वैक्सीन की पहली डोज लगने के आधे घंन्टे के अन्दर अधेड़ कैसे मरा, सीएमओ बात करने से क्यों कर रही परहेज


जौनपुर। मौत की खबर लगते ही वैक्सीन लगवाने के लिए लाइन में लगे लोग डरकर भाग गए। मामला महराजगंज स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का है। कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगने के आधे घंटे बाद ही एक वृद्ध की मौत हो गई। घटना से वहां हड़कंप मच गया। वैक्सीन लगवाने के लिए कतार में खड़े लोग लाइन छोड़कर भाग खड़े हुए। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
महराजगंज क्षेत्र के मितांवा गांव निवासी जगन्नाथ पाल (65) साइकिल से कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र महराजगंज आए थे। जबकि उनकी पत्नी विमला देवी बाइक से वैक्सीन लगवाने आई थीं। वैक्सीन लगाने के बाद डॉक्टर ने उन्हें आधे घंटे तक अस्पताल में ही रहने की सलाह दी। दंपती अस्पताल परिसर में हनुमान मंदिर के पास पेड़ की छांव में बैठे थे। करीब आधे घंटे बाद उन्हें चक्कर महसूस हुआ। इसकी शिकायत चिकित्सक से की गई। जबतक डॉक्टर उनके पास पहुंचे तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। 
मृतक की पत्नी विमला देवी ने बताया कि टीका लगवाने के लिए सुबह से ही कतार में खड़े थे। घंटों इंतजार के बाद उन्हें टीका लगाया गया। टीका लगवाने के आधे घंटे बाद ही उनकी मौत हो गई। मृतक के चचेरे भाई उमानाथ ने बताया कि जगन्नाथ को किसी प्रकार की कोई बीमारी नहीं थी। वह पूरी तरह स्वस्थ थे। खुद ही साइकिल चलाकर वैक्सीन लगवाने आए थे। मौत के बाद स्वास्थ्य टीम द्वारा स्थानीय थाने पर सूचना दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। सूचना पर अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एससी वर्मा भी मौके पर पहुंच गए और जांच पड़ताल की।


इस घटना के बाबत आज जब भी सीएमओ बी लक्ष्मी  से जब उनके सीयूजी नम्बर पर काल किया गया सीएमओ ने फोन खुद रिसीव करने के बजाय एक किसी डिप्टी सीएमओ को लगा रखा है जो हर बार सीएमओ को व्यस्त रहने की बात बताते हुए फोन कट कर देता है ऐसे में इस घटना के बाबत पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने बाद क्या कार्यवाई हुई अथवा मामले को रद्दी की टोकरी में डाल दिया गया इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है लेकिन सूत्र ने बताया कि चूंकि मृतक गरीब परिवार का सामान्य किसान था इसलिए इस मामले में बड़ी आसानी से लीपा पोती करने का प्रयास है। हलांकि सपा नेता डा राम अवध पाल पूर्व जिलाध्यक्ष इस घटना को लेकर संजीदा है और गरीब ग्रामीण को न्याय दिलाने की लड़ाई लड़ रहे है।



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन