माँ लड़ रही पंचायत का चुनाव, बेटे पर लगा है दुष्कर्म का आरोप जांच शुरू



थाना घिरोर क्षेत्र के एक गांव निवासी युवती को लिफ्ट देकर उसके साथ चलती कार में दुष्कर्म किया गया। जिसका आरोप जनपद कासगंज में तैनात एक सिपाही पर लगा है। पीड़िता की तहरीर पर घिरोर थाना पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। थाना घिरोर क्षेत्र के एक निवासी युवती बीते एक दिन पूर्व शिकोहाबाद स्थित सरकारी अस्पताल से दवाई लेने गई थी। जो शाम के समय घर वापस लौट रही थी। गांव बामई जनपद फिरोजाबाद के पास गांव निवासी धर्मेंद्र उर्फ भूरा मिल गया। उसने अपनी कार से गांव तक छोड़ देने की बात कही। युवती के अनुसार कार में गांव निवासी युवक प्रदीप भी मौजूद था। युवती कार में बैठ गई। पीड़िता का आरोप है कि रास्ते में धर्मेंद्र उसके साथ छेड़खानी करने लगा। उसे एक सुनसान जगह पर ले गए। जहां पर धर्मेंद्र ने साथी प्रदीप की मदद से उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद उसको एक मंदिर के पास उतार कर चले गए। उसे धमकी दी कि यदि शिकायत की तो जान से मार देगा। पीड़िता थाने पहुंची वहां पूरे मामले की जानकारी दी। पीड़िता की तहरीर पर आरोपी और उसके साथी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। पीड़िता के अनुसार आरोपी धर्मेंद्र वर्तमान में पटियाली थाने में सिपाही के पद पर तैनात है। थाना पुलिस का कहना है कि आरोपियों की तलाश की जा रही है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर कार्रवाई की जाएगी।  
आरोपी की मां लड़ रही है प्रधानी चुनाव जानकारी के अनुसार आरोपी सिपाही धर्मेंद्र की मां इस बार प्रधानी का चुनाव लड़ रही हैं। इस वजह से सहयोग के लिए अक्सर सिपाही गांव आता जाता रहता है। मामला दर्ज होने के बाद से वह लापता है। साथी का भी कोई पता नहीं है। बीते दिन पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल कराया है। पीड़ित युवती की तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पीड़िता का मेडिकल कराने के साथ ही न्यायालय में बयान दर्ज कराए गए हैं। आरोपियों की तलाश की जा रही है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज

यूपी के गांव में जमीनी विवाद खत्म करने के सरकार ने बनायी यह योजना,नहीं होगी मुकदमें की नौबत