एटीएस टीम ने सस्ते दर पर इंटरनेशनल काल पर राजस्व को क्षति पहुंचाने वाले तीन लोंगो को गिरफ्तार कर भेजा जेल


जौनपुर। सुरक्षा में सेंध को लेकर एंटी टेररिस्ट स्क्वायड (एटीएस) ने शुक्रवार की रात में नगर कोतवाली क्षेत्र के सिपाह स्थित एक घर में छापा मारा और पिता व दो पुत्रों को धर दबोचा। उन पर प्राइवेट टॉवर मशीन लगाकर देश-विदेश में सस्ते दर पर बात कराकर राजस्व का नुकसान कराने का आरोप है। एटीएस ने कोतवाली में विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कराकर तीनों को जेल भेज दिया।
लखनऊ व वाराणसी एटीएस की टीम शुक्रवार रात करीब साढ़े आठ बजे रासमंडल वार्ड के सिपाह मोहल्ले में पहुंची। जहां से वसीम खान व उसके दो पुत्रों सलीम खान व मुस्तकीम खान को पकड़कर कोतवाली ले गई। उनके घर से एक ऐसी प्राइवेट टावर मशीन मिली, जिससे सस्ते दर पर बात कराई जाती है। साथ ही कई सिम व कुछ डाटा केबल भी बरामद हुए।
एटीएस ने कोतवाली में देररात तक धोखाधड़ी, षड़यंत्र रचने, इंडियन टेलीग्राफी वायरलेस एक्ट 1933 के तहत मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस से बातचीत में पता चला कि आरोपी जिले में दो से तीन माह से रह रहे थे। उसके पहले मुंबई में रहते थे। जहां उनका इस तरीके के गलत कारोबार करने वालों से संपर्क हुआ। यह वहां पर भी इसका काम करते थे।
एटीएस अब इन आरोपियों से पूछ-ताछ करके विवेचना में लगी हुई है। जिससे यह साफ हो सके कि इस गिरोह द्वारा सिर्फ सस्ते दर पर बात ही कराया जाता था या फिर देश विरोधी गतिविधियों में भी संलिप्तता थी। यह तो जांच पूरी होने के बाद सामने आ सकेगा। इस संबंध में सीओ सिटी कुलदीप कुमार ने बताया कि आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। बाकी बातें विवेचना के बाद स्पष्ट हो सकेगी।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुरिया दूल्हा स्टेज पर पिया गांजा तो दुल्हन ने किया शादी से इन्कार,पुलिसिया हस्तक्षेप के बाद बगैर दुल्हन के लौटे बाराती

एक लाख रुपए घूस लेते हुए लेखपाल चढ़ा एन्टी करप्शन टीम के हाथ पहुंच गया सलाखों के पीछे जेल

सड़क दुर्घटना में सिपाही की मौत विभाग में शोक की लहर