शोध शिक्षण में संघर्ष निरंतर जारी रहेगा-डॉ मोहम्मद मोईद खान



जौनपुर । शहर स्थित बलुवाघाट निवासी रज़ा डीएम(शिया) इंटर कॉलेज के पूर्व प्रवक्ता मोहम्मद जमा खान के बड़े पुत्र मोहम्मद मोईद खान ने पीएचडी की उपाधि प्राप्त की इनकी प्रारंभिक शिक्षा जौनपुर के मॉडल चिल्ड्रन एकेडमी मखदूम शाह अढ़न में हुई कक्षा 6 से इंटरमीडिएट तक की शिक्षा नेहरू बालेद्यान इंटर कॉलेज हुसैनाबाद जौनपुर में हुई इन्होंने सन् 2008 में हाईस्कूल में जनपद में पहला स्थान एवं प्रदेश में छठा स्थान प्राप्त किया इंटरमीडिएट में कॉलेज में प्रथम स्थान प्राप्त किया पहले ही प्रयास में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में बीएससी का प्रवेश पाकर शिक्षा ग्रहण किया और बीएससी में अंतिम वर्ष में प्रथम स्थान प्राप्त किया था एवं बीएचयू से ही भौतिक विज्ञान से एमएससी कि शिक्षा प्राप्त करके गोल्ड मेडल से सम्मानित हुए एमएससी के अंतिम वर्ष में ही उन्होंने यूजीसी के तहत जेआरएफ परीक्षा मे देश में 15वीं रैंक प्राप्त की इसके बाद इनका चयन एशिया की सबसे बड़ी शोध संस्था आईआईएससी बैंगलोर में भौतिक विज्ञान में शोध के लिए चयन हुआ छः वर्षों से निरंतर संघर्षों के साथ 8 जून 2021 को पीएचडी की उपाधि प्राप्त की, पिछले वर्ष इंटरनेशनल विज्ञान सेमिनार के लिए (यूएसए)अमेरिका में कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी,न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी आदि अनेकों यूनिवर्सिटी में अपनी प्रतिभागीता के साथ अपने शोध विषय पर संबोधन भी प्रस्तुत किया था इस पीएचडी की उपाधि प्राप्त होने के बाद मोहम्मद मोईद खान ने शोध के गाइड प्रोफेसर एवं अपने माता-पिता परिवार के समस्त सदस्यों और शोध के दौरान अनेकों मित्रों के सहयोग से यह सफलता प्राप्त हुई है इस सुनहरे पल पर मरहूम नेता अब्बा,चाचा,बड़ी अम्मी को याद किया और कहा हमेशा शोध शिक्षण में निरंतर प्रयास जारी रहेगा एवंम भौतिक विज्ञान को एक नई ऊंचाई तक पहुंचाने का संकल्प भी पूरा किया जाएगा।



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन