संविधान की सार्थकता तभी जब लोग इसे अपने जीवन में उतारे - प्रो निर्मला एस.मौर्य कुलपति

पीयू में धूमधाम से मनाया गया गणतंत्र दिवस समारोह उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों का प्रशस्तिपत्र और अंगवस्त्रम से सम्मान महिला शक्ति समेत कुल 75 लोगों को कुलपति ने किया सम्मानित

 जौनपुर । वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में बुधवार को गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान सरस्वती सदन में कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य ने ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों और नारी शक्ति समेत 75 से अधिक लोगों को कुलपति ने सम्मानित किया।
समारोह में विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य ने सभी को गणतंत्र दिवस की बधाई देते हुए कहा कि देश के विकास के बारे में सोचने से ही राष्ट्र की उन्नति हो सकती है। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति की पहचान उसके काम से होती है न की उसके पद से। हम जिस संस्था या क्षेत्र में कार्य करते हैं वहां आदर्श के साथ-साथ यथार्थ का पालन करके उस संस्था को शीर्ष पर ले जा सकते हैैं। उन्होंने मौलिक अधिकार के 11 कर्तव्यों को पढ़कर इसे हर व्यक्ति को जीवन में उतारने की प्रेरणा दी। उन्होंने कहा कि‌ संविधान की सार्थकता तभी साबित होगी जब इसे लोग अपने जीवन में ईमानदारी से उतारें। इसके पूर्व कुलपति जी ने वीर बहादुर सिंह, महात्मा गांधी एवं मां सरस्वती की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की। इससे पूर्व कुलपति जी को सुरक्षाकर्मियों ने गार्ड आफ आनर दिया। इसके बाद संगोष्ठी भवन समारोह में डॉ. बीबी तिवारी, डॉ. मनोज मिश्र, डॉ. रसिकेश, परीक्षा नियंत्रक वीएन सिंह और डॉ. दीपक मौर्य ने देशभक्ति के गीत प्रस्तुत कर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया।


समारोह का संचालन राजनारायन सिंह ने किया। इस अवसर पर कुलसचिव महेंद्र कुमार, वित्त अधिकारी संजय राय, परीक्षा नियंत्रक श्री व्यास नारायण सिंह,  प्रो. मानस पांडेय,  प्रो.वंदना राय,  प्रो .अविनाश पाथर्डीकर,  प्रो. अजय‌ द्विवेदी, प्रो. एके श्रीवास्तव,  प्रो.अजय प्रताप सिंह,  प्रो. रामनारायण,   प्रो. देवराज सिंह,  डॉ. संदीप सिंह,  डॉ. मनोज मिश्र, डॉ राजकुमार,  डॉ. रसिकेश,  डॉ. संतोष कुमार,  डॉ.मनीष कुमार गुप्ता,  डॉ. प्रमोद यादव,  डॉ. सुनील कुमार, डा. दिग्विजय सिंह राठौर,  डॉ. प्रमोद कुमार, डॉ. अवध बिहारी सिंह, डाॅ राकेश यादव,  डा. जाह्नवी श्रीवास्तव, अन्नु त्यागी, डॉ. झांसी मिश्रा, डॉ विनय वर्मा, सहायक कुलसचिव अमृतलाल, बबिता सिंह, दीपक सिंह, करुणा निराला,  डा. लक्ष्मी मौर्य, संतोष मौर्य, रामजी सिंह, डा. पीके सिंह कौशिक,  अमलदार यादव,  स्वतंत्र कुमार, रामसमुझ राम, सुबोध पांडेय, श्याम श्रीवास्तव, रजनीश सिंह, राजेश सिंह, रमेश पाल, सत्येन्द्र कुमार, ईश्वर श्रीवास्तव समेत सभी संकायाध्यक्ष, विभागाध्यक्ष, कर्मचारी और विद्यार्थी मौजूद थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भीषण सड़क दुर्घटना में दस लोगो की मौत दो दर्जन गम्भीर रूप से घायल, उपचार जारी

यूपी में जौनपुर के माधोपट्टी के बाद संभल औरंगपुर जानें कैसे बना आइएएस आइपीएस की फैक्ट्री

सरकार ने प्रदेश के इन 12 आईपीएस अधिकारियों का किया तबादला