प्राथमिकता के आधार पर आईजीआरएस की शिकायती पत्रों निस्तारण का अधिकारियों को जानें क्या मिला टिप्स



जौनपुर।आई०जी०आर०एस० पोर्टल पर प्राप्त होने वाले शिकायतों की गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण किए जाने के संबंध में जनपद के समस्त अधिकारी/ कर्मचारी व कंप्यूटर ऑपरेटरो को कलेक्ट्रेट सभागार में  प्रशिक्षण दिया गया।
प्रशिक्षण में आइजीआरएस के  नोडल जवाहर सोनकर ने अवगत कराया कि आईजीआरएस पोर्टल पर आने वाली शिकायतों का निस्तारण समय से तथा गुणवत्तापूर्वक किया जाए। पोर्टल पर आने वाली शिकायतों को प्रतिदिन आफिस आने के बाद सुबह एक घंटे निकलकर उसका निस्तारण कर दिया जाए। शिकायतो को डिफाल्टर श्रेणी में आने न दिया जाए। उन्होंने अवगत कराया कि एक मोबाइल नंबर/ईमेल आईडी से पोर्टल पर एक माह में 50 से अनधिक संदर्भ दर्ज नही हो सकेगा। एक ही नंबर से बार-बार शिकायते आते हैं तो उनकी शिकायत का स्तर देखते हुए अवगत कराएं और अगर वही शिकायतकर्ता बार-बार शिकायत करता है और शिकायत गुणवत्ता परक नहीं है तो उच्च अधिकारी से शिकायत को इंक्लूड कराकर हमें अवगत कराएं, जिससे उस शिकायतकर्ता से बात करके तथा समाधान करके उसको बंद किया जा सके।
ई-डिस्टिक मैनेजर प्रतीक उपाध्याय ने कहा कि शिकायतों का निस्तारण जल्द से जल्द किया जाए। शिकायतों को 24 घंटे के अंदर कार्यालय स्तर पर लंबित करते हुए उसका निस्तारण किया जाए। सी श्रेणी के संदर्भ को उच्चाधिकारियों को अवगत कराकर एवं अधिकारियों से शिकायतकर्ता से बात कराकर ही निस्तारण किया जाए। पोर्टल पर पड़ी शिकायतों को अनमार्क में न छोड़ा जाए। उन्होंने यह भी कहा कि प्रतिमाह न्यूनतम 30 संदर्भ एवं अधिकतम 100 संदर्भों का श्रेणीकरण पत्रावली पर परीक्षण करने के उपरांत किया जाएगा। 
इस अवसर पर जनपद, तहसील, ब्लाक के आई०जी०आर०एस० नोडल एवं  कंप्यूटर ऑपरेटर उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज

यूपी के गांव में जमीनी विवाद खत्म करने के सरकार ने बनायी यह योजना,नहीं होगी मुकदमें की नौबत