जिला पंचायत योजना समिति के चुनाव में आरक्षण के तहत ही सदस्य संख्या रहेगी - राम प्रकाश एडीएम वित्त



जौनपुर। अपर जिलाधिकारी वित्त राजस्व/उप जिला निर्वाचन अधिकारी (पं0) राम प्रकाश ने जिला पंचायत के समस्त निर्वाचित सदस्यो को अवगत कराया है कि जिला पंचायत योजना समिति के सदस्यों के निर्वाचन में कार्रवाई की जानी है। जनपद में जिला पंचायत के निर्वाचित सदस्यों में से जिला योजना समिति के लिए 30 सदस्य निर्वाचित होने हैं, जिसमें से 02 पद अनुसूचित जाति महिला के लिए, 05 पद अनुसूचित जाति के लिए, 05 पद अन्य पिछड़ा वर्ग महिला के लिए, 03 पद अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए, 05 पद अनारक्षित वर्ग महिला के लिए तथा 10 पद अनारक्षित वर्ग के लिए है। नामांकन पत्र का मूल्य अनारक्षित वर्ग के लिए रू. 500 तथा आरक्षित वर्ग के लिए रु. 250 निर्धारित है। नामांकन पत्र पर उम्मीदवारों की फोटो चस्पा की जाएगी। 02 प्रस्तावक एवं 02 अनुमोदक होंगे जो जिला पंचायत से निर्वाचित सदस्य होंगे। उम्मीदवार नामांकन पत्र पर नामांकन के लिए सहमति देने के लिए स्वयं हस्ताक्षर करेंगे। यदि कोई निर्वाचित सदस्य आरक्षित स्थान से निर्वाचन लड़ना चाहता है तो वह नामांकन पत्र के साथ जिला के मुख्य कार्यपालक अधिकारी द्वारा प्रदत्त प्रमाण-पत्र नामांकन पत्र के साथ प्रस्तुत करेंगे। आरक्षित स्थान से निर्वाचन लड़ने पर नामांकन पत्र के साथ सक्षम प्राधिकारी द्वारा निर्मित जाति प्रमाण पत्र की प्रमाणित प्रति संलग्न करनी होगी। प्रत्याशी एक से अधिक किंतु अधिकतम तीन सेट में नामांकन पत्र प्रस्तुत कर सकता है। एक व्यक्ति केवल 1 वर्ग के लिए नामांकन पत्र प्रस्तुत कर सकता है, एक से अधिक वर्ग के लिए नामांकन पत्र प्रस्तुत करने पर सभी नामांकन पत्र अवैध समझे जाएंगे। उत्तर प्रदेश जिला योजना समिति नियमावली 2008 नियम-8 के अधीन तैयार की गई सदस्यों की सूची में किसी व्यक्ति का नाम होना इस बात की निश्चयात्मक साक्ष्य होगा कि वह जिला योजना समिति के सदस्य पद पर निर्वाचन के लिए अर्ह है। नामांकन पत्र के साथ जिला पंचायत के सदस्य पद के लिए निर्वाचित होने का प्रमाण-पत्र की छाया प्रति संलग्न की जाएगी। निर्वाचन में मतदान गुप्त मतपत्र द्वारा होगा। मतदाताओं द्वारा मत स्वयं ही डाले जाएंगे और कोई मत प्रतिनिधिक मतदान द्वारा नहीं स्वीकार किया जाएगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन