शिक्षको के विरोध पर समर कैंप कार्यक्रम हुआ स्थगित, जानें अधिकरी क्या कहते है



प्रदेश में बेसिक विद्यालयों में विश्व पर्यावरण दिवस पर पांच से 12 जून तक आयोजित किए जाने वाले समर कैंप को शिक्षक संगठनों के विरोध में स्थगित कर दिया गया है। हालांकि विभाग ने इसका कारण प्रदेश में अत्यधिक गर्मी व हीट वेव बताया है।
विभाग की ओर से शिक्षा मंत्रालय के पत्र का हवाला देते हुए 24 मई को पत्र जारी कर गर्मी की छुट्टियों में पांच से 11 जून तक परिषदीय विद्यालयों में समर कैंप आयोजित करने का निर्देश दिया। इसमें विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से शिक्षकों द्वारा बच्चों को पर्यावरण के प्रति जागरूक किया जाना था। हालांकि इस आदेश के आने के साथ ही विभिन्न शिक्षक संगठनों ने इसका तीखा विरोध शुरू कर दिया था।
शिक्षक संगठनों ने इस मामले में मुख्यमंत्री, बेसिक शिक्षा मंत्री समेत महानिदेशक स्कूल शिक्षा को पत्र भेजकर अपना विरोध दर्ज कराया था। उन्होंने कहा था कि एक तरफ तो प्रदेश में भीषण गर्मी है, साथ ही शिक्षक गर्मी की छुट्टियों में परिवार के साथ बाहर गए हुए हैं। ऐसे में यह आदेश अव्यवहारिक है। इसे निरस्त करने की मांग शिक्षक संगठनों ने की थी।
इसके बाद भी 31 मई को महानिदेशक स्कूल शिक्षा कंचन वर्मा ने संशोधित आदेश जारी कर समर कैंप पांच से 12 जून तक सुबह 7 से 9 बजे तक समर कैंप कराने को कहा। हालांकि एक जून शनिवार को सभी बीएसए, बीईओ को जारी निर्देश में अधिक गर्मी/ हीट वेव के कारण समर कैंप का आयोजन अगले आदेश तक स्थगित करने की सूचना दी है। इस निर्णय से शिक्षकों ने राहत की सांस ली है। हालांकि अभी माध्यमिक के शिक्षकों को इससे राहत नहीं मिली है। वहां से पांच से समर कैंप का आयोजन होना है।

Comments

Popular posts from this blog

सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष ने खुद को गोली मार कर की आत्महत्या, घर में मच गया कोहराम कार्यकर्ता हैरान

जानिए जौनपुर की दोनो लोकसभा क्षेत्र से भाजपा का सूपड़ा साफ होने के लिए जिम्मेदार कौन थे

भीषण दुर्घटना एक परिवार के आठ सदस्यो की दर्दनाक मौत, पुलिस ने किया विधिक कार्यवाई, इलाके में कोहराम