पिता का क्रिया क्रम निपटाने के बाद युवा नेता लकी यादव निकल पड़े जनता के बीच उनके सुख दुःख का हिस्सा बनने



जौनपुर । पिता की मृत्यु के उपरांत उनका क्रिया क्रम संस्कार पूरा करने के बाद ही पूर्व मंत्री स्व. पारस नाथ यादव के बड़े पुत्र लकी यादव अपने पिता एवं परिवार की विरासत को संभालते हुए पिता की कर्मस्थली को अपना परिवार मानते हुए जनता के बीच लोगों के सुख दुःख में शामिल होने के लिये घर से निकल पड़े हैं। लकी यादव कहते हैं कि मल्हनी की महान जनता हमारे पिता स्व. पारस नाथ यादव जी को सर आंखो पर बैठा कर रखा था। मल्हनी विधान सभा के लोग हमारे परिवार के सदस्य हैं। पिता की अनुपस्थिति में अब हमारा दायित्व है कि हम अपने परिवार के लोगों के सुख दुःख के साथी बने।  इसी क्रम में अब अपने दायित्वों का निर्वहन करने निकल पड़े हैं। 
यहाँ बतादे कि विगत 12 जून 20 को पूर्व मंत्री एवं मल्हनी विधायक तथा सपा के संस्थापक सदस्य पारस नाथ यादव का निधन हो गया  उनका त्रयोदशा कार्यक्रम 24 जून 20 को सम्पन्न हुआ जिसमें जनपद सहित पूर्वांचल ही नहीं प्रदेश के तमाम राजनैतिको ने शिरकत किया और स्व. पारस नाथ जी को श्रद्धा सुमन अर्पित किया। 
पिता की जिम्मेदारियों को पूरा करने के पश्चात पिता के कर्म क्षेत्र की ओर निकल पड़े हैं। आज लकी यादव सपा कार्यकर्ताओं के साथ मल्हनी विधान सभा क्षेत्र के लगभग एक दर्जन गाँवों में लोगों के सुख दुःख में भाग लिया । इस क्रम में गढ़ासेनी गांव में पहुंच कर श्याम लाल यादव के पुत्री की शादी में शामिल हुए तत्पश्चात मल्हनी बाजार में युवाओं सपा से मिल कर कुशल क्षेम जाना फिर रीठी गांव में छोटे लाल गौड़ निधन पर उनके घर पहुंच कर शोक संवेदना व्यक्त किया। 
जनमत है कि पारस नाथ जी के निधनोपरान्त अब जनमानस भी युवा नेता लकी यादव में स्व पारस नाथ जी की छबि देखना चाहती है बता दे कि मल्हनी से पूर्व मंत्री पारसनाथ यादव जी 2012 मे 31 हजार 2017 मे 23 हजार मतो से विजयी हुये थे और इस विजय मे लकी यादव की भूमिका अहम थी। स्व० पारसनाथ यादव के बडे़ सुपुत्र होने के कारण लकी यादव के कंधों पर परिवार के साथ ही साथ पिता की राजनैतिक विरासत सम्भालने को सम्भालने की बडी़ जिम्मेदारी है ।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद