भदोही में आग से 4 जिंदगी खत्म: युवती की खुली नींद तो बची कई की जान


भदोही स्थित गोपीगंज के चुड़िहार मोहल्ले में बुधवार की अर्ध रात के बाद करीब दो बजे घर के तीसरे तल के कमरे में विद्युत शार्टसर्किट से आग लग गई। कमरे की छत टिन की थी। हादसे में दादा-दादी और दो पौत्रियों (10 और 12 साल) की झुलस कर मौत हो गई जबकि एक भतीजी रौनक (19) की हालत गंभीर है। आग की घटना में एक युवती रौनक (19) की हिम्मत से परिवार के बाकी लोग बाल-बाल बच गए।
अन्यथा आगे क्या होता कोई नहीं जानता। उसने अपनी परवाह न करते हुए आग के बीच से होकर दूसरे तल पर पहुंची और परिवार के अन्य सदस्यों को जगाया।
शोर सुनकर मोहल्ले के लोग भी इकठ्ठा हुए और दमकल विभाग को बुलाकर आग पर काबू पाया जा सका।  हादसे में असलम (65), पत्नी शकीला (62) , पोती तश्किया (10) और अलवीरा (12) की मौत हो गई। गोपीगंज के चुड़िहार मुहल्ला निवासी मोहम्मद असलम तीन भाई हैं। सभी का परिवार एक ही मकान में रहता है। नीचे के दो तलों में दो भाई और तीसरे तल पर बने टिन की छत वाले कमरे में बुजुर्ग असलम और उनकी पत्नी रहते थे।
असलम के भाई रईस की मानें तो रोज तीनों बेटियां उसी कमरे में दादा-दादी के साथ सोती थीं। रात में अचानक अगलगी की घटना के बाद रौनक चीखते-चिल्लाते दूसरे तल पर पहुंची और आग लगने की सूचना दी। उसी के बाद आग पर काबू पाने का प्रयास किया गया। रौनक के पैर बुरी तरह से झुलस गए हैं। उसे बीएचयू ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है। 
असलम के भाई ने बताया कि मकान में सभी को मिलाकर कुल 20 का परिवार रहता है। अगर आग फैलता तो किसी का भी बचना मुश्किल हो जाता। परिवार वालों ने मकान की लाइन काट कर आग पर काबू पाया। उधर, दमकल की टीम को पहुंचने में देर लगने के कारण लोगों ने नाराजगी जतायी। 
असलम और उनका परिवार बड़े ही मेलजोल के साथ रहता था। असलम और उनकी पत्नी के साथ ही पोतियां सोती थीं। इस घटना में असलम के दोनों पुत्रों के एक-एक पुत्रियों की मौत हुई है। वहीं गृहस्थी का सामान भी जलकर राख हो गया।
घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अनिल कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार भारती, क्षेत्राधिकारी ज्ञानपुर अशोक कुमार सिंह, एसडीएम प्रियंका प्रियदर्शिनी समेत कई अधिकारी मौके पर पहुंचे और जायजा लिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि रात करीब ढाई बजे की घटना है। प्राथमिक जानकारी के अनुसार आग शार्ट सर्किट से लगी। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।
चार मौत की सूचना लगने पर क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त हो गई। जानकारी मिलने पर लोग शोक व्यक्त करने पहुंचने लगे। जिसमे सिराज अख्तर, श्रीकांत जायसवाल, सरवर खान,माबूद खान,समेत भारी संख्या में नगर के लोग रहे।

 

 

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जफराबाद विधायक को हार्ट अटैक फस्टेड के बाद, मेदान्ता के लिए रेफर

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर

योगी सरकार ने यूपी में आज फिर 12 आईएएस का तबादला, देखे सूची