मंजू पटेल काण्ड को लेकर प्रदर्शन कर रही छात्राओ के साथ पुलिस का व्यवहार चर्चा का बिषय


जौनपुर। थाना लाइन बाजार क्षेत्र स्थित जगदीश पट्टी निवासी आमोद पटेल कर्मचारी कृषि विभाग की पत्नी मंजू पटेल के साथ दुष्कर्म के पश्चात हत्या कर रेलवे लाइन के किनारे फेंकी लाश मिलने में पुलिस द्वारा 24 घन्टे के अन्दर हत्यारों की गिरफ्तारी का वादा न पूरा करने पर आज टीडी कालेज की छात्राओं द्वारा एस पी आवास पर प्रदर्शन के दौरान लाइन बाजार की पुलिस द्वारा छात्राओ के साथ अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए उन्हे एसपी आवास से जबरिया भगाये जाने की खबर वायरल हुई है। 
यहां बता दे कि बीते 09 दिसम्बर की सायंकाल लगभग 07 बजे सायंकाल जगदीश पट्टी निवासी आमोद पटेल की पत्नी मंजू पटेल घर से निकली और वापस नहीं लौटी 10 दिसम्बर की सुबह उसकी लाश रेलवे लाइन के पास सूनसान झाड़ी में मिली थी। लाश की स्थिति देख अनुमान लगाया गया कि उसके साथ दुष्कर्म करने के बाद हत्या किया गया है। इस घटना के बाद जगदीश पट्टी के लोग बड़ी संख्या में इकठ्ठा हो कर घटना को लेकर गुस्से का इजहार करते हुए वाराणसी लखनऊ मार्ग पर चक्का जाम कर दिया। 
बड़ी मशक्कत के बाद प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस जनों के प्रयासों के बाद जब पुलिस ने आश्वस्त किया कि 24 घन्टे के अन्दर हत्यारे सलाखों के पीछे होगे तब लाश पोस्टमार्टम के लिए गयी और जाम हटा। हत्यारो की गिरफ्तारी न होने पर घटना को लेकर गुस्साई टीडी कालेज की छात्राये आज बड़ी संख्या में एसपी आवास पर प्रदर्शन करने पहुंची तो पुलिस घटना के दिन का गुस्सा छात्राओ पर उतारते हुए अपशब्दो का प्रयोग करते हुए सभी को जबरिया खदेड़ कर भगा दिया। इस घटना का वीडियो वायरल हुआ है जिसमें पुलिस ने जिन शब्दो का प्रयोग किया है वह आपत्तिजनक है इसकी चर्चा आम जनता के बीच हो रही है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दबंगो के कब्जे से मुक्त करायी 30 करोड़ रुपए कीमत की सरकारी जमीन