पश्चिमी उत्तर प्रदेश की खण्ड पीठ को लेकर हाईकोर्ट के अधिवक्ताओ का प्रदर्शन,जानें क्या रही मांग


इलाहाबाद हाईकोर्ट के वकीलों ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में उच्च न्यायालय की खंडपीठ को लेकर केंद्रीय कानून राज्य मंत्री एसपीएस बघेल के बयान के विरोध में प्रदर्शन कर आक्रोश जताया।
हाईकोर्ट बार के पूर्व संयुक्त सचिव प्रशासन संतोष कुमार मिश्र के नेतृत्व में अंबेडकर चौराहे पर प्रदर्शन के दौरान सभा में वक्ताओं ने कहा कि केंद्रीय कानून राज्य मंत्री एसपीएस बघेल का बयान उच्च न्यायालय के गौरवशाली इतिहास व अस्मिता के विपरीत है, जिससे खिलवाड़ वकील किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे। वकीलों ने मंत्री के बयान की भर्त्सना भी की।
गौरतलब है कि केंद्रीय कानून राज्य मंत्री एसपीएस बघेल ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट की खंडपीठ स्थापित करने का आश्वासन दिया है।विरोध प्रदर्शन करने वालों में अनुज मिश्र, ॠतेश श्रीवास्तव, सुभाष यादव, विवेक पाल, विश्वनाथ मिश्र, अमरेंद्र राय, अमरेंदु सिंह, हरिमोहन केसरवानी, केके यादव, अनूप सिंह, कमल नारायण सिंह, अवधेश यादव, जनार्दन यादव,विनय मिश्र, निखिल चंद्र उपाध्याय, अतुल दुबे आदि शामिल थे। उधर, अधिवक्ता मनीष द्विवेदी, आशुतोष तिवारी आदि ने एसपीएस बघेल के उक्त बयान की निंदा करते हुए हाईकोर्ट बार के अध्यक्ष व महासचिव को पत्र भेजकर मांग की कि क्षेत्रीय सांसद, विधायकों आदि से केंद्रीय मंत्री के उक्त बयान का खंडन कराएं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

चाचा भतीजी में हुआ प्यार, फिर फरार, पकड़े जाने पर हुई दैहिक समीक्षा, अब शादी की तैयारी

58 हजार ग्राम प्रधानो को लेकर योगी सरकार ने लिया अब यह फैसला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम