10 वीं मोहर्रम के जलूस में राष्ट्र विरोधी पाकिस्तान जिन्दाबाद का लगा नारा, 33 आरोपी भेजे गए जेल लगेगी रासुका


जौनपुर। जनपद के थाना मीरगंज स्थित गोधना बाजार में 29 जुलाई 10वीं मुहर्रम पर निकाले गये ताजिए के जलूस में पाकिस्तान जिन्दाबाद जैसे भारतीय राष्ट्र विरोधी नारे लगाने का वीडियो वायरल होते ही पुलिस प्रशासन ने गम्भीरता से लेते हुए लगभग 33 असामाजिक तत्वो के खिलाफ धारा 153ए, 153 बी,285ए,188, और 505 भादवि के तहत मुकदमा दर्ज करने के बाद कुल 33 लोगो को गिरफ्तार कर दर्ज मुकदमे के तहत जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया है।
बता दे कि 29 जुलाई का आपत्तिजनक नारे का वीडियो 31 जुलाई को सायंकाल शोसल मीडिया पर वायरल होने के बाद स्थानीय पुलिस हरकत में आई और पुलिस ने आनन फानन में 33 लोगों को हिरासत में लिया है। सभी से पूछताछ की फिर सभी को दर्ज मुकदमा उपरोक्त में चालान कर जेल भेज दिया है। खबर है कि इस घटना के बाद से 
प्रशासनिक अधिकारियों सहित गोधना गांव में कई थानों की पुलिस बल तैनात है। इससे गोधना बाजार समेत आस-पास का इलाका पुलिस छवनी में तब्दील रहा। वीडियो में शामिल अन्य की भी तलाश जारी है।

बीते शनिवार 28 जुलाई को मुहर्रम पर जगह-जगह से ताजिया के साथ जुलूस निकाला गया। इसी क्रम में थाना मीरगंज क्षेत्र में किशुनदासपुर से एक ताजिया निकला, जिसे अगहुआ चौक पर ले जाकर दफन किया गया। इस दौरान रास्ते में शिव मंदिर के समीप प्राथमिक विद्यालय के पास पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए, जो वीडियो में साफ- साफ सुनाई दे रहा है। इसमे एक युवक माइक पर तरह-तरह के नारे लगवा रहा था।

घटना को लेकर परशुराम सेवा संस्थान चौकिखुर्द के पदाधिकारियों ने उच्चाधिकारियों को मामले से अवगत कराया। हालांकि इसके पहले ही प्रशासन की ओर से इसका संज्ञान ले लिया जा चुका था। सीओ अतर सिंह ने कहा कि मामले की जांच की जा रही गई। नारा लगाने वालो को हिरासत में लिया जा रहा है। ऐसा करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस घटना के बाबत अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शैलेंद्र सिंह ने जारी अपने बयान में स्पष्ट रूप से संकेत दिया है कि सभी असामाजिक तत्वो के खिलाफ साक्ष्य संकलित किये जा रहे है सभी के खिलाफ राष्ट्र विरोधी गति विधियों जैसी कार्रवाई संभावित है।

Comments

Popular posts from this blog

स्वामी प्रसाद मौर्य के कार्यालय में तोड़फोड़ गोली भी चलने की खबर, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

सड़क चौड़ीकरण के लिए जानिए कौन कौन से मन्दिर टूटने के कगार पर ,क्या है लोक निर्माण विभाग की योजना

लोकसभा चुनाव के लिए सायंकाल पांच बजे तक मतदान का प्रतिशत यह रहा