पहले प्रेम, फिर शादी से इनकार,पुलिस की दखल, इसके बाद थाने में हुई शादी, जानें प्रेम कहांनी का खेल


पहले प्रेम,फिर शादी से इन्कार और फिर पुलिस का दखल के बाद शादी। पुलिस  दखल से यहां मामला बिगड़ा नहीं। बल्कि शादी से इन्कार कर रहे प्रेमी को पकड़कर लाया गया। दोनों पक्षों के मां-बाप शादी पर रजामंद हुए और थाना परिसर सात जन्मों के बंधन में बंधने के लिए फेरों का साक्षी बना।
यह मामला है जनपद सुल्तानपुर के मोतिगरपुर थाने की मनीता पुत्री राजदेव निषाद ग्राम खैरहा का। बृहस्पतिवार सुबह मनीता ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। उसने बताया कि वह और दियरा गांव निवासी विकास उर्फ घूरे चौधरी एक दूसरे से प्रेम करते हैं। लेकिन अब किसी कारणवश विकास उससे शादी नहीं करना चाहता। युवती की शिकायत पर पुलिस प्रेमी को पकड़कर थाने ले आई। कुछ ही देर में प्रेमी और प्रेमिका दोनों ही पक्षों के परिजन भी थाने पहुंच गए। वहां काफी देर तक दोनों पक्षों में शादी को लेकर बातचीत हुई और अंतत: दोनों पक्ष शादी पर राजी हो गए।
इसके बाद शाम को थाना परिसर में ही हनुमान मंदिर में परिजनों व पुलिस की मौजूदगी में प्रेमी युगल की शादी कराई गई। इसके गवाह बने घरवालों के साथ ही अन्य लोगों ने वर-वधू को आशीर्वाद भी दिया। थानाध्यक्ष ज्ञानचंद्र शुक्ल ने बताया कि लड़का-लड़की बालिग थे। लड़की स्नातक उत्तीर्ण है। दोनों के परिवारों की सहमति के बाद ही हिंदू रीति-रिवाज के साथ दोनों की शादी संपन्न कराई गई। ग्राम प्रधान सुभाष निषाद, थानाध्यक्ष ज्ञानचंद शुक्ल, राधेश्याम, सोनू तिवारी, राघव सिंह सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

पूर्व सांसद धनंजय सिंह के प्राइवेट गनर को गोली मारकर हत्या इलाके में कोहराम पुलिस छानबीन में जुटी

सपा ने जारी किया सात लोकसभा के लिए प्रत्याशियों की सूची,जौनपुर से मौर्य समाज पर दांव,बाबू सिंह कुशवाहा प्रत्याशी घोषित देखे सूची

21 अप्रैल को जौनपुर पहुंच कर लोकसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार का आगाज करेंगे बाबू सिंह कुशवाहा, जाने क्या है पूरा कार्यक्रम