नौतपा के चलते चढ़ते पारा से झुलस रहा जन मानस,जानें कब तक मिलेगी इससे मिलेगी निजात

 
चढ़ता हुआ पारा, भीषण लू के बीच अपने ही रिकार्ड को तोड़ते हुए मंगलवार को उत्तर प्रदेश मई में अब तक सबसे गर्म रहा। एक साथ गर्मी ने कई रिकॉर्ड तोड़े। झांसी में पारा 49 डिग्री पहुंच गया, आगरा में दिन का तापमान 48.6 डिग्री रहा और वाराणसी का पारा 47.6 डिग्री रहा। आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के मुताबिक, इससे पहले ये तीनों ही शहर मई माह में इतने गर्म कभी नहीं रहे। झांसी तो गर्मी के मौसम में कभी भी इतना गर्म नहीं रहा। वहीं हमीरपुर में दिन के पारे ने मई 2005 की बराबरी की और यहां पर अधिकतम तापमान 48.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।
मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के मुताबिक, झांसी के 1892 से मौसम का रिकार्ड उपलब्ध है। वहीं आगरा के मौसम का रिकार्ड 1884 यानी 140 वर्षों का रिकार्ड है, जबकि वाराणसी का 1977 यानी 47 वर्षों का रिकार्ड उपलब्ध है। जिन तीनों शहरों में आज तापमान का रिकार्ड टूटा है, वहां इतने वर्षों में इतना गर्म कभी रहा ही नहीं।
इतनी गर्मी पड़ने का कारण क्या है
मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के मुताबिक, ऊपरी क्षोभ मंडल में प्रति चक्रवात सक्रिय है। राजस्थान व पाकिस्तान तप रहे और वहां से गर्म हवा का असर प्रदेश को तपा रहा है। इसी तरह इस वक्त सूर्य धरती के सबसे करीब है, बादल हैं नहीं, इसके कारण सूर्य की किरणें सीधी पड़ रही हैं। अलनीनो प्रभाव गर्मी बढ़ा रहा है। इसी के कारण प्रति चक्रवात यानी एंटी साइक्लोन की स्थिति बनी हुई है।
मथुरा, आगरा, फिरोजाबाद, इटावा, औरैया, जालौन, हमीरपुर, महोबा, झांसी, ललितपुर व आसपास के इलाकों में भीषण लू चलने की चेतावनी जारी की गई है।
यहां हैं ऑरेंज अलर्ट
बांदा, चित्रकूट, कौशांबी, प्रयागराज, फतेहपुर, सोनभद्र, मिर्जापुर, संत रविदास नगर, कन्नौज, कानपुर देहात, कानपुर नगर, बागपत, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, अलीगढ़, हाथरस, एटा, मैनपुरी व आसपास भी लू को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।प्रतापगढ़, चंदौली, फर्रूखाबाद, उन्नाव, रायबरेली, मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, कासगंज व आसपास के इलाकों में भी लू चल सकती है।
जारी की चेतावनी
कौशांबी, प्रयागराज, फतेहपुर, सोनभद्र, मिर्जापुर, जौनपुर, संत रविदास नगर, लखीमपुर खीरी, हरदोई, फर्रुखाबाद, कन्नौज, कानपुर देहात, कानपुर नगर, उन्नाव, अलीगढ़, मथुरा, हाथरस, कासगंज, एटा, आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी इटावा, औरैया, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर, बदायूं, जालौन व आसपास के इलाके।
मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक, आज बुधवार को ऐसे ही हालात रहने के आसार हैं। बृहस्पतिवार से पुरवा हवा का प्रभाव बढ़ने से पछुआ हवा का असर कम होगा। बादलों की आवाजाही शुरू होगी। तराई वाले इलाकों, गोरखपुर, बस्ती, देवीपाटन आदि मंडलों के आसपास बारिश शुरू हो सकती है। इससे कुछ राहत मिलेगी। एक जून को प्रदेश से लू से मुक्ति मिलने के आसार हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष ने खुद को गोली मार कर की आत्महत्या, घर में मच गया कोहराम कार्यकर्ता हैरान

जानिए जौनपुर की दोनो लोकसभा क्षेत्र से भाजपा का सूपड़ा साफ होने के लिए जिम्मेदार कौन थे

भीषण दुर्घटना एक परिवार के आठ सदस्यो की दर्दनाक मौत, पुलिस ने किया विधिक कार्यवाई, इलाके में कोहराम