कोरोना को लेकर फिर बढ़ने लगी है शख्ती,अब रोस्टर बना कर 50 प्रति कर्मचारी करें काम


उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के मामलों ने रिकॉर्ड तोड़ दिया है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने केसों की बढ़ती संख्या को देखते हुए गुरुवार को मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा, वाराणसी, कानपुर, प्रयागराज और बरेली जिलों में रात कर्फ्यू की घोषणा की। राज्य में गुरुवार को 6,023 नए संक्रमित मरीज सामने आए थे। इसी बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि सरकारी और निजी प्रतिष्ठानों में एक दिन में 50 प्रतिशत कर्मी ही आएं।

मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से शुक्रवार को ट्वीट कर कहा गया है, 'यह व्यवस्था बनाई जाए जिसके तहत जनपद लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी तथा कानपुर नगर के सरकारी व निजी प्रतिष्ठानों में एक दिन में 50 प्रतिशत कर्मी ही आएं। इस संबंध में रोस्टर बनाकर उसे लागू किया जाए। चिकित्सकों, पैरा मेडिकल एवं नर्सिंग स्टाफ तथा पुलिस बल को संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए विशेष ध्यान दिया जाए।'

यूपी के लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर, मेरठ, बरेली, सहारनपुर, गाजियाबाद और नोएडा में पहले से ही नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। सरकार ने 500 से अधिक एक्टिव केस वाले जिलों को रात का कर्फ्यू लगाने के लिए अधिकृत किया था। मुरादाबाद के जिलाधिकारी ने बैठक के बाद बताया कि जिले में अब रात 10 से सुबह 6 बजे तक रात्रि कर्फ्यू रहेगा। दिल्ली के पड़ोसी जिलों नोएडा और गाजियाबाद में 17 अप्रैल तक रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रात्रि कर्फ्यू रहेगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक