नैक की टीम ने कई विभागो का किया निरीक्षण खिलाड़ियों से शिव तांडव पर योग, कुश्ती, तीरंदाजी का देखा प्रदर्शन



जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में नैक मूल्यांकन के लिए आई टीम ने सोमवार को ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट सेल, विवेकानंद केंद्रीय पुस्तकालय, एकलव्य स्टेडियम,  इनडोर स्टेडियम की खेल सुविधा,  गर्ल्स और बॉयज हॉस्टल, स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया। आर्यभट्ट संगोष्ठी भवन में पुरातन छात्रों, अभिभावकों, कर्मचारियों और विद्यार्थियों और कार्य परिषद के सदस्यों के साथ विभिन्न मुद्दों पर संवाद किया।
सोमवार की सुबह सबसे पहले एक टीम सेंट्रल ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट सेल  और दूसरी टीम विवेकानंद केंद्रीय पुस्तकालय पहुंची। सीटीपीसी के समन्वयक प्रो. प्रदीप कुमार ने प्लेसमेंट सेल की गतिविधियों को विस्तार से बताया। केंद्रीय पुस्तकालय में किताबों, जर्नल के बारे में विस्तृत जानकारी ली। शोध गंगा पर अपलोड थिसिस के बारे में अवगत कराया गया। प्रो. मानस पांडेय ने लाइब्रेरी की मुख्य सुविधाओं के बारे में प्रकाश डाला। विवेकानंद केंद्रीय पुस्तकालय में डॉ विद्युत मल ने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से पुस्तकालय की सुविधाओं को टीम के सामने प्रस्तुत किया। इसके साथ ही केंद्रीय पुस्तकालय में विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध सुविधाओं को टीम ने देखा। इसके बाद आंतरिक शिकायत प्रकोष्ठ में प्रो. वंदना राय, डॉ जाह्नवी श्रीवास्तव, डॉ अनु त्यागी से विस्तृत जानकारी हासिल की। इसके बाद टीम एकलव्य और इंडोर स्टेडियम पहुंची। पिछले पांच सालों में अर्जित किए ट्रॉफी, अवार्ड, शील्ड का अवलोकन किया।
महाविद्यालीय  तीरंदाजी पुरुष और महिला प्रतियोगिता में भी पहुंचकर खिलाड़ियों से संवाद किया। इसी के साथ कई खेलों का प्रदर्शन नैक पीयर टीम के समक्ष किया गया। एकलव्य स्टेडियम में टीम के सदस्यों को परंपरागत साफा बांधकर स्वागत किया गया। इस दौरान खेलकूद परिषद के अध्यक्ष प्रो. एसके पाठक और महामंत्री ओपी सिंह, रजनीश सिंह, डॉ राजेश सिंह  समेत सभी कर्मचारी शामिल थे। हेरिटेज गैलरी का निरीक्षण कर स्थानीय उत्पादों के बारे में जानकारी हासिल की। कर्मचारियों के साथ संवाद किया। इसमें संजय शर्मा, मो. इमाम समेत कई कर्मचारियों से जानकारी ली। इस दौरान कर्मचारी संघ के अध्यक्ष नंद किशोर सिंह महामंत्री रमेश यादव, डॉ. पीके कौशिक समेत कई कर्मचारी उपस्थित थे। इसके बाद टीम गर्ल्स और बॉयज हास्टल में पहुंचकर मेस, छात्रावास के कमरे, जिम का निरीक्षण किया। इस दौरान झांसी मिश्रा, पूजा सक्सेना, जया शुक्ला और ब्याज हॉस्टल में डॉ. नीतेश जायसवाल, डॉ. धर्मेंद्र सिंह, सुशील कुमार से सुविधाओं के संबंध में पूछताछ की। इसके बाद टीम कुलपति सभागार में कार्यपरिषद के सदस्यों के साथ बातचीत की। दूसरी टीम ने विश्वविद्यालय के स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया। इस अवसर पर डॉ. पुनीत सिंह समेत कई चिकित्सकों ने सुविधाओं के बारे में बताया। साथ प्रो. अविनाश पाथर्डीकर, प्रो. राजेश शर्मा, प्रो. रामनारायण, प्रो. देवराज सिंह, प्रो रजनीश भास्कर, प्रो. सौरभ पाल, डॉ. आशुतोष सिंह, डॉ. गिरिधर मिश्र, अमरेंद्र कुमार सिंह, डॉ. श्याम कन्हैया, सुशील कुमार, डॉ पुनीत धवन, डॉ अमित वत्स, डॉ. प्रवीण सिंह,  डा. धर्मेंद्र सिंह, करुणा निराला समेत शिक्षक और कर्मचारी उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद