बेनतीजा रही भाजपा अपना दल की बैठक, दोनों में खींच तान जारी, खुली सबकी पोल, चार प्रत्याशी मैदान में एक का नाम वापस


जौनपुर। जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव को लेकर आज पूरे दिन नामांकन वापसी के समय तक भाजपा और अपना दल के बीच बैठकों के साथ ही रस्सा कस्सी चलती रही कोई निर्णय न होने पर अपना दल ने अपने डमी प्रत्याशी का नाम वापस कराया अब चार प्रत्याशी जिले का प्रथम नागरिक बनने के लिए चुनावी मैदान में डटे हुए है। कौन बनेगा प्रथम नागरिक यह तो तीन जुलाई को साफ होगा लेकिन जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव की लड़ाई अब खासी रोचक होने की प्रबल संभावना दिख रही है।
यहां बता दें नामांकन दाखिला के दूसरे दिन अपना दल के राष्ट्रीय महासचिव पप्पू माली ने मीडिया से रूबरू हो कर भाजपा पर सीधे आरोप जड़ा कि भाजपा गठबन्धन धर्म नहीं निभा रही है। भाजपा के बागी प्रत्याशी को सपोर्ट कर रही है अपना दल ने भाजपा पर दबाव बनाया कि भाजपा की बागी प्रत्याशी नीलम सिंह पत्नी रमेश सिंह पुत्र बधू पूर्व सांसद हरिवंश सिंह का नामांकन वापस कराया जाये। भारी दबाव के बाद आज भाजपा और अपना दल एस के नेताओ की संयुक्त बैठक पीडब्लूडी के अतिथि गृह में हुई। बैठक में भाजपा ने बागी प्रत्याशी को बुलाया। प्रत्याशी की तरफ से उसके ससुर पूर्व सांसद हरिवंश सिंह बैठक में शामिल हुए। बैठक में वार्ता के दौरान जो बातें सामने आयी वह खासा चौकानें वाली रही है। पूर्व सांसद हरिवंश सिंह ने कहा हमने भाजपा से टिकट मांगा पार्टी ने टिकट नहीं दिया हम निर्दल चुनाव लड़ रहे है। धनन्जय सिंह ने भी अपना दल एस के पास टिकट के लिए आवेदन किया था अपना दल ने उन्हें भी टिकट नहीं दिया वह भी निर्दल चुनाव मैदान में है। हम भाजपा के कहने पर नामांकन वापस ले लेंगे लेकिन हमारी शर्त है कि अपना दल भी धनन्जय सिंह के पत्नी श्री कला सिंह रेड्डी का नामांकन वापस करादे हम भी अपना नामांकन वापस ले लेंगे।इस पर अपना दल एस नेता पीछे हट गये और कोई बात तय नहीं हो सकी।
हलांकि भाजपा के नेतागण कहते हम गठ बन्धन धर्म निभाते हुए अपना दल एस के साथ खड़े नजर आयेंगे।

अपना दल की सुनीता वर्मा द्वारा नामांकन पत्र वापस लेने के बाद अब चुनाव मैदान में सपा की निशी यादव, एनडीए गठबन्धन से रीता पटेल, एवं निर्दल प्रत्याशी के रूप में नीलाम सिंह पुत्रबधू पूर्व सांसद हरिवंश सिंह तथा श्री कला सिंह रेड्डी पत्नी पूर्व सांसद एवं बाहुबली नेता धनन्जय सिंह कुल चार लोग चुनाव में डटे हुए है। इस चुनाव को लेकर अपना दल एस और भाजपा के बीच तकरार के दौरान एक बात और सामने आयी है कि पर्दे के पीछे से अपना दल एस के राजनैतिक खेल में पूर्व सांसद धनन्जय सिंह की भूमिका मानी जा रही है। अपना दल धनन्जय सिंह की पत्नी को टिकट देना चाह रहा था लेकिन उपर के दबाव के कारण यह संभव नहीं हो सका है। भाजपा के एक जिम्मेदार नेता ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर बताया कि अपरोक्ष रूप से अपना दल निर्दल प्रत्याशी श्री कला सिंह रेड्डी के पक्ष में है।
अब राजनैतिक समीक्षक मानते है कि इस चुनाव में दल की कोई बात नहीं होती है क्योंकि सदस्य जो अधिक पैसा देता है उसी के हाथ बिकने को तैयार बैठे है कुछ तो कीमत भी वसूल चुके है। जो भी हो जो स्थिति है उसमें चुनाव खासा रोचक नजर आ रहा है किस महिला के भाग्य में प्रथम नागरिक बनना है यह तीन जुलाई को साफ हो सकेगा। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक

पूर्वांचल की राजनीति का एक किला आज और ढहा, सुखदेव राजभर का हुआ निधन