गबन के आरोप में बेसिक शिक्षा अधिकारी हुए निलंबित, मामले की जांच मिली संयुक्त शिक्षा निदेशक को


उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जनपद के बेसिक शिक्षा अधिकारी को गबन के आरोप में निलंबित कर दिया गया। इस संबध में विशेष सचिव आरबी सिंह ने बताया कि बेसिक शिक्षा अधिकारी वण कुमार गुप्ता के उपर छात्रवृति, अध्यापकों के समायोजन सहित बहुत सारे आरोप लगे है। विशेष सचिव आरबी सिंह ने बताया की शिक्षकों के सीसीएल स्वीकृति मनमाने ढंग से किया है। यही नहीं बेसिक शिक्षा अधिकारी वण कुमार गुप्ता ने ब्लाक स्तरीय प्रशिक्षण के दौरान, जो जलपान पर धन राशि खर्च होती है, उसमें भी अनियमितता मिली है। विशेष सचिव आरबी सिंह ने बताया की वण कुमार गुप्ता द्वारा कस्तूरबा गांधी विद्यालय में बच्चों की कम उपस्थित होने के बावजूद भी अभिलेखों में छेड़छाड़ किया गया है। यही नहीं वण कुमार गुप्ता ने संविदा कर्मियों के अनुपस्थिति के बावजूद भी वेतन भुगतान किया था।
मामले की जांच के लिए आजमगढ़ मंडल के संयुक्त शिक्षा निदेशक को अधिकारी बनाया गया विशेष सचिव आरबी सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि बेसिक शिक्षा अधिकारी वण कुमार गुप्ता ने परिषदीय शिक्षकों को वगैर ठोस कारण के ही निलंबित किया था। इन सभी मामलों के बाद राज्यपाल द्वारा स्वीकृती पर कार्यवाही की गई है। इस संबंध में जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने बताया की बहुत सारे अनियमितता मिलने के चलते शासन द्वारा बेसिक शिक्षा अधिकारी वण कुमार गुप्ता के उपर कार्यवाही की गई है। वही इस मामले की जांच के लिए आजमगढ़ मंडल के संयुक्त शिक्षा निदेशक को मामले का जांच अधिकारी बनाया गया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज

यूपी के गांव में जमीनी विवाद खत्म करने के सरकार ने बनायी यह योजना,नहीं होगी मुकदमें की नौबत