मुख्यमंत्री की मंशानुरूप बेसिक शिक्षा विभाग में होगा अमूल चूल परिवर्तन- गिरीश चन्द यादव राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार

स्कूल चलो अभियान का शुभारंभ करते हुए रैली की दिखाई हरी झण्डी,उत्कृष्ट कार्य करने वाले हुए सम्मानित 

जौनपुर। स्कूल चलों अभियान कार्यक्रम का शुभारम्भ जब प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्रावस्ती जनपद से कर रहे थे उसी जनपद जौनपुर में भी प्रदेश सरकार के खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार गिरीश चन्द यादव ने भी नगर पालिका परिषद के मैदान से स्कूल चलो अभियान की रैली को हरी डण्डी दिखा कर अभियान का शुभारंभ कर रहे थे। 
रैली अल्फंस्टीनगंज, अटाला मस्जिद, शाही किला, चहारसू चौराहा व कोतवाली चौराहा होते हुए डायट परिसर में भव्य कार्यक्रम के रुप में परिवर्तित हुई। रैली के आगे-आगे आकर्षण रथ चल रहा था जिस पर बच्चे सवार थे और स्कूल चलो स्कूल चलो प्रेरणादायी गीत बजते चल रहे। रैली में परिषदीय विद्यालय के बच्चे, कस्तूरबा गांधी विद्यालय की बालिकाएं, शिक्षक व शिक्षिकाए चल रही थी तथा हाथों में स्कूल चलो जागरूकता तख्ती के माध्यम से लोगों को प्रेरित किया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के भाषण एवं स्कूल चलो अभियान के कार्यक्रम के उद्घाटन समारोह का सजीव प्रसारण, डायट परिसर एवं प्रत्येक विद्यालयों में कराया गया। मुख्यमंत्री ने प्रसारित अपने भाषण में कहा कि शिक्षा जीवन में परिवर्तन का आधार है। उन्होने अभिभावक, शिक्षक, जनप्रतिनिधियों से अपील किया कि घर-घर जाकर स्कूल जाने लायक छात्र-छात्राओं का नजदीक के प्राइमरी स्कूल में नामांकन कराये। उन्होने जनप्रतिनिधियों से अपील किया कि कायाकल्प अभियान के अन्तर्गत एक स्कूल को गोद लें तथा उसमें सोलर पैनल, लाइव्रेरी सहित सभी आधार भूत सुविधाओं की व्यवस्था कराये।उन्होने कहा कि कोरोना अवधि के दो वर्ष के बाद पुनः स्कूल चलों अभियान संचालित किया जा रहा है। कोरोना से प्राथमिक शिक्षा ही सर्वाधिक प्रभावित हुई है। उन्होंने कहा कि बच्चों के ड्रेस, जूता-मोजा, स्वेटर आदि के लिए धनराशि अभिभावक के खाते में भेजी जा रही है। अभिभावको को प्रेरित करके छात्र-छात्राओं को ड्रेस तैयार कराना सुनिश्चित करें।
आयोजित कार्यक्रम में राज्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री के मंशानुरूप हमने कार्य करना आरंभ कर दिया तो बेसिक शिक्षा विभाग में आमूल चूल परिवर्तन होगा। बेसिक शिक्षा विभाग के सौदर्रीकरण का कार्य शुरू किया था वो सपना साकार होते हुए दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि अभिभावकों के मन में जागरूकता उत्पन्न हो रही है कि प्राइमरी से पढ़ा हुआ बच्चा भी डॉक्टर, इंजीनियर, अधिकारी बन सकता है। सभी अधिकारियों से कहा कि इस अभियान का परिणाम धरातल पर दिखना चाहिए। गांव-गांव अभियान चलाकर बच्चों का नामांकन कराया जाए, तन्मयता के साथ इस कार्य में लगे तो निश्चित रूप से बढ़त दिखाई पड़ेगी और मुख्यमंत्री जी के संकल्प को पूरा करने में सफलता प्राप्त होगी।उन्होंने कहा कि बच्चो को शिक्षा के साथ संस्कृति एवं अपनी विरासत के बारे में बताया जाये। पेरेंट्स मीटिंग प्रत्येक 03 महीने में कराना सुनिश्चित करें और खेल-पढ़ाई में प्रतिस्पर्धा का माहौल बनाया जाये तथा बच्चों को अपनी पौराणिक चीजों के बारे में जानकारी प्रदान की जाये। राज्यमंत्री के द्वारा 05 उत्कृष्ट कायाकल्प करने वाले ग्राम प्रधान, 05 एसएमसी अध्यक्ष, 05 उत्कृष्ट शिक्षक, 05 उत्कृष्ट अभिभावक, सत्र 2021-22 में 05 सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।
राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी ने नारी शिक्षा एवं शत-प्रतिशत नामांकन करने की बात कही। बेसिक शिक्षा अधिकारी के द्वारा जनपद के एमडीएम, कायाकल्प, नामांकन और जनपद की शैक्षिक उपलब्धि की विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर परिषदीय स्कूल के बच्चों ने कई सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर सभी को प्रेरित किया तथा प्राथमिक विद्यालय पुलिस लाइन के बच्चों ने देश भक्ति कार्यक्रम प्रस्तुत कर सभी को भावविभोर कर दिया।
यहां बता दे राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी, अपर जिलाधिकारी भू0-राजस्व रजनीश राय, सिटी मजिस्ट्रेट अनिल अग्निहोत्री, जिला विद्यालय निरीक्षक आर0के0 पंडित, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा0 गोरखनाथ पटेल सहित अन्य अधिकारियों ने परिषदीय विद्यालय के बच्चों के साथ मध्यान भोजन ग्रहण किया।इस अवसर पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा सभी को धन्यवाद देते हुए आभार व्यक्त किया गया। कार्यक्रम  में समस्त जिला समन्वयक, खण्ड शिक्षा अधिकारी, उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष, मंत्री एवं अन्य पदाधिकारी, एसआरजी, एआरपी, समस्त शिक्षक एवं शिक्षिकाएं के साथ कार्यालय स्टाफ उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन एआरपी शैलेश चतुर्वेदी एवं नुपुर श्रीवास्ताव द्वारा किया गया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी

खुशखबरी: बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग में मुख्य सेविका पद पर होगी भर्ती,जानें कौन कर सकेगा आवेदन