लाक डाऊन खत्म होने पर पड़ेगी मंहगाई की जबरजस्त मार


कपिल देव मौर्य 

जौनपुर। कोरोना वायरस के मद्देनजर वर्तमान में पूरे भारत में लॉकडाउन लागू है। जो यह दर्शाता है कि देश के अंदर हालात कितने नाजुक हैं। यदि लॉकडाउन खत्म भी हो जाता है तो ऐसा नहीं है कि लोग एकाएक बाहर निकल जाएंगे। तो आइये आज हम आपको बताते हैं कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद कौन-कौन सी चीजें महंगी हो जाएंगी।
आटा, तेलों के दामों में बढ़ोतरी,

उपभोक्ता मंत्रालय के मुताबिक जब से लॉकडाउन जारी हुआ है तब से दाल, सब्जी और खाद्य तेलों की कीमतों में वृद्धि दर्ज हुई है। एक खबर के अुनसार, आगे भी खाने-पीने की चीजों के दामों में बढ़ोतरी बनी रह सकती है।
बात करे सरसों तेल की कीमतों की तो इसमें भी काफी तेजी से इजाफा हुआ है। जहां सरसों तेल की कीमत 110 थी वहीं आज यह बढ़कर 115 रूपये प्रति लीटर हो गया है। गेंहू का आटा और चावल की कीमत भी बढ़ी है। आटा के दामों में 5 से 10 रूपये प्रति किलो की बढ़ोतरी हुई है। लोगों के अनुसार इस वक्त सब्जी और राशन के दामों की खुलेआम काला बाजारी हो रही है।

हाइवे पर सफर करना हो सकता है महंगा

लॉकडाउन हटते ही हाईवे का सफर महंगा होना तय माना जा रहा है । नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) ने टोल टैक्स में 5 से 10 प्रतिशत की वृद्धि की है।
विभाग ने हल्के वाहनों पर एक तरफ के लिए प्रति वाहन पांच रुपये व कामर्शियल में 15 से 25 रुपये की बढ़ोतरी की है। एनएचएआई नए वित्तीय वर्ष में टोल टैक्स में बदलाव करती है।
नतीजतन राजधानी से जुड़ने वाले तीन राष्ट्रीय राजमार्ग पर आना-जाना लॉकडाउन हटते ही महंगा हो गया। एनएचएआई के वह मार्ग  कानपुर हाइवे पर नवाबगंज, फैजाबाद हाईवे पर अहमदपुर, रोहिणी और रायबरेली, वाराणसी हाईवे पर  लागू होने की प्रबल संभावना  है।
एनएचएआई के परियोजना निदेशक एनएन गिरि के अनुसार विगत  मंगलवार को वित्तीय वर्ष 2020-21 नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। जिसमें  कार और जीप के टोल टैक्स में पांच रुपये का इजाफा किया गया है। सबसे अधिक बढ़ोतरी ओवरसाइज वाहन के टोल में की गई है। इनमें एक तरफ के टोल में 25 और दोनों ओर के टोल में 45 रुपये की वृद्धि की गई है। वहीं मासिक पास 275 रुपये का बनेगा।
इन्हें है टोल टैक्स की छूट

रक्षा वाहन, अग्निशमन, एंबुलेंस, शव वाहन, वीआईपी साइन लगे वाहनों को टोल टैक्स नहीं देना पड़ेगा। इसके अलावा वीरता पुरस्कार परमवीर चक्र, महावीर चक्र, अशोक चक्र, शौर्य चक्र, अशोक चक्र प्राप्त जो सक्षम अधिकारी द्वारा प्रमाणित फोटोयुक्त पहचान पत्र प्रस्तुत करें। उन्हें टोल टैक्स नहीं देना पड़ेगा।
तीन गुना तक महंगा हो सकता है हवाई सफर

एक ऐसी व्यवस्था बन सकती है, जिसके तहत 180 सीटों के कैरियर में सिर्फ 60 यात्री सफर कर सकेंगे। इस नुकसान की भरपाई के लिए एयरलाइंस 1.5 से तीन गुना तक ज्यादा किराया वसूल सकती हैं। यह जानकारी एयरलाइंस अधिकारियों के हवाले से मिली है।
इस संदर्भ में एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि, ‘समय के साथ, जैसे-जैसे कोरोना का संक्रमण घटेगा, वैसे-वैसे सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों में ढील देनी शुरू की जाएगी।’
फ्लाइट रिजंप्शन प्लान की तैयार
नगर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) एक फ्लाइट रिजंप्शन प्लान तैयार कर रहा है। इस प्लान को सरकार द्वारा लॉकडाउन के बाद ऑपरेशंस शुरू करने के एलान के बाद लागू किया जाएगा।
हालांकि लॉकडाउन के बाद शुरुआती हफ्तों में यात्रा काफी कम रहने की उम्मीद है। इसलिए दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद और अन्य हवाई अड्डों पर 1.5 मीटर की दूरी बनाने में कोई दिक्कत पेश नहीं आएगी। भारतीय एयरलाइन कंपनियों की वित्तीय हालत खराब चल रही है। इंडिगो के अतिरिक्त अन्य किसी एयरलाइंस के पास ज्यादा कैश रिजर्व नहीं है।
इन सेक्टर पर भी महंगाई की मार
लग्जरी, मनोरंजन और ट्रैवल इंडस्ट्री पर भी संकट बादल रहेंगे । विश्लेषकों और फंड मैनेजर्स का मानना है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी इन सेक्टर्स के शेयरों में तेजी लौटने में वक्त लग सकता है।
इसकी वजह यह है कि इस सेक्टर की कंपनियों के लिए कारोबारी लागत ज्यादा होती है। दूसरी तरफ, निकट भविष्य में रेवेन्यू के आसार काफी कम हैं। इसलिए वित्त वर्ष 2020-21 में इन कंपनियों के कमाई के अनुमान में 16 से 50 फीसदी तक की कटौती की जा रही है।

टीवी, फ्रिज, एसी, वाशिंग मशीन बनना सब महंगा हो जाएगा फिक्की ने भारत सरकार को दी एक प्रजेंटेशन में कहा है कि चीन के सप्लायरों ने टेलीविजन पैनल की कीमतों में जहां 15 फीसदी की बढ़ोतरी की है। वहीं कंपोनेंट की कीमत में दो फीसदी की बढ़ोतरी कर दी है। इससे न सिर्फ घरों में काम आने वाले सामानों की कीमत बढ़ जाएगी बल्कि टीवी, फ्रिज, एसी, वाशिंग मशीन बनना सब महंगा हो जाएगा। इस वजह से लॉकडाउन से निकलने के बाद भी भारतीय अर्थव्यवस्था को एक अलग तरह की दिक्कतों से जूझना होगा। बढ़ी मंहगाई की चक्की में आम जनता पिसेगी इससे इनकार नहीं किया जा सकता है ।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र