17 नवम्बर से वाराणसी लखनऊ के बीच चलेगी शटल ट्रेन, पटरी पर अब नहीं दौड़ेगी वरूणा एक्सप्रेस - डीआरएम लखनऊ

जौनपुर। रेलवे बोर्ड ने वाराणसी - लखनऊ के बीच चलने वाली बोर्ड को मुनाफा देने वाली वरुणा एक्सप्रेस ट्रेन को अब पूरी तरह बन्द कर दिया है। इस आशय की जानकारी लखनऊ रेलवे के डीआरएम ने दूरभाष के जरिए दी है। वरूणा एक्सप्रेस की जगह एक बार फिर दावा किया कि 17 नवम्बर 21 से वाराणसी और लखनऊ के बीच शटल ट्रेन चलने जा रही है। जो सुपर फास्ट ट्रेन है। यह ट्रेन वाराणसी से सुबह चलेगी जौनपुर सिटी रुकेगी यहां से सुल्तानपुर निहालगढ़ फिर सीधे लखनऊ स्टेशन पर नजर आयेगी। 
डीआरएम ने बताया कि शटल ट्रेन संचालन के बाबत आज ही रेलवे बोर्ड से कान्फ्रेंसिंग के जरिये योजना बनी है एक दो दिन में इसके टिकट बुकिंग आदि सभी जानकारियां नेट के जरिए देखी जा सकेगी। हलांकि इस ट्रेन का किराया वरुणा की अपेक्षा कुछ मंहगा होगा और ट्रेन में रिजर्व रेशन की बोगियां चेयरकार आदि की अधिक होने की संभावना है। 
यहां बता दे कि वरुणा एक्सप्रेस ट्रेन में जनरल कोच अधिक होते थे जिसका परिणाम होता था कि कम किराए में आम और गरीब लखनऊ कानपुर तक की यात्रा कर लेता रहा लेकिन शटल ट्रेन में आम और गरीब यात्रियों के लिए समस्या संभावित है। डीआरएम ने यह भी कहा कि शटल ट्रेन संचालन की योजना काफी दिनों से बन रही थी जो अब 17 नवम्बर 21  से मूर्त रुप लेने जा रही है। 
इसी क्रम में मिनिस्ट्री आफ रेलवे बोर्ड नयी दिल्ली के पत्रांक संख्या 2021/सीएचजी/33/7 से डिप्टी डायरेक्टर जनरल रेलवे राकेश कुमार के हस्ताक्षर से जारी पत्र के संदर्भ में चर्चा करने पर डीआरएम ने बताया कि इस पत्र का आशय यह है कि जो ट्रेने स्पेशल करके कोरोना काल के बाद चलायी जा रही थी और उनके किराये भी अधिक होते रहे अब ऐसी सभी ट्रेनो को उनके पुराने नवम्बर से चलाया जायेगा और किराया भी पहले जैसा होगा। 
डीआरएम का मानना है कि रेलवे बोर्ड की इस व्यवस्था से जनरल यात्रिओं को बड़ी राहत मिल सकेगी साथ ही अब यात्रियों का किराया भी कम लगेगा। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ड्रेस के लिए बच्चे को पीटने वाला प्रिन्सिपल अब पहुंचा सलाखों के पीछे

14 और 15 दिसम्बर 21को जौनपुर रहेंगे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव,जानें क्या है कार्यक्रम

ओमिक्रॉन से बढ़ी दहशत,पूर्वांचल के जनपदो में भी मिलने लगे संक्रमित मरीज,प्रशासनिक तैयारी तेजम