली से घायल व्यक्ति का उपचार अभी भी अस्पताल में चल रहा है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी