आईजीआरएस की समीक्षा बैठक बेहतर कार्य करने वाले अधिकारी को मिला प्रसस्ति, नेगेटिव फीडिंग वालो को डीएम की फटकार



जौनपुर। आईजीआरएस की समीक्षा बैठक में उत्कृष्ट कार्य करते हुए जनपद को प्रदेश के सरकारी आंकड़े में टाप 04 में पहुंचाने वाले अधिकारियो को कलेक्ट्रट स्थित सभागार में प्रशस्ति पत्र देते हुए जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने कहा कि भविष्य में समस्याओ के निस्तारण की यह स्थिति बनी रहनी चाहिए। 
जिलाधिकारी ने कहा अधिकारियों के सक्रिय प्रयास से जनपद प्रदेश में टॉप 04 रैंक में पहुंच गया है। सभी अधिकारी बधाई के पात्र है। इसे भविष्य में भी बनाये रखे। आईजीआरएस में उत्कृष्ट कार्य करने पर उप जिलाधिकारी अंकित कुमार, कुणाल गौरव, लाल बहादुर, ज्योती सिंह, अर्चना ओझा, नितिश कुमार, माज अख्तर, तहसीलदार अमित त्रिपाठी, पवन कुमार सिंह, राम सुधार, महेन्द्र बहादुर, प्रतीक उपाध्याय, जवाहर सोनकर, पंकज श्रीवास्तव, रूचि, रवि कुमार, थानाध्यक्ष सुरेरी श्रीप्रकाश राय  को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया ।
जिला विद्यालय निरीक्षक के स्तर पर शत- प्रतिशत नेगेटिव फीडबैक आने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए जिला विद्यालय निरीक्षक को स्पष्टीकरण देने का निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिया। एडीओ पंचायत बदलापुर के 09 डिफाल्टर होने पर स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि शिकायतो के निस्तारण के दौरान स्थलीय सत्यापन करते हुए शिकायतकर्ता से वार्ता की जाए और उन्हें संतुष्ट किया जाए। 
बैठक में जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को आईजीआरएस से सम्बंधित बारीकियों को विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि शिकायतो की डिफॉल्टर की श्रेणी में न जाने दे। अगस्त में जितने भी फीडबैक नेगेटिव आये है उन अधिकारियों को निर्देश दिया कि एक-एक शिकायकर्ता से बात करें। 
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामप्रकाश, अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व रजनीश राय सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भीषण सड़क दुर्घटना में दस लोगो की मौत दो दर्जन गम्भीर रूप से घायल, उपचार जारी

यूपी में जौनपुर के माधोपट्टी के बाद संभल औरंगपुर जानें कैसे बना आइएएस आइपीएस की फैक्ट्री

जानिए इंटर के छात्र ने प्रधानाचार्य को गोली क्यों मारी, हालत नाजुक, छात्र पुलिस पकड़ से दूर