प्राइवेट स्कूल बच्चो के सुरक्षा के साथ कर रहे है खिलवाड़,फिटनेस विहीन बसे दोड़ा रहे है सड़क पर,आरटीओ ने कार्रवाई की दी चेतावनी


जौनपुर। जनपद में मान्टेसरी और प्राइवेट प्राथमिक विद्यालयो के प्रबंधन बच्चो के अभिभावको से किराए के नाम पर धनोपार्जन का खेल जहां कर रहे है वहीं पर बच्चो के सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रहे है। जी हां इसका खुलासा आरटीओ ने विद्यालयो में चलने वाली बसो के फिटनेस को लेकर अपनी रिपोर्ट स्पष्ट कर दिया है। जिले कै कई ऐसे स्कूली वाहन हैं जिनका फिटनेस नहीं है लेकिन फिर भी वे धड़ल्ले से सड़कों पर चल रहे हैं। इन वाहनों से हादसे भी होते रहते हैं। परिवहन विभाग ने ऐसे 116 वाहनों को चिह्नित कर नोटिस भेजा है। अधिकारियों का कहना है कि अगर तय समय सीमा में इन वाहनों का फिटनेस सही नहीं कराया गया तो इन्हें सीज किया जाएगा।
एआरटीओ विभाग में 754 स्कूल वाहन पंजीकृत हैं। इसमें 568 बस जबकि 186 मैजिक वाहन है। इसमें से 75 बस व 41 मैजिक का फिटनेस फेल है। इन्हें विभाग की तरफ से बीते फरवरी माह में नोटिस भेजा गया था, लेकिन अभी तक लोगों ने इन वाहनों की फिटनेस जांच नहीं करवाई है। अब ऐसे अनफिट वाहन में अगर एक भी बच्चा चेकिंग के दौरान मिल गया तो गाड़ी मालिक के साथ स्कूल प्रबंधन पर कार्रवाई होगी। एआरटीओ प्रशासन रमेशचंद्र श्रीवास्तव ने बताया है कि स्कूली वाहनों का मामला बेहद संवेदनशील है। नोटिस भेजे जाने के बाद भी कई संस्थान और स्कूल वाहनों के स्वामी मनमानी कर रहे हैं। ऐसे स्कूली बसें हो या वैन, बच्चों को ले जाती मिलती हैं तो उस वाहनों का पंजीयन निरस्त करने व सीज करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। ऐसे वाहन स्वामी जल्द वाहनों का फिटनेस करवा लें।

Comments

Popular posts from this blog

बाहुबली नेता एवं पूर्व विधायक के परिवार जनों पर फिर मारपीट और छेड़खानी का मुकदमा हुआ दर्ज, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

भाजपा के प्रत्यशियो की दसवीं सूची जारी, मछलीशहर से भी प्रत्याशी घोषित देखे सूची

लोकसभा चुनाव के लिए बसपा की चौथी सूची जारी, जानें किसे कहां से लड़ा रही है पार्टी, देखे सूची